जानिए क्या क्या रियायत मिल सकती हैं ग्रीन जोन वाले सिवनी को

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। केंद्र सरकार ने देश में कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए लॉक डाउन की अवधि दो हफ्ते और बढ़ा दी है। लॉक डाउन की अवधि 03 मई को समाप्तल हो रही थी। इसे देखते हुए शुक्रवार को गृह मंत्रालय ने लॉक डाउन को दो सप्ताह अर्थात 17 मई तक बढ़ा दिया है।

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पहले ही कह चुकी है कि वह लॉक डाउन मामले में केंद्र सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करेगी। देश में तीसरी मर्तबा लॉक डाउन की अवधि बढ़ाई गई है।

हालांकि गृह मंत्रालय ने लॉक डाउन के लिए रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन के लिए अलग गाइड लाइंस तैयार की है। ग्रीन और ऑरेंज जोन में शर्तों के साथ रियायत दी गई है।

ग्रीन जोन में 50 फीसदी क्षमता तक बसे चलेगी जबकि ऑरेंज जोन में कैब और निजि वाहन की इजाजत होगी। ऑरेंज जोन में व्यक्तियों और वाहनों के अंतर जिला आवागमन को केवल कुछ गतिविधियों के लिए अनुमति दी जाएगी। चौपहिया वाहनों में ड्राइवर के अलावा अधिकतम 2 यात्री होंगे।

ऑरेंज जोन में टैक्सी और कैब एग्रीगेटर्स को एक गाड़ी में केवल 01 ड्राइवर और 01 यात्री की अनुमति दी जाएगी। कुछ गतिविधियां पूरे भारत में सभी जोन में बंद रहेंगी जिसमें हवाई मार्ग, रेल, मेट्रो और सड़क मार्ग द्वारा अंतर्राज्यीय आवागमन सहित स्कूलों, कॉलेजों, और अन्य शैक्षिक और प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थानों का संचालन शामिल है। इसके अलावा शॉपिंग मॉल, पब्स, सिनेमाघर, धार्मिक स्थथल, जिम, पार्क आदि भी पूरी तरह बंद रहेंगे।

ग्रीन और ऑरेंज जोन में ई-कॉमर्स को मंजूरी दी गई है। इन जोन में गैर-जरूरी सामानों की ऑन लाइन डिलीवरी पर छूट दी गई है। ग्रीन जोन में बस डिपो में 50 फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे। लॉकडाउन के दौरान स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थानों को आगामी17 मई तक बंद रखा जाएगा।

इससे पहले केंद्र सरकार ने मध्यल प्रदेश में कोरोना वायरस के रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन वाले जिलों की सूची जारी कर दी है। सरकार द्वारा दी गई सूचना के मुताबिक मप्र में 19 जिले ऑरेंज जोन में शामिल किए गए हैं और 24 जिले ग्रीन जोन में शामिल हैैं।

ऑरेंज जोन वाले 19 जिले : खरगोन, रायसेन होशंगाबाद, रतलाम, आगर-मालवा, मंदसौर, सागर, शाजापुर, छिंदवाड़ा, आलीराजपुर, टीकमगढ़, शहडोल, श्योपुर, डिंडोरी, बुरहानपुर, हरदा, बैतूल, विदिशा, मुरैना इसमें शामिल हैं।

ग्रीन जोन वाले 24 जिले : रीवा, अशोकनगर, राजगढ़, शिवपुरी, अनूपपुर, बालाघाट, भिंड, छतरपुर, दमोह, दतिया, गुना, झाबुआ, कटनी, मंडला, नरसिंहपुर, नीमच, पन्ना, सतना, सीहोर, सिवनी, सीधी, उमरिया, सिंगरौली, निवाड़ी।

इसे कहते ऑरेंज जोन : यहां कोरोना संक्रमण के सीमित मामले देखें गए हैं और सरकार इन क्षेत्रों में सीमीत गतिविधियों को अनुमति दे रही है जैसे खेती कार्य, रोजमर्रा की जरूर कार्य से संबंधित उद्योग आदि। ऑरेन्जत जोन में वे जिले शामिल हैं, जहां बीते 14 दिनों में एक भी कोरोना पॉजिटिव का केस सामने नहीं आया है। फिलहाल देश में 284 जिलों को ऑरेज जोन में शामिल किया गया है।

ग्रीन जोन : ग्रीन जोन वे जिले हैं, जहां कोरोना वायरस का एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है। इन जिलों में आवश्यक सेवाओं के अलावा व्यापारिक गतिविधियों, शराब दुकानों आदि को खोलने की अनुमति स्थानीय प्रशासन दे सकता है। फिलहाल देश में 319 जिले ग्रीन जोन में शामिल हैं।

ग्रीन जोन में किन-किन चीजों की मिलेगी छूट : ग्रीन जोनों में सभी बड़ी आर्थिक गतिविधियों की छूट दे दी गई है। बसें चल सकेंगी, लेकिन बसों की क्षमता 50 फीसद से ज्यादा नहीं होगी। इसी तरह बस डिपो में भी 50 फीसद से ज्यादा कर्मचारी काम नहीं करेंगे। देश के ग्रीन जोन के जिलों में नाई की दुकानें, सैलून समेत अन्य जरूरी सेवाओं और वस्तुएं मुहैया कराने वाले संस्थान भी 4 मई से खुल जाएंगे। सिनेमा हॉल, मॉल, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स आदि बंद रहेंगे।

ग्रीन जोन वालों को ज्यादा छूट मिलेगी : ग्रीन जोन घोषित जिलों में पूरे देश में प्रतिबंधित सेवाओं और एक्टिविटी को छोड़कर अन्य सभी एक्टिविटी को अनुमति दी गई है। ग्रीन जोन में 50 फीसदी लोगों के साथ बसें चल सकती हैं और डिपो में भी 50 फीसदी क्षमता के साथ काम करने की अनुमति होगी।

ग्रीन जोन में शराब और पान की दुकान खोलने की अनुमति! : गृह मंत्रालय के नए निर्देशों में ग्रीन जोन में शराब और पान की दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है लेकिन एक दूसरे से दो गज की दूरी रखनी होगी और एक समय में पांच से ज्यादा लोग मौजूद नहीं रह सकते हैं।

देश में 319 जिले ग्रीन जोन, जबकि 130 जिले रेड जोन में : गृह मंत्रालय द्वारा जारी की गई जिलों की सूची में तीन मई के बाद 130 जिलों को रेड, 284 को ऑरेंज और 319 जिलों को ग्रीन जोन में शामिल किया गया है। वहीं, देश के बड़े शहरों में शामिल दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बंगलूरू, अहमदाबाद को अब भी रेड जोन में ही रखा है। बता दें कि यहां कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

296 thoughts on “जानिए क्या क्या रियायत मिल सकती हैं ग्रीन जोन वाले सिवनी को

  1. Pingback: buy viagra uk
  2. Pingback: otc viagra
  3. Pingback: buy viagra on line
  4. Pingback: online viagra
  5. I have been surfing on-line more than 3 hours lately, yet I never found any fascinating article like yours. It is lovely price enough for me. In my view, if all site owners and bloggers made just right content as you probably did, the internet will probably be much more useful than ever before.

  6. In January pattern year, wee rxlnmy level ill. It’s okay, decent a mild buy cialis generic online, which passed in five days. But the temperature abruptly returned away the ending of the month: the thermometer showed 40. The servant was urgently hospitalized with fever and convulsions. A infrequent hours later, three-year-old Yegor stopped breathing – he fell into a coma. With the help of a ventilator and a tracheostomy, the doctors resumed the trade of the lungs, but oxygen starvation struck the brain. The kid has confounded the aggregate that he managed to learn in three years. The diagnosis is posthypoxic encyphalopathy.

  7. Pingback: http://droga5.net/
  8. Our doctor cerebration that Dad was dialect mayhap even control superiors than Mom in this situation. Stricter, more trying, bequeath not mournfulness once again when you demand to take inconsolable generic cialis. Well, I wanted to send my missus a break.
    I all in a itty-bitty over a month in the concentrated care part and two and a half months in the bone marrow uproot unit. There I became a provider in compensation my son. I’m glad I was adept to cure him. I was the contrariwise gentleman’s gentleman in both departments, but my parents were already there. That is, a handcuff in the repulse with a child is no longer a rarity.

  9. Pingback: Viagra 130mg price
  10. Pingback: Viagra 25mg pills
  11. My coder is trying to convince me to move to .net from PHP. I have always disliked the idea because of the costs. But he’s tryiong none the less. I’ve been using WordPress on several websites for about a year and am worried about switching to another platform. I have heard excellent things about blogengine.net. Is there a way I can transfer all my wordpress posts into it? Any kind of help would be greatly appreciated!

  12. Pingback: viagra pills
  13. Pingback: Viagra 120mg uk
  14. So set the world on fire, we are keeping it established, but every measure something creative comes completely, as Mikhailik’s protection viagra is cruelly weakened. Ungenerous by little we are preparing for the treatment of school, conducive to the next year in the triumph grade.

  15. Pingback: viagra
  16. My coder is trying to convince me to move to .net from PHP.

    I have always disliked the idea because of the costs.
    But he’s tryiong none the less. I’ve been using WordPress on numerous websites for
    about a year and am concerned about switching to another platform.
    I have heard fantastic things about blogengine.net.

    Is there a way I can import all my wordpress posts into it?
    Any kind of help would be really appreciated! https://www.azhydroxychloroquine.com/

  17. We in private met with the neurosurgeon of the Center. Rudnev, who underwent an internship at http://www.cialiswlmrt.com cialis on a ventriculoscope and has since dreamed of such an apparatus. Using it, you can not solely pinch children with IVH – you can probe meningitis, encephalitis, ventriculitis, conduct a brain biopsy, and all this with minimal surgical intervention: a lilliputian incision of 3 cm. Individual of the clinics of the near about conducts 33 types of operations using a ventriculoscopy.

  18. Cavernous disfunction (ED) is the unrelenting unfitness to attain or maintain an hard-on sufficient for satisfactory intimate execution.1 According to information from the Old Colony Manlike Ripening Study, up to 52% of work
    force between the ages of 40 and 70 are stirred by ED.2 Founded on findings from
    the 2001–2002 Subject Health and Alimentation Interrogatory Review (NHANES), it is estimated that 18.4% of hands in the U.S.
    who are 20 eld of eld and old possess ED. http://lm360.us/

  19. Pingback: Cialis 40 mg uk
  20. Pingback: cialis 20mg
  21. Pingback: cialistodo.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *