21 अगस्त का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन पढिए

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 21 अगस्त का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन, अब आप शरद खरे से समाचार सुनिए.
—–
कोविड महामारी के बीच चुनाव किस तरह होंगे और नामांकन से लेकर वोटिंग के दिन तक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किस तरह होगा, इसके लिए चुनाव आयोग ने विस्तृत दिशानिर्देश जारी कर दिये हैं। चुनाव आयोग ने शुक्रवार को गाइडलाइंस जारी करते हुए संकेत दिया कि बिहार में तय समय पर ही विधानसभा चुनाव होंगे।
आयोग ने कहा है कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और ऐसा नहीं करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जा सकती है। हालांकि, आयोग ने 65 साल के तक बुजुर्ग को पोस्टल बैलट की सुविधा देने का आदेश विपक्षी दलों के विरोध के कारण वापस ले लिया है।
सूत्रों के अनुसार राज्य में इस बार विधानसभा चुनाव अधिकतम एक या दो चरणों में हो सकते है। आम तौर पर वहां पांच चरणों में चुनाव होते थे। राज्य में नए विधानसभा का गठन 28 नवंबर से पहले हर हाल में होना है। यदि इस सीमा के अंदर चुनाव नहीं होता है तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना होगा। बिहार विधानसभा चुनाव के साथ मध्य प्रदेश के 26 विधानसभा सीटों पर भी उपचनुाव होने हैं।
चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार राजनीतिक दल, रैली, रोड शो या घर-घर जनसंपर्क अभियान कर सकेंगे लेकिन इन सभी में कोरोना को देखते हुए कड़े नियमों का पालन करना होगा।
आईए अब बताते हैं कि चुनाव आयोग के अनुसार किस तरह होंगे चुनाव। इसमें ऑनलाइन नॉमिनेशन होगा। जमानत राशि भी ऑनलाइन जमा कर सकते है। हालांकि सशरीर नामांकन का भी विकल्प होगा। लेकिन इसके लिए मात्र 2 लोग साथ जा सकेंगे। अधिकतम दो गाड़ी ले जा सकते हैं साथ।
इसके अलावा जन-संपर्क अभियान में घर-घर अधिकतम पांच लोगों को अनुमति होगी। होम मिनिस्ट्री कोविड सुरक्षा से जुड़े मानक को पूरा करने पर रैली या रोड शो जैसे आयोजन को, अनुमति देगी। साथ ही पब्लिक रैली, सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगी। कितने लोग आएंगे इसकी जानकारी भी पूर्व में ही तय हो जायेगी। इसमें निगरानी के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी रहेंगे।
वोटिंग से पहले वोटर्स को दस्ताने दिए जाएंगे। प्रत्येक बूथ पर अधिकतम एक हजार वोटर ही होंगे। बूथ पर सैनिटाइजर होग। इसे चुनाव से 72 घंटे पहले लगातार सैनिटाइज किया जाएगा। अगर किसी वोटर का तापमान अधिक दिखता है तो उसे सबसे अंत में वोट देने के लिए बुलाया जाएगा। चुनाव प्रक्रिया में लगे सभी कर्मियों को कोविड से बचाव के लिए किट दिया जाएगा। वोटों की गिनती के दिन एक हॉल में अधिकतम सात टेबल लग सकेंगे।
—–
पंजाब सरकार के बाद हरियाणा की सरकार ने भी ऐलान कर दिया है कि अब राज्य में शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि यह फैसला कोरोना के मामलों को देखते हुए लिया गया है। अनिल विज ने यह भी बताया कि शनिवार और रविवार के लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी दफ्तर और दुकानें बंद रहेंगी। हालांकि, लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध नहीं रहेगा।
—–
स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा, पहलवान विनेश फोगाट, महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और पैरा एथलीट मरियप्पन थंगवेलु को इस साल का राजीव गांधी खेल रत्न पुरूस्कार दिया जाएगा।
33 वर्षीय रोहित शर्मा खेल रत्न पाने वाले केवल चौथे क्रिकेटर होंगे। उनसे पहले सचिन तेंडुलकर, हाल में संन्यास लेने वाले महेंद्र सिंह धोनी और वर्तमान कप्तान विराट कोहली यह सम्मान हासिल कर चुके हैं। सचिन तेंडुलकर पहले भारतीय क्रिकेटर थे जिन्हें 1998 में खेल रत्न पुरस्कार दिया गया था। महेन्द्र सिंह धोनी को 2007 में और विराट कोहली को 2018 में भारोत्तोलक मीराबाई चानू के साथ यह पुरूस्कार मिला था।
—–
अगर सबकुछ ठीक रहा तो भारत इस साल के आखिरी तक कोरोना वायरस की वैक्सी्न हासिल कर लेगा। देश में बनीं और ट्रायल से गुजर रहीं दोनों कोरोना वैक्सीसन 2020 के अंत तक उपलब्ध हो सकती हैं। यह दावा है केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ.हर्षवर्धन का। एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक की बनाई वैक्सीन साल के आखिर तक उपलब्ध हो सकती है। उन्होंने कहा कि हम 2021 की पहली तिमाही में वैक्सीन इस्तेमाल करने के लिए तैयार हो सकते हैं।
स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक, दुनियाभर में वैक्सीन ट्रायल को फास्ट-ट्रैक किया जा रहा है। डॉ.हर्षवर्धन ने कहा कि सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया पहले से ही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन का उत्पादन कर रहा है ताकि बाजार तक उसके पहुंचने का समय कम किया जा सके। उन्होंने बताया कि बाकी दोनों टीकों को बनाने और बाजार में उतारने में कम से कम एक महीने का और वक्त लग सकता है।
ऑक्सफोर्ड वैक्सीन के संबंध में सीरम इंस्टिट्यूट ने कहा है कि उसने भारत में ह्यूमन ट्रायल आरंभ कर दिया है। अस्त्रा जेनेका की यह वैक्सीन साल के आखिर तक उपलब्ध होने की उम्मीद है।
कोवैक्सिन के संबंध में बताया जा रहा है कि हैदराबाद की भारत बायोटेक की इस वैक्सीन का ट्रायल भी दो हफ्ते पहले आरंभ हुआ है। यह वैक्सीन भी साल के अंत तक तैयार हो सकती है।
जायकोव-डी के संबंध में बताया गया है कि जायडस कैडिला ने भी इंसानों पर वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल आरंभ कर दिया है। कुछ महीनों में ट्रायल पूरा हो सकता है।
—–
कोरोना वायरस ने देश की अर्थव्यवस्था को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। इस नुकसान की सबसे ज्यादा मार छोटे व्यापारियों और व्यवसायियों पर पड़ी है। हालांकि इस मुश्किल समय में भी व्यवसायियों के संघर्ष और इस आर्थिक आपदा से उबरने की हजारों कहानियां सामने आई हैं। ऐसा ही कुछ गुजरात के अहमदाबाद में भी देखने को मिला है। यहां एक टूर ऑपरेटर ने काम ठप्प होने पर कमाई का दूसरा रास्ता निकाल लिया।
गुजरात के अहमदाबाद में टूर ऑपरेशन का काम करने वाले अजय मोदी ने अपने ऑफिस में गुजराती नमकीन-बिस्किट बेचने की दुकान खोल ली है। उन्होंने ऐसा अपने स्टाफ को सपोर्ट करने के लिए किया है।
अजय मोदी ने बताया कि कोविड-19 में हमारा बिजनेस बुरी तरह प्रभावित हुआ। ऐसे में हमने अपने ऑफिस में ही गुजराती स्नैक स्टोर खोल लिया। हमें पहले से ही नमकीन व्यापार की जानकारी थी, उसी का उपयोग हमने इस आपदा की घड़ी में किया है।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोरोना महामारी की वजह से इस बार महाराष्ट्र के सबसे बड़े त्यौहार गणेशोत्सव की रौनक काफी फीकी है। इसका सीधा असर बाजारों पर भी पड़ रहा है। जहां मंदी की वजह से ग्राहक नहीं आ रहे हैं। इस बार चीनी सामानों का बहिष्कार ग्राहकों और दुकानदारों ने किया है। नासिक में दुकानदारों ने पूर्ण रूप से चीनी वस्तुओं का बहिष्कार किया है। व्यापारियों का कहना है कि इस बार कोरोना की वजह से खरीदारी के लिए ज्यादा लोग नहीं आ रहे हैं।
महाराष्ट्र में हर साल गणेशोत्सव बेहद ही भव्य तरीके से मनाया जाता था। कोरोना काल की वजह से यह आयोजन इस बार सरकारी आदेश के अनुसार बेहद ही सादगी पूर्ण तरीके से मनाया जाने वाला है। बाजार में हर साल चीनी सामानों की काफी डिमांड भी रहती थी लेकिन इस बार ग्राहकों ने इन सामानों को पूछा भी नहीं। पिछले साल के 30 से 40 प्रतिशत उत्पाद अभी भी दुकानदारों के पास पड़े हुए हैं। जिन्हें कोई भी ग्राहक इस वर्ष कम पैसों में भी खरीदने को तैयार नहीं है।
बाजार की स्थिति यह है कि ग्राहकों के न आने से छोटे व्यापारी भी काफी परेशान है।
—–
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सरकार पर शुक्रवार को एक बार फिर गंभीर आरोप लगाए हैं। कोरोना महामारी से निपटने के लिए चिकित्सा उपकरणों की खरीद प्रक्रिया में करोड़ों रुपए के घोटाले का आरोप लगाते हुए राज्यपाल ने कहा है कि जांच के लिए गठित तीन सदस्यीय पैनल सच्चाई पर पर्दा डालने के लिए है।
जगदीप धनखड़ ने कहा कि पैनल में टॉप ब्यूरोक्रैट्स शामिल हैं, जिनकी साख कम है। उन्होंने कहा कि केवल स्वतंत्र जांच से यह पता लगाया जा सकता है कि पैसा कहां से कहां गया और किन्हें अनुचित लाभ मिला। पैनल की अगुआई गृह सचिव अल्पन बंधोपाध्याय कर रहे हैं।
—–
चीन और नेपाल के बीच माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई मापने को लेकर एक समझौता हुआ है। इस समझौते से भारत में चिंता का माहौल है। दरअसल भारत की चिंता इस समझौते के एक क्लॉज को लेकर है, जिसमें कहा गया है कि बीजिंग और काठमांडू संयुक्त रूप से माउंट एवरेस्ट के सर्वे, मैपिंग और जियो-इन्फोर्मेशन मैनेजमेंट पर सहयोग करेंगे। इतना ही नहीं यह भी कहा गया है कि माउंट एवरेस्ट की जानकारियों को साझा करने के लिए दोनों देशों में केन्द्र बिंदु बनाए जाएंगे।
दरअसल इस समझौते को नेपाल में चीन के बढ़ते प्रभाव के तौर पर देखा जा रहा है। माउंट एवरेस्ट को नेपाल अपने स्वाभिमान से जोड़कर देखता है और यही वजह है कि माउंट एवरेस्ट के सर्वे और अन्य जानकारियों के लिए नेपाल का चीन के साथ समझौता होना, भारत के लिए चिंता का सबब बना हुआ है।
अक्टूबर 2019 में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने नेपाल का दौरा किया था। इस दौरान संयुक्त बयान में माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई को फिर से मापने की बात कही गई थी। नेपाल के लिए माउंट एवरेस्ट, आर्थिक तौर पर भी काफी अहम है। एवरेस्ट पर चढ़ाई का परमिट देने से ही नेपाल को हर साल 40 लाख डॉलर की कमाई होती है। इसके अलावा पोर्टर, गाइड और पर्यटन जैसे क्षेत्र भी नेपाल में माउंट एवरेस्ट की वजह से काफी फल-फूल रहे हैं।
एक रिपोर्ट के अनुसार, अब चीन नेपाल के साथ माउंट एवरेस्ट को लेकर एक एमओयू पर हस्ताक्षर करना चाहता है। नेपाल की मौजूदा केपी ओली सरकार चीन समर्थक मानी जाती है और यही वजह है कि हाल के वर्षों में जहां नेपाल में चीन की मौजूदगी बढ़ी है, वहीं भारत के साथ नेपाल के रिश्ते बिगड़ते जा रहे हैं।
—–
देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद 29 लाख 40 हजार 442 पहुंच गई है। इसमें से सक्रिय मरीजों की तादाद 06 लाख 94 हजार 745 और रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 21 लाख 89 हजार 785 है। इस बीमारी से र्हुइं मृत्यु का आंकड़ा 55 हजार 375 हो गया है। जिन राज्यों में कोरोना संक्रमितों के एक्टिव मरीजों की तादाद दस हजार से अधिक हो गयी है उनमें महाराष्ट्र में सर्वाधिक 01 लाख 62 हजार 491 एक्टिव मरीज हैं।
इसके बाद आंध्र प्रदेश में 87 हजार 803 एक्टिव मरीज, कर्नाटक में 82 हजार 149 एक्टिव मरीज, तमिलनाडु में 53 हजार 283, उत्तर प्रदेश में 47 हजार 785, पश्चिम बंगाल में 27 हजार 696, बिहार में 25 हजार 241, उड़ीसा में 23 हजार 698, असम में 22 हजार 708, तेलंगाना में 21 हजार 687, केरल में 18 हजार 124, राजस्थान में 14 हजार 961, गुजरात में 14 हजार 356, पंजाब में 13 हजार 830, दिल्ली में 11 हजार 426 और मध्य प्रदेश में 10 हजार 782 एक्टिव मामले हैं।
————
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 21 अगस्त का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन। शनिवार को आडियो बुलेटिन का अवकाश रहेगा इसलिये रविवार 23 अगस्त को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, यदि आपको ये ऑडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, नमस्कार।