रिलायंस का चौथी तिमाही में नेट प्रॉफिट 38% घटकर 6348 करोड़ रुपए

Jio को 2331 करोड़ रुपए का मुनाफा

(ब्‍यूरो कार्यालय)

मुंबई (साई)। रिलायंस इंडस्ट्रीज का बीते वित्त 2019-20 की चौथी तिमाही का शुद्ध लाभ 38.7 प्रतिशत घटकर 6,348 करोड़ रुपए रह गया।

कंपनी ने बृहस्पतिवार (30 अप्रैल) को यह जानकारी दी। ऊर्जा और रसायन कारोबार के कमजोर प्रदर्शन की वजह से कंपनी का मुनाफा घटा है। इससे पिछले वित्त वर्ष की जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी ने 10,362 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। इसके साथ ही, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 53,125 करोड़ रुपए के राइट्स इश्यू की घोषणा की है। कंपनी का दावा है कि यह देश का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू होगा। इसका मूल्य 1:15 अनुपात में 1,257 रुपए प्रति इकाई होगा।

कंपनी के निदेशक मंडल की बैठक के बाद जारी वित्तीय परिणाम के अनुसार मार्च में समाप्त तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ एक्सेप्शनल आइटम के बाद 6546 करोड़ रुपए रहा है। हालांकि एक्सेप्शनल आइटम से पहले यह मुनाफा 10813 करोड़ रुपए रहा था जो वर्ष 2018-19 की अंतिम तिमाही के 10427 करोड़ रुपए की तुलना में 3.7 प्रतिशत अधिक है। कंपनी ने कहा कि इस तिमाही में उसका राजस्व 15129 करोड़ रुपए रहा जो इससे पिछले वित्त वर्ष के 155151 करोड़ रुपए की तुलना में 2.5 प्रतिशत कम है।

उसने कहा कि मार्च में समाप्त वित्त वर्ष में उसका कुल राजस्व 65925 करोड़ रुपए रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष के 625212 करोड़ रुपए की तुलना में 5.4 प्रतिशत अधिक है। इस अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 39880 करोड़ रुपए रहा जो इससे पिछले वित्त वर्ष के 39837 करोड़ रुपए की तुलना में मामूली 0.1 प्रतिशत अधिक है। कंपनी के निदेशक मंडल ने प्रति शेयर 6.5 रुपए प्रति शेयर लाभांश की भी घोषणा की है।

रिलायंस जियो का चौथी तिमाही शुद्ध लाभ 2,331 करोड़ रुपए

अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो का बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही का शुद्ध लाभ 177 प्रतिशत उछलकर 2,331 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में कंपनी ने 840 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। इस तिमाही में जियो का कुल परिचालन राजस्व 14835 करोड़ रुपए रहा, जो मार्च 2019 में समाप्त तिमाही के 11715 करोड़ रुपए की तुलना में 26.6 प्रतिशत अधिक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *