शुक्रवार 18 सितंबर का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन

नमस्कार आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में शुक्रवार 18 सितंबर का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन अब आप शरद खरे से समाचार सुनिए.
—–
अमेरिका के वैज्ञानिक कई महीने पहले इस बात को कह चुके हैं कि कोरोना का संक्रमण मानव मल द्वारा भी फैल सकता है। क्योंकि अमेरिका में मिले कोविड-19 पेशंेट की पॉटी में कोरोना वायरस के आर.एन.ए. पाए गए। अमेरिका की तरफ से यह तथ्य चीन के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए उस शोध के बाद आया था जिसमें उन्होंने मानव मल द्वारा कोरोना संक्रमण के फैलने की आशंका जताई थी। इसी क्रम में चिंता करने की एक बात यह है कि न केवल मानव मल द्वारा बल्कि घरों के वॉशरूम में लगे कमोड के पाइप के जरिए भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।
—–
कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने अटकलों पर विराम लगाते हुए सभी स्कूलों को 5 अक्टूबर तक बंद रखने की घोषणा की है। हालांकि इस दौरान ऑनलाइन क्लासेज चलती रहेंगी। इस संबंध में दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को सर्कुलर जारी किया।
कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए अधिकतर राज्य सरकारें अभी हिचक रही हैं। आंध्र प्रदेश मध्य प्रदेश हरियाणा जैसे राज्यों में स्कूल खोल रहे हैं। मगर हिमाचल प्रदेश कर्नाटक गुजरात में सरकारें स्कूल नहीं खोल रहीं हैं। अब इस लिस्ट में दिल्ली भी शामिल हो गया है।
—–
दिल्ली उच्च न्यायायल ने शुक्रवार को निजि एवं सरकारी स्कूलों को निर्देश दिया कि वे गरीब बच्चों को ऑनलाइन कक्षाओं के लिए उपकरण और इंटरनेट पैकेज मुहैया कराएं। अदालत ने कहा कि ऐसी सुविधाओं की कमी भेदभाव और डिजिटल रंगभेद उत्पन्न करती है। उन्होंने कहा कि उपकरण उपलब्ध नहीं होने के चलते एक ही कक्षा में पढने वाले ऐसे विद्यार्थियों को अन्य विद्यार्थियों की तुलना में हीन भावना महसूस होगी जोकि उनके मन और मस्तिष्क को प्रभावित कर सकता है। न्यायमूर्ति मनमोहन और न्यायमूर्ति संजीव नरुला की पीठ ने कहा कि यदि एक स्कूल स्वयं ही ऑनलाइन प्रणाली के जरिए कक्षाएं संचालित करने का फैसला करता है तो उन्हें यह सुनिश्चित करना होगा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ई.डब्ल्यू.एस.) अथवा वंचित समूह श्रेणी के अंतर्गत आने वाले विद्यार्थियों को भी इसी तरह की सुविधाएं एवं उपकरण उपलब्ध हों।
—–
राज्यसभा ने मंत्रियों के वेतन एवं भत्तों से संबंधित संशोधन विधेयक और सांसदों के वेतन भत्ते में एक वर्ष के लिये 30 प्रतिशत की कटौती के प्रावधान वाले विधेयकों को शुक्रवार को मंजूरी दे दी। इस धनराशि का उपयोग कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति से मुकाबले के लिये किया जायेगा। संसद सदस्य वेतन भत्ता एवं पेशन संशोधन विधेयक 2020 को इस सप्ताह के आरंभ में लोकसभा की मंजूरी मिल चुकी है। उच्च सदन में संक्षिप्त चर्चा के बाद मंत्रियों के वेतन एवं भत्तों से संबंधित संशोधन विधेयक 2020 और संसद सदस्य वेतन भत्ता एवं पेशन संशोधन विधेयक 2020 को ध्वनिमत से मंजूरी दे दी गयी।
—–
भारत में सोशल मीडिया वीडियो एप टिकटॉक और मैसेंजर एप वीचैट पर बैन के बाद अब अमेरिका ने भी रविवार से इन दोनों चाइनीज एप्लीकेशन के इस्तेमाल पर रोक लगाने का फैसला किया है। इस तरह से देखें तो भारत के बाद अब अमेरिका ने भी चाइना को बड़ा झटका दिया है। इन एप्स पर रोक लगाने के लिए अमेरिका में पिछले कई हफ्ते से चर्चा चल रही थी जिसके बाद अब रविवार से दोनों एप्स पूरी तरह से बैन हो जाएंगे।
पिछले दिनों राष्ट्रपति की ओर से जारी निर्देश में कहा गया था कि इन एप्स से उपयोगकर्ताओं से बड़ी संख्या में जानकारी ली जा रही है और ये जोखिम वास्तविक हैं। इस डेटा को संभवतः चीनी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा एक्सेस किया जा सकता है। ये डेटा संभावित रूप से चीन को संघीय कर्मचारियों और ठेकेदारों के स्थानों को ट्रैक करने ब्लैकमेल के लिए व्यक्तिगत जानकारी के डोजियर बनाने और कॉर्पाेरेट जासूसी करने की अनुमति दे सकता है।
—–
राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने गुरुवार को पांचवी और आठवीं बोर्ड परीक्षा को लेकर अधिसूचना जारी कर दी। अब इन दोनों कक्षाओं में मुख्य परीक्षा के बाद सप्लीमेंट्री की परीक्षा आयोजित होगी। सप्लीमेंट्री की परीक्षा में पांचवी के विद्यार्थियों को अनुत्तीर्ण नहीं किया जाएगा लेकिन आठवीं की सप्लीमेंट्री परीक्षा में असफल रहे विद्यार्थियों को पुनः इस कक्षा की पढ़ाई करनी होगी।
प्रदेश में प्रत्येक वर्ष लगभग 12 लाख विद्यार्थी आठवीं और लगभग 14 लाख से अधिक विद्यार्थी पांचवी की परीक्षा देते हैं। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि पांचवी और आठवीं में विधिक रूप से परीक्षा आयोजित किये जाने के लिए राजपत्र में संशोधन प्रकाशन किया गया है। अब इस सत्र से इन दोनों कक्षाओं की परीक्षा विधिक रूप से आयोजित की जाएगी।
—–
कोविड-19 का प्रसार एक तरफ से जहां तेजी के साथ हो रहा है तो वहीं इसके खिलाफ कई देशों में वैक्सीन का ट्रायल तो चल रहा है लेकिन इसके जल्द आने की संभावना नहीं दिख रही है। रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-फाईव को वहां की सरकार की तरफ से मंजूरी दी गई है लेकिन इसका भी तीसरे चरण में ट्रायल चल रहा है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर कब तक वैक्सीन आएगी और कब तक हालात सामान्य होंगे?
एम्स के कम्युनिटी मेडिसीन डिपार्टमेंट के अध्यक्ष डॉक्टर संजय सिंह की मानें तो अगले साल के मध्य तक वैक्सीन आए या न आए हालात सामान्य होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि तब तक कोई भी प्रभावी वैक्सीन उपलब्ध नहीं होगी और कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए मास्क लगाने और हैंड सेनाटाइजर जैसे उपाय ही करने होंगे।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों निर्माण कार्य यात्रा या समारोह आदि के संबंध में फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
राजस्थान के कुख्यात बदमाशों का अंतिम ठिकाना कही जाने वाली जोधपुर सेंट्रल जेल में मोबाइल तस्करी का एक अनूठा मामला सामने आया है। जेल से गैंग संचालन के आरोपों वाली इस जेल में सलाखों के पीछे मोबाइल फोन सबसे बड़ी समस्या बनता जा रहा है। लेकिन अभी तक ये पता नहीं लग पाया था कि ये फोन आखिर जेल में पहुंचते कैसे हैं? शुक्रवार को जेल में पकड़ी गई मोबाइल तस्करी का ये मामला चौंकाने वाला है। एक कैदी जेल में मोबाइल लेकर पहुंचा और किसी को भनक तक नहीं लगी। उसकी पोल तब खुली जब वह खुद दर्द से कराहने लगा। दरअसल कैदी ने मोबाइल अपने गुप्तांग में छुपा रखा था। मोबाइल फोन ज्यादा देर तक रेक्टम (मलाशय) मे रखने से उसकी तबियत बिगड़ गई। आनन-फानन में जेल प्रशासन को उसे शहर के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालांकि वहां भी कैदी के शरीर से मोबाइल नहीं निकाल जा सका तो उसे मथुरादास माथुर अस्पताल शिफ्ट किया गया है।
—–
महाराष्ट्र के मुंबई में अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक पति ने अपनी पत्नी से झूठा बोला कि वह कोरोना वायरस पॉजिटिव हो गया है। उसने पत्नी से खुद के कोविड सेंटर में भर्ती होने और परिवार को संक्रमण से बचाने का बहाना बनाया। हालांकि वास्तविकता में वह अपनी गर्लफ्रेंड के साथ फरार हो गया। हैरान कर देने वाली यह कहानी नवी मुंबई के वाशी की है।
———
देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद 52 लाख 42 हजार 50 पहुंच गई है। इसमें से सक्रिय मरीजों की तादाद 10 लाख 17 हजार 414 और रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 41 लाख 39 हजार 210 है। इस बीमारी से हुईं मृत्यु का आंकड़ा 84 हजार 689 हो गया है। कोरोना संक्रमितों के एक्टिव मरीजों की तादाद जिन राज्यों में 20 हजार से अधिक हो गयी है उनमें महाराष्ट्र ऐसा अकेला राज्य बना हुआ है जहां कोरोना के सबसे ज्यादा सक्रिय मामले हैं। वर्तमान में महाराष्ट्र में कोरोना के 03 लाख 01 हजार 752 एक्टिव मरीज हैं।
इसके बाद कर्नाटक में 01 लाख 03 हजार 631 एक्टिव मरीज आंध्र प्रदेश में 84 हजार 423 एक्टिव मरीज उत्तर प्रदेश में 68 हजार 235 तमिलनाडु में 46 हजार 610 उड़ीसा में 37 हजार 140 छत्तीसगढ़ में 36 हजार 36 केरल में 34 हजार 315 दिल्ली में 31 हजार 721 तेलंगाना में 30 हजार 673 असम में 28 हजार 208 पश्चिम बंगाल में 24 हजार 336 मध्य प्रदेश में 21 हजार 631 पंजाब में 21 हजार 568 हरयाणा में 21 हजार 14 और जम्मू काश्मीर में 20 हजार 239 एक्टिव मामले हैं।
————
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में शुक्रवार 18 सितंबर का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन। रविवार 20 सितंबर को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं नमस्कार।
(साई फीचर्स)