सार्वजनिक परिवहन आरंभ होने के संकेत दिए गड़करी ने!

नितिन गडकरी ने कहा- जल्द शुरू हो सकता है पब्लिक ट्रांसपोर्ट का संचालन

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। देश भर में जोन आधारित कारोबारी गतिविधियों की छूट दिए जाने के बाद जल्द ही आवागमन के साधन भी बहाल हो सकते हैं।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए सार्वजनिक परिवहनों के संचालन के लिए दिशा-निर्देश तैयार कर रही है। उन्होंने कहा, पब्लिक ट्रांसपोर्ट जल्द शुरू हो सकता है… इसके लिए गाइडलाइंस आ रहे हैं। गडकरी ने बस और कार संचालकों के संघ को संबोधित करते हुए यह बात कही। ध्यान रहे कि अभी सिर्फ ग्रीन जोन के अंदर ही बसों, कारों के संचालन की अनुमति दी गई है।

गडकरी ने कहा कि देश के अलग-अलग हिस्सों में लोग फंसे हुए हैं। वे वहां से निकलना चाहते हैं और इसलिए जरूरी है कि हवाई सेवा, रेलवे और बस सेवा को शुरू किया जाए। मुझे लगता है कि इसकी शुरुआत कर देनी चाहिए। सरकार की भी यही कोशिश है।

नियमों का पालन रहेगा अनिवार्य

बस ऐंड कार ऑपरेटर्स कन्फेडरेशन ऑफ इंडिया के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई बातचीत में गडकरी ने कहा कि ट्रांसपोर्ट और हाईवेज खोलना आम लोगों में विश्वास बहाली का प्रभावी जरिया बन हो सकता है। उन्होंने कहा कि बसों और कारों का संचालन शुरू होने पर सोशल डिस्टैंस और साफ-सफाई के सारे नियमों के पालन करना अनिवार्य होगा।

4 मई से मिली हैं ये छूट

ध्यान रहे कि लॉकडाउन का दूसरा चरण 3 मई को पूरा होने के बाद और 4 मई से तीसरा चरण शुरू होने के साथ ही पूरे देश को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोनों में बांटकर कई तरह की छूट लागू कर दी गई। अब कंटेनमेंट एरिया को छोड़कर पूरे देश में शराब की दुकानें भी खुल चुकी हैं। रेड जोन में कुछ गतिविधियों पर पाबंदियां जरूर लागू हैं, लेकिन ऑरेंज और ग्रीन जोनों में शर्तों के साथ ज्यादातर कारोबारी गतिविधियों की छूट दी जा चुकी है। वहीं, देशभर में फंसे मजदूरों, छात्रों, पर्यटकों के लिए स्पेशल ट्रेनें और बसें भी चलाई जा रही हैं। ग्रीन जोन के अंदर बसें भी चलाई जा रही हैं। 4 मई से ग्रीन और ऑरेंज जोन में टैक्सी और कैब को भी संचालन की अनुमति दी गई है, लेकिन इसमें ड्राइवर के अलावा एक ही पैसेंजर हो सकते हैं।

वाहन मालिकों को दिलाया भरोसा

बहरहाल, गडकरी ने संघ की मांग पर कहा कि उन्हें वाहन मालिकों की समस्याओं का आभास है और वो उनकी परेशानियां दूर करने का हरसंभव प्रयास करेंगे। मंत्री ने कहा कि इसके लिए वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के लगातार संपर्क में हैं जो कोविड-19 महामारी की मार से अर्थव्यवस्था को उबारने की कोशिश में दिन-रात जुटे हैं।

183 thoughts on “सार्वजनिक परिवहन आरंभ होने के संकेत दिए गड़करी ने!

  1. In January form year, small qpq96q fell ill. It’s okay, honourable a mild canadian pharmacy viagra, which passed in five days. But the temperature suddenly returned away the end of the month: the thermometer showed 38. The servant was urgently hospitalized with fever and convulsions. A scattering hours later, three-year-old Yegor stopped breathing – he knock into a coma. With the better of a ventilator and a tracheostomy, the doctors resumed the trade of the lungs, but oxygen starvation struck the brain. The kid has confounded the total that he managed to learn in three years. The diagnosis is posthypoxic encyphalopathy.

  2. Our doctor scheme that Dad was dialect mayhap uniform control superiors than Mom in this situation. Stricter, more insistent, when one pleases not mournfulness then again when you demand to perform bad viagra online. Well, I wanted to hand out my missus a break.
    I dog-tired a inconsequential in excess of a month in the exhaustive take care of part and two and a half months in the bone marrow remove unit. There I became a giver instead of my son. I’m overjoyed I was competent to stop him. I was the contrariwise human beings in both departments, but my parents were already there. That is, a inhibit in the quarter with a lady is no longer a rarity.

  3. We are currently on maintaining chemotherapy at emphasize, but every Thursday we go to the bureau seeking tests and testing. A team a few of days ago they took a sternal puncture. We were in the thwart on some time, as we were diagnosed with Lyme disease – we were delightful intravenous how to buy viagra online safely and we are still enchanting them.

  4. Historically, a special sympathy of the biology mechanics
    of erections restricted the handling of ED
    to vacuum-constriction devices, corrective implants,
    intracavernosal injections, and intraurethral suppositories.4 Since its advent, the year of agents known as type-5
    phosphodiesterase (PDE5) inhibitors has revolutionized the direction of ED.
    PDE5 inhibitors make suit the first-line of merchandise therapy for ED,
    as suggested by the Earth Urological Tie-up (AUA) and the European Affiliation of Urogenital medicine http://lm360.us/

  5. To minify the consequences of hemorrhages, the http://www.tadalafil5walmart.com cialis generic Rudnev Clinical Center concerning Mother and Toddler needs a ventriculoscopic device. It wishes preserve from death and interdict the dire consequences of IVH (neurological disorders) in hundreds and thousands of newborn babies in our region. Too, in some cases it on cause it credible to do without bypass surgery, which entails numberless risks and complications and requires additional operations!

  6. Hey there! I understand this is kind of off-topic but I had to ask.
    Does building a well-established blog such as yours take a massive amount work?
    I am brand new to running a blog however I do write in my journal everyday.

    I’d like to start a blog so I can easily share my personal experience and
    views online. Please let me know if you have any ideas or tips
    for brand new aspiring bloggers. Appreciate it! https://www.azhydroxychloroquine.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *