हिंदू नववर्ष आरंभ, आज से राजा हुए बुध और मंत्री चंद्रमा

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। हिंदू नववर्ष की शुरुआत बुधवार से हो गई है। बुधवार को ही बुध देव राजा के आसन पर विराजमान हो गए हैं। इसके आलवा चंद्र देव मंत्री बन गए हैं।

मराही माता स्थित कपीश्वर हनुमान मंदिर के मुख्य पुजारी उपेंद्र महाराज ने बताया कि विक्रम संवत एक प्राचीन हिंदू पंचांग की गणना प्रणाली है। ऐसी मान्यसता है कि इस दिन ब्रह्माजी ने सृष्टि की रचना का आरंभ किया था। इसी दिन से व्रिकम संवत के नववर्ष का आरंभ माना जाता है। इस संवत्सर का नाम प्रमादी है तथा वर्ष 2077 है। इस बार नव संवत्ससर में नवग्रहों में राजा बुध होंगे और मंत्री चंद्रमा रहेंगे। यानी पूरे साल सभी राशियों पर बुधदेव का आधिपत्यध रहेगा। आइए जानते हैं अब कैसा रहेगा यह एक साल . . .

महिलाओं का रहेगा प्रभाव

इस बार के राजा बुध होने के कारण पूरे वर्ष बुधदेव का आधिपत्यस रहेगा। वहीं बुध चूंकि कन्याध राशि के स्वामी हैं, जो कि महिलाओं के प्रभाव को दर्शाती है। इसलिए यह माना जा रहा है कि इस बार बुधदेव की कृपा महिलाओं पर विशेष रूप से रहेगी। महिलाएं विभिन्न क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करेंगी।

धर्म और आध्या्त्म में रुचि

बुध के राजा होने की वजह से इस वर्ष लोगों का धर्म और आध्योत्म के प्रति झुकाव बढ़ेगा। वर्तमान स्थिति को देखते हुए भी ईश्व र के प्रति लोगों की आस्थाक बढ़ गई हैं। कोरोना का दंश सारी दुनिया झेल रही है, ऐसे में ईश्वरर ही एकमात्र सहारा हैं। बुध के प्रभाव से लोगों को लिखने-पढ़ने से जुड़े कार्यों में सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा और व्याापारियों के लिए उन्नढति वाला वर्ष साबित हो सकता है। हालांकि राजनीतिक हालात संतोषजनक नहीं रहेंगे।

नवसंवत्सतर के राजा बुध

नवसंवत्सतर आज से लग चुका है और इस बार के राजा बुध हैं। इनसे लोगों को बहुत उम्मीतद हैं। पिछले वर्ष के राजा शनि होने के कारण माना जा रहा है कि वर्ष जाते-जाते बुरी यादें छोड़कर जा रहा है। लेकिन इस वर्ष के राजा बुध होने के कारण काफी उम्मीबदें जग रही हैं। माना जा रहा है कि बुध के प्रभाव से इस साल आपके घर में शुभ कार्यों और मांगलिक कार्यों का आयोजन हो सकता है। लोग प्रसन्नभ रहेंगे। मनोरंजन के क्षेत्र में लोगों का झुकाव अधिक रहने वाला है, धन धान्य और सुख सुविधाओं के प्रति भी लोगों का अधिक झुकाव रहेगा।

नवसंवत्सर के मंत्री चंद्रमा

नव संवत्सकर का मंत्री चंद्रमा होने के कारण इस साल आपको भौतिक सुविधाओं का लाभ मिलेगा। इस वर्ष वर्षा अच्छीद होने की उम्मी द है। दूध और सफेद वस्तुओं की अच्छीि खासी उपलब्धअता रहेगी। रस और अनाज में वृद्धि होगी, बाजार में मूल्यों में उतार-चढा़व जल्दी दिखाई देगा। असंतोष और दुविधा हालांकि लोगों के मन में घर सकती है।

धनेश बुध का प्रभाव

इस बार धन के स्वावमी बुध होने के कारण वस्तुुओं का अच्छां खासा प्रभाव हो सकता है। व्यानपार में खासा लाभ आपको मिलेगा और सरकारी खजाने में इस वक्तम धन का इजाफा होगा। धार्मिक क्रिया कलापों में इस साल अच्छार खासा धन आने की उम्मीनद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *