समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की खबर पर लिया एसपी ने संज्ञान . . .

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 10 जुलाई 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
देश में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा आठ लाख के लगभग पहुंच गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा सात लाख 98 हजार 161 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग दो लाख 19 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 02 लाख 78 हजार 714 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 04 लाख 97 हजार 690 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 21 हजार 656 है। अब तक देश में कुल 01 करोड़ 10 लाख 24 हजार 491 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों के मिलने की तादाद अब पहले की तुलना में काफी हद तक कम होती दिख रही है। प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 08 हजार 757 ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 16 हजार 341 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 03 हजार 475, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 12 हजार 232 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 667 है।
प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद दो सौ से ज्यादा है उनमें इंदौर में आंकड़ा 05 हजार के उपर पहुंच गया है। इंदौर में 05 हजार 43 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 885, भोपाल में 03 हजार 278, एक्टिव मरीजों की तादाद 621, उज्जैन में 872, एक्टिव मरीजों की तादाद 17, मुरैना में एक्टिव मरीजों की संख्या 841 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 449, नीचम में 477 कुल एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 32, ग्वालियर में कुल 770 संक्रमित मरीजों में से 380 एक्टिव, जबलपुर में कुल मरीजों की संख्या 484 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 95, बुरहानपुर में 420, एक्टिव मरीजों की तादाद 18, सागर में कुल मरीजों की संख्या 430 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 72, खण्डवा में 371 कुल एवं एक्टिव 71, खरगौन में कुल 336 मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 49, भिण्ड में 316 कुल संक्रमित मरीजों में से एक्टिव मरीज 70 एवं देवास में कुल मरीज 244 एवं एक्टिव मरीजों की तादाद 34 हैं। प्रदेश में मण्डला एवं अनूपपुर में एक्टिव मरीजों की तादाद शून्य है।
—–
समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की एक खबर पर जबलपुर के जिला पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने संज्ञान लिया है। जबलपुर पुलिस लाइन में पदस्थ दो पुलिसकर्मियों को एसपी कार्यालय के सामने खुलेआम शराब पीना महंगा पड़ गया है। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया द्वारा जारी वायरल हो रहे वीडियो के आधार पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने दोनों ही पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।
समचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज के द्वारा एक शुक्रवार को एक वीडियो जारी किया था, जिसमें दो पुलिस कर्मी सड़क पर खड़े होकर शराब का सेवन कर रहे थे। दोनों पुलिसकर्मियों का खुलेआम शराब पीने का वीडियो लगातार वायरल हो रहा था। दोनों ही जबलपुर पुलिस लाइन में पदस्थ हैं। वीडियो में दोनों एसपी कार्यालय के बाहर ही बीच सड़क पर एक बाइक पर शराब से भरी गिलासों को रखे हुए और वर्दी पहन कर शराब पीते हुए दिख रहे हैं। एसपी ने इसे बड़ी लापरवाही मानते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।
हालांकि, एसपी का कहना है कि जिस समय दोनों प्रधान आरक्षक शराब पी रहे थे, उस दौरान ड्यूटी पर नहीं थे। फिर भी, वर्दी पहन कर इस तरह शराब पीने से पुलिस की छवि धूमिल होती है। यही वजह है कि दोनों को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही, मामले की जांच आरआई को सौंपी गई है।
दोनों पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी खत्म करने के बाद जब घर जा रहे थे, उसी दौरान सड़क पर शराब पी रहे थे। इस दौरान उन्हें किसी ने टोका भी, लेकिन दोनों ने ये कहकर टाल दिया कि नौकरी अपनी जगह है और शौक अपनी जगह। स्थानीय लोगों ने इसका वीडियो बना लिया जो समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज के जरिए सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।
—–
अपने बयानों के चलते अक्सर चर्चा में रहने वाले मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री तुलसी सिलावट की एक बार फिर जुबाल फिसल गई। इंदौर में मीडिया कर्मियों से बात करते हुए सिलावट विकास दुबे एनकाउंटर के बारे में पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे थे। इसी दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को देश के लिए कलंक बता दिया।

—–
विकास दुबे का एनकाउंटर कानपुर में हुआ है और उसकी गिरफ्तारी उज्जैन में हुई थी। गिरफ्तारी के बाद से ही देश के हृदय प्रदेश में सियासी जंग जारी है। अभी तक उसकी गिरफ्तारी पर कांग्रेस सवाल उठा रही थी। अब पूर्व सीएम और बीजेपी नेत्री उमा भारती ने भी एनकाउंटर के बाद 3 सवाल दागे हैं। साथ ही कहा है कि इन रहस्यों से पर्दा उठाना चाहिए।
दरअसल, पूर्व सीएम उमा भारती एमपी में कैबिनेट विस्तार के बाद से नाराज चल रही हैं। कानपुर में गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद उन्होंने 3 ट्वीट कर लिखा है कि देवेंद्र मिश्र जैसे इमानदार डीएसपी और उनके साथ 8 पुलिस अधिकारी और सिपाहियों की निर्मम हत्या करने वाले राक्षस विकास दुबे को मार गिराने के लिए यूपी पुलिस को बधाई, यूपी पुलिस की जय हो। अभी भी उसने भाग निकलने की चेष्टा की लेकिन वह मार गिराया गया।
उमा भारती ने उसकी गिरफ्तारी को लेकर 3 सवाल दागे हैं। उन्होंने कहा कि अब 3 बातें रहस्य की परत में है। 1. वह उज्जैन तक कैसे पहुंचा? 2. वह महाकाल परिसर में कितरी देर तक रहा? 3. उसका चेहरा टीवी पर इतना दिखा कि उसे कोई भी पहचान लेता, तो उसको पहचाने जाने में इतना समय कैसे लगा?
उमा भारती ने कहा है कि मैं इन तीन सवालों को लेकर शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से इस विषय पर बात अवश्य करूंगी। क्योंकि यह सच्चाई तो सामने आ गई कि भगवान महाकाल ने देवेंद्र मिश्र जैसे ईमानदार पुलिस अधिकारी के हत्यारे का संहार कर दिया।
—–
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि भारत विश्व में क्लीन एनर्जी का मॉडल बनेगा। भारत ने सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये अंतर्राष्ट्रीय सोलर एलायंस का निर्माण किया है। हमारे प्रयास है कि आम आदमी अपनी जरूरत की बिजली घर पर ही पैदा करे। इस कार्य में सरकार मदद करेगी। हम प्रयासरत है कि देश में बेहतर सोलर पैनल, बेट्री, स्टोरेज बनें तथा हमें विदेशों से उपकरण आयात नहीं करना पड़ें। मध्यप्रदेश में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हो रहे है। मध्यप्रदेश सस्ती एवं साफ-सुथरी बिजली का हब बन रहा है। रीवा ने आज वाकई इतिहास रच दिया है। सफेद बाघ के नाम से जाना जाने वाला रीवा अब विश्व में सेालर प्लांट के नाम से भी जाना जाएगा। यहां खेतों में लगे हजारों पैनल ऐसा एहसास दिलाते है, मानो खेतो में फसल लहरा रही हो या गहरे समंदर का नीला पानी हो।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर परियोजना का लोकार्पण दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया। इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल लखनऊ से, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल से, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, थावरचंद गहलोत, धर्मेन्द्र प्रधान, प्रहलाद पटेल, आर.के. सिंह, फग्गन सिंह कुलस्ते दिल्ली से तथा रीवा से सांसद, विधायकगण एवं जनप्रतिनिधि शामिल हुए।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि रीवा सोलर परियोजना से न केवल मध्यप्रदेश को बिजली प्राप्त हो रही है बल्कि यह हर्ष का विषय है कि परियोजना अपनी 24 प्रतिशत बिजली दिल्ली मेट्रो को प्रदान कर रही है। दिल्ली की मेट्रो रीवा से चलेगी।
—–
रोजगार सेतु पोर्टल के माध्यम से 9 जुलाई तक 24 हजार 862 प्रवासी श्रमिकों को स्थायी प्रकार का रोजगार मिल चुका है। इसमें 79.5 प्रतिशत पुरुष और 20.5 प्रतिशत महिला हैं।
प्रवासी श्रमिकों को ठेकेदार एवं लेबर कांट्रेक्टर के यहाँ 94.4 प्रतिशत, बड़े उद्योगों में 0.3, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम में 1.2, बिल्डर्स के यहाँ 0.5, प्लेसमेंट एजेंसी में 2.4, और अन्य संस्थानों में 1.2 प्रतिशत रोजगार प्राप्त हुआ है। प्रतिमाह वेतन 9 से 15 हजार रुपये तक प्राप्त हो रहा है।
अपर मुख्य सचिव श्रम राजेश राजोरा ने जानकारी दी है कि 3 लाख 55 हजार 864 प्रवासी श्रमिकों के जॉब-कार्ड बनाये गये हैं। इसके साथ ही एक लाख 89 हजार 959 प्रवासी श्रमिकों को मनरेगा में रोजगार उपलब्ध कराया गया है।
प्रवासी श्रमिकों में से संबल योजना में पात्रता रखने वाले 3 लाख 40 हजार 715 प्रवासी श्रमिकों का संबल योजना के पोर्टल पर पंजीयन किया गया है। इसी प्रकार 16 हजार 214 प्रवासी श्रमिकों को पात्रतानुसार मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल के पोर्टल पर पंजीयन किया गया है। इससे इन्हें संबल/मण्डल की योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सकेगा। आत्मनिर्भर भारत एवं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के अंतर्गत 13 लाख 10 हजार 186 प्रवासी श्रमिकों को प्रतिमाह राशन वितरित किया जा रहा है।
रोजगार सेतु पोर्टल पर प्रवासी श्रमिकों के साथ आये 6 से 14 वर्ष की उम्र के 2 लाख 6 हजार 425 बच्चों में से 75 हजार 385 को स्कूल में प्रवेश दिया गया है। शेष बच्चों को स्कूल चलें अभियान के अंतर्गत स्कूल खुलने पर निःशुल्क प्रवेश के लिये लक्षित किया गया है।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोरोना और लॉकडाउन का असर अब चाय की कीमत पर भी दिखाई देने लगा है। बीते कुछ दिनों में यहां चाय पत्ती के दाम में 40 से 50 रुपये प्रतिकिलो तक का इजाफा हुआ है। खुली चाय के साथ कंपनियों की पैक्ड चाय पर भी बढ़ी कीमतों का असर है। थोक व्यापारियों का कहना है कि आसाम व पश्चिम बंगाल के चाय बागानों में मजदूरों की कमी है। जिसका असर चाय की कीमतों पर पड़ा है। हालांकि, एक महीने बाद दाम फिर से कम होने की उम्मीद भी है।
राजधानी में चाय के थोक के 30 एवं 100 से अधिक रिटेल कारोबारी हैं। जहां खुली चाय पत्ती बिकती है। किराना दुकानों व शॉपिंग मॉल में कंपनियों की पैक्ड चाय पत्ती बिकती है। भोपाल टी मर्चेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष राजू अग्रवाल ने बताया कि जुलाई, सितंबर, अगस्त व अक्टूबर माह चाय के उत्पादन का सीजन रहता है।
चूंकि, लॉकडाउन में आसाम व पश्चिम बंगाल के चाय बागानों में काम करने वाले मजदूरों का पलायन हुआ है। इस कारण जुलाई माह में उत्पादन पर असर पड़ेगा। दूसरी ओर मार्च, अप्रैल व मई में लॉकडाउन की वजह से काम बंद रहा। इससे सप्लाई व उत्पादन पर असर पड़ा है। इन कारणों से खुली चाय के दाम 40 से 50 रुपये प्रतिकिलो तक बढ़ गए हैं।
—–
भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन इस बार तीन अगस्त को कई शुभ संयोग में मनाया जाएगा। इस बार श्रावणी पूर्णिमा के साथ महीने का श्रावण नक्षत्र भी पड़ रहा है, इसलिए पर्व की शुभता और बढ़ जाती है। श्रावणी नक्षत्र का संयोग पूरे दिन रहेगा। हालांकि, सुबह सवा सात बजे तक भद्रा रहेगा। भद्राकाल में पर्व मनाना शुभ नहीं है, इसलिए यह समय निकल जाने के बाद ही पर्व मनाएं। ज्योतिषियों के अनुसार रक्षाबंधन के पर्व पर इसके पूर्व में भी कई बार भद्रा की स्थिति बनी है।
ज्योतिषाचार्यों के अनुसार तीन अगस्त को सुबह 7.15 बजे तक भद्राकाल की स्थिति बन रही है। इस काल में रक्षाबंधन का पर्व मनाना शुभ नहीं माना गया है। रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त सुबह 9 से 10.30 बजे तक शुभ, दोपहर 1.30 से 3 बजे तक चल की चौघड़िया, दोपहर 3 से 4.30 बजे तक लाभ की चौघड़िया, शाम 4.30 से 6 बजे तक अमृत की चौघड़िया, शाम 6 से 7.30 बजे तक चल की चौघड़िया का योग बन रहा है।
इसके साथ ही इस बार पर्व पर कई शुभ संयोग भी बने हैं। सावन माह का आखिरी सोमवार, श्रावण पूर्णिमा, श्रावणी नक्षत्र और सर्वार्थसिद्धि का विशेष संयोग बन रहा है। यह दिन नामकरण, अन्न प्राशन, यात्रा, व्यापार, वाहन क्रय के लिए अच्छा है। ब्राह्मण वर्ग रक्षाबंधन के लिए श्रावणी उपकर्म जनेऊ बदलते हैं।
ज्योतिषाचार्यों ने बताया कि रक्षाबंधन के दिन बहनें, भाइयों की कलाई पर रक्षा-सूत्र या राखी बांधती हैं। साथ ही वे भाइयों की दीर्घायु, समृद्धि व खुशी आदि की कामना करती हैं। वहीं, भाई अपनी बहनों की रक्षा का वचन देते हैं। रक्षा बंधन का पर्व श्रावण मास में उस दिन मनाया जाता है जिस दिन पूर्णिमा अपरा- काल में पड़ रही हो।
ध्यान रखें कि यदि पूर्णिमा के दौरान अपरा- काल में भद्रा हो तो रक्षाबंधन नहीं मनाना चाहिए। ऐसे में यदि पूर्णिमा अगले दिन के शुरुआती तीन मुहूर्त में हो तो पर्व के सारे विधि-विधान अगले दिन करने चाहिए। लेकिन यदि पूर्णिमा अगले दिन के शुरुआती तीन मुहूर्तों में न हो तो रक्षाबंधन को पहले ही दिन भद्रा के बाद प्रदोष काल के उत्तरार्ध में मना सकते हैं।
शास्त्रों के अनुसार चाहे कोई भी स्थिति क्यों न हो भद्रा होने पर रक्षाबंधन मनाना निषेध है। ग्रहण सूतक या संक्रांति होने पर यह पर्व बिना किसी निषेध के मनाया जाता है।
—–
गैंगस्टर विकास दुबे का भले आज भागने के दौरान एनकाउंटर में मारा गया हो, लेकिन मरने से पहले उसने उसने कुछ महत्वपूर्ण जानकारी उप्र पुलिस को पूछताछ के दौरान दी थी। उज्जैन पुलिस की हिरासत में जाने के बाद गैंगस्टर विकास दुबे ने पुलिस अफसरों को उत्तर प्रदेश पुलिस के आठ पुलिसकर्मियों की हत्या से जुड़ी कई अहम जानकारियां बातचीत के दौरान दीं। पुलिस सूत्रों के अनुसार, वह अपनी गैंग द्वारा हत्या की बात तो कबूलता रहा लेकिन खुद हत्या में शामिल होने से इंकार भी करता रहा। कानपुर गोलीकांड में शहीद हुए सीओ देवेंद्र मिश्र के बारे में विकास ने पुलिस को बताया कि उसका सीओ मिश्र से कई बार विवाद हो चुका था। आसपास के थानों में पदस्थ कई पुलिसकर्मियों ने जानकारी दी थी कि सीओ मेरे खिलाफ है। इससे मुझे सीओ पर बहुत गुस्सा आता था।
पुलिस सूत्रों के अनुसार, विकास ने पूछताछ में यह भी बताया कि सीओ को उसने नहीं मारा। मेरे साथियों ने आहते से मामा के आंगन में जाकर सीओ पर हमला किया। वे मेरे पैर को लेकर अक्सर कहा करते थे विकास का एक पैर गड़बड़ है, मैं दूसरा भी ठीक कर दूंगा। इसलिए मेरे लोगों ने उनके पैर पर वार करने के बाद पास से सिर पर गोली मारी थी।
दुबे ने यह भी बताया कि उन्हें यह पता चल गया था कि पुलिस छापा मारने आने वाली है लेकिन वे रात में ही पहुंच जाएगी इसका अंदाजा नहीं था। पुलिसकर्मियों को मारने के बाद सबूत मिटाने के लिए सभी को एक साथ जलाने की तैयारी थी। इसके लिए घरों में रखे गए तेल का इस्तेमाल करने वाले थे। पुलिसकर्मियों के शवों को भी एक जगह इकट्ठा कर लिया गया था, लेकिन फिर और फोर्स आने की सूचना मिली तो जिसे जहां से जगह मिली भाग निकला। उधर पुलिस ने पूछताछ के मुद्दे पर अधिकृत रूप से कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।
—–
कोरोना महामारी का असर सभी तीज, त्योहारों के साथ गणेश उत्सव पर भी देखने को मिल रहा है। 22 अगस्त को गणेश चतुर्थी है। इसी दिन से गणेश उत्सव मनाया जाता है, जो कि अनंत चतुर्दशी तक चलता है। गणेश उत्सव प्रारंभ होने से लगभग एक-दो माह पहले से ही शहर में विराजने वाली बड़ी गणेश प्रतिमाओं के आर्डर कारीगरों के पास आना प्रारंभ हो जाते हैं,लेकिन कोरोना महामारी के चलते 9 जुलाई तक प्रतिमा बनाने वाले कारीगरों के पास इस बार एक भी आर्डर नहीं आया है।
गणेश चतुर्थी पर अनेक शहरों में गणेश प्रतिमाओं को विराजमान किया जाता है। इन प्रतिमाओं को बनाने का कार्य सावन मास के प्रारंभ से ही शुरू हो जाता है, लेकिन इस बार अब तक शहर में मूर्तिकारों के पास एक भी आर्डर नहीं आया है।
—–
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 10 जुलाई का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। शनिवार 11 जुलाई को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।