27 अगस्त 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन पढिए

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में ब्रहस्पवतिवार 27 अगस्त 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
कोरोना के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा सावा 33 लाख को पार कर गया है। वर्तमान में यह आंकड़ा 33 लाख 34 हजार 203 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग 18 लाख 10 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 07 लाख 31 हजार 223 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 25 लाख 41 हजार 552 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 60 हजार 854 है। अब तक देश में कुल 03 करोड़ 85 लाख 76 हजार 510 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। इधर, मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा 57 हजार को स्पर्श करने को आमदा दिख रहा है। यहां कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 30 हजार 910 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 56 हजार 864 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 12 हजार 336, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 43 हजार 246 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 1 हजार 282 है। प्रदेश में अब तक 12 लाख 50 से ज्यादा लोगों का टेस्ट कराया जा चुका है।
प्रदेश में सभी 52 जिलों में मरीजों की तादाद 100 से अधिक है। प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद एक हजार से ज्यादा है उनमें वर्तमान में इंदौर में 11 हजार 860 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 03 हजार 199 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 371 है, भोपाल में 09 हजार 670 कुल मरीज, एक्टिव मरीजों की तादाद 1 हजार 549, जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 266 ग्वालियर में 04 हजार 450 कुल मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 01 हजार 96 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 37, जबलपुर में कुल 3 हजार 456 में से एक्टिव मरीजों की संख्या 840 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 69, मुरैना में कुल मरीजों की संख्या 2 हजार 09 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 118 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 13, उज्जैन में एक हजार 624 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 222 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 78, खरगौन में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 374, एक्टिव मरीजों की तादाद 204 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 25, नीमच में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 130 में से एक्टिव मरीज 208 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 13, बड़वानी में कुल एक हजार 79 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 101 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 15 एवं सागर में एक हजार 81 कुल मरीजों में से 185 एक्टिव एवं मरने वालों की तादाद 49 है। प्रदेश में एक भी जिले में एक्टिव मरीजों की तादाद शून्य नहीं है।
—–
केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल की 41वीं बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्पन्न हुई। बैठक में मध्यप्रदेश की ओर से वाणिज्यिक कर, वित्त, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री जगदीश देवड़ा, प्रमुख सचिव वाणिज्यिक कर श्रीमती दीपाली रस्तोगी उपस्थित रहे। मंत्री श्री देवड़ा ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में मध्यप्रदेश को 2600 करोड़ की क्षतिपूर्ति प्राप्त हुई है। इसके लिये श्री देवड़ा ने केन्द्रीय वित्त मंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने अनुरोध किया कि मध्यप्रदेश की शेष क्षतिपूर्ति राशि 5995 करोड़ भी शीघ्र उपलब्ध करायी जाये।
—–
मौसम विभाग ने शुक्रवार दोपहर चेतावनी दी है कि पश्चिमी मध्य प्रदेश के चार जिलों बालाघाट, टीकमगढ़, दमोह एवं सागर में अगले 24 घंटे में अत्यधिक भारी वर्षा हो सकती है। मौसम विभाग के बुलेटिन के अनुसार इन चार जिलों में शुक्रवार सुबह तक कहीं-कहीं पर अत्यधिक भारी वर्षा के साथ बिजली चमकने व गिरने की भी आशंका है। इसके अलावा, मौसम विभाग ने प्रदेश के रीवा एवं शहडोल संभागों में तथा 12 अन्य जिलों कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मण्डला, छतरपुर, विदिशा, रायसेन, पन्ना, होशंगाबाद एवं बैतूल में अगले 24 घंटों में कहीं-कहीं पर अति भारी वर्षा तथा गरज चमक के साथ बिजली चमकने व गिरने की चेतावनी भी दी है। वहीं, मौसम विभाग ने प्रदेश के चार अन्य जिलों राजगढ़, शाजापुर, गुना एवं अशोकनगर में अगले 24 घंटों में कहीं-कहीं पर भारी वर्षा तथा गरज चमक के साथ बिजली गिरने की आशंका जताई है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि प्रदेश के चंबल संभाग तथा सीहोर, भोपाल, हरदा, रतलाम, उज्जैन, देवास, आगर मालवा, नीमच, मंदसौर, शिवपुरी, ग्वालियर एवं दतिया जिलों में गरज चमक के साथ बिजली गिर सकती है। ये चेतावनी भी शुक्रवार सुबह तक के लिए जारी की गई हैं। भारत मौसम विभाग के भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने बताया कि प्रदेश में इस मानसून में अब तक सामान्य वर्षा हुई है।
—–
मध्य प्रदेश में सरकारी संपत्तियों पर अतिक्रमण, भूमि संबंधी विवाद के निराकरण और प्रबंधन के लिए शिवराज सरकार लोक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग बना सकती है। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के रोडमैप में भौतिक अधोसंरचना समूह ने इसकी सिफारिश की है। इसके साथ ही स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के स्कूलों को एक विभाग में लाया जा सकता है। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और चिकित्सा शिक्षा विभाग को एक करने का प्रस्ताव है। इसी तरह सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग में खाद्य प्रसंस्करण विभाग को मिलाया जा सकता है। इस पर अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लेंगे। इसके पहले भी उनके कार्यकाल में प्रवासी भारतीय और आनंद विभाग बनाए गए थे। कमल नाथ सरकार में भी अध्यात्म विभाग बनाया गया था।
—–
मध्य प्रदेश भाजपा में हाशिए पर जा रहे दिग्गजों की चिंता संघ प्रमुख मोहन भागवत और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया गत दिवस हुई मुलाकात ने और बढ़ा दी है। अटकलें हैं कि सिंधिया के मोदी कैबिनेट में शामिल होने पर चर्चा हुई है। भाजपा में शामिल होने के करीब छह माह बाद पहली बार नागपुर स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुख्यालय पहुंचे सिंधिया के साथ भाजपा के किसी अन्य नेता के न होने के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं।
भाजपा का दामन थामने के बाद से सिंधिया अकसर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ ही नजर आते रहे हैं। माना जा रहा है कि सिंधिया की संघ तक पहुंच में पार्टी की मराठी लॉबी की सक्रियता है। गौरतलब है कि मंगलवार को सिंधिया ने नागपुर में संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत और सर कार्यवाह भय्याजी जोशी से मुलाकात की थी।
—–
नानाजी देशमुख पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय, जबलपुर के अंतर्गत प्रदेश का छठवां वेटरनरी डिप्लोमा कॉलेज मंडला में शुरू होगा। युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार ने डिप्लोमा कॉलेज शुरू करने के लिए अनुमति प्रदान कर दी है। इसके लिए कुलपति डॉ. सीता प्रसाद तिवारी द्वारा प्रयास किये गए। मंडला में शुरू होने वाले डिप्लोमा कॉलेज की शुरूआत 50 सीटों से होगी। इसमें व्यापमं के माध्यम से प्रवेश होगा व कॉलेज में परीक्षाएं वेटरनरी यूनिवर्सिटी कराएगी। कॉलेज के लिए जमीन तलाशने का काम शुरू कर दिया गया है।
—–
इंदौर जिले में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लक्ष्मी बाई मंडी में हर्ष फायर करना मंडी सचिव सहित 3 लोगों को भारी पड़ गया है। पुलिस ने मामले में वीडियो सामने आने के बाद आर्म्स एक्ट में केस दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद बंदूक जब्ती सहित अन्य कार्रवाई की जाएगी।इंदौर में मण्डी सचिव का हर्ष फायर करते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो सामने आने के बाद पुलिस भी हरकत में आ गई है।
एरोड्रम पुलिस के अनुसार 15 अगस्त को लक्ष्मी बाई मंडी में मंडी स्टॉफ ने हर्ष फायर किया था। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि लाइसेंसी बंदूक से 3 लोगों ने फायर किया था। मामले में आर्म्स एक्ट के तहत लक्ष्मी बाई मंडी सचिव मान सिंह के साथ नारायण सिंह और भोला प्रसाद के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।
एरोड्रम थाना के टीआई राहुल शर्मा ने कहा कि जांच के बाद बंदूक भी जब्त की जाएगी। गौरतलब है कि इससे एक दिन पहले इंदौर में बर्थडे पार्टी के दौरान फायरिंग करते हुए वीडियो वायरल हुआ था। उसके बाद पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के बयान से इंदौर की राजनीति गरमा गई है। राऊ विधायक जीतू पटवारी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को ब्लैकमेलर बताया था। इससे नाराज सिंधिया समर्थक मंत्री तुलसी सिलावट ने पटवारी को मर्यादा में रहने की नसीहत दे डाली। उनहोंने कहा- पटवारी बहुत जल्दी में हैं। उनको टीका – टिप्पणी करने से पहले सोचना चाहिए। मर्यादाएं रखनी चाहिए। कुछ लोगों को बोलने और छपास का शौक होता है।
जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा – देश में हर व्यक्ति जानता है सिंधिया परिवार को। जीतू पटवारी जो बोलते हैं वो निराधार, बेबुनियाद है। उनकी बातों का न तो कोई हाथ है और न ही पैर। कांग्रेस धरातल पर चली गई है, इनके पास बोलने के अलावा कुछ भी नहीं है। सिंधिया ने प्रदेश की प्रगति, विकास, उन्नति, अन्नदाताओं, युवाओं और माता-बहनों के लिए कांग्रेस पार्टी छोड़ी है। जीतू पटवारी मेरे छोटे भाई हैं और वे भविष्य में वो ध्यान रखें कि और इस प्रकार की टिका- टिप्पणी करना बंद करें।
—–
मध्यप्रदेश की जेलों में बंद बंदियों को अपनों से मिलने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। शनिवार को जेल मुख्यालय ने नया आदेश जारी करते हुए बंदियों से परिजनों की मुलाकात पर 31 अक्टूबर तक रोक लगा दी है। इससे पहले इसे 4 बार बढ़ाया जा चुका है। पहले यह प्रतिबंध 31 अगस्त तक था। हालांकि इस दौरान कैदियों को वीडियो कॉल की सुविधा मिलेगी।
प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते 23 मार्च से लॉकडाउन शुरू किया गया था। इसके तहत जेल में बंदियों से मुलाकात पर भी 31 मई तक रोक लगा दी गई थी। वहीं, प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए मुलाकात पर रोक की अवधि एक माह और बढ़ाकर यह 30 जून तक कर दी थी। इसके बाद शासन के आदेश पर अब इसे 31 जुलाई और फिर 31 अगस्त कर दिया था।
—–
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में ब्रहस्पतिवार 27 अगस्त का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। शुक्रवार 28 अगस्त को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)

———