सर्जरी भी कर सकेंगे अब आयुर्वेद चिकित्सक

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रंखला में रविवार 22 नवंबर का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन.
——
कांग्रेस का सूर्य अब अस्तांचल की ओर बढ़ता दिख रहा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ही अब नेतृत्व को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। कांग्रेस में अंतर्कलह अब खुलकर सामने आ रही है।
बिहार विधानसभा चुनावों के बाद से ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता खुलकर कांग्रेस लीडरशिप पर आवाज उठा रहे हैं। कपिल सिब्बल ने जब खुलकर इसका विरोध किया तो लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जैसे दिग्गज नेताओं ने सिब्बल को आड़े हाथों ले लिया। अब गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला है।
गुलाम नबी आजाद ने कहा कि हमारे लोगों का ब्लॉक स्तर पर, जिला स्तर पर लोगों के साथ कनेक्शन टूट गया है। जब कोई पदाधिकारी हमारी पार्टी में बनता है तो वो लेटर पैड छाप देता है, विजिटिंग कार्ड बना देता है, वो समझता है बस मेरा काम ख़त्म हो गया, काम तो उस समय से आरंभ होना चाहिए।
इससे पहले कपिल सिब्बल ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा, दिक्कत ये है कि राहुल गांधी डेढ़ साल पहले यह साफ कर चुके हैं कि वे अब कांग्रेस का अध्यक्ष नहीं बनना चाहते। उन्होंने यह भी कहा था कि मैं नहीं चाहता कि गांधी परिवार का कोई भी व्यक्ति उस पद पर काबिज हो। इस बात के डेढ़ साल बीत जाने के बाद मैं ये पूछता हूं कि कोई राष्ट्रीय पार्टी इतने लंबे समय तक अपने अध्यक्ष के बिना कैसे काम कर सकती है।
——
मध्य प्रदेश का सिवनी जिला पिछले कुछ समय से भूकंप के मामले में सक्रिय दिख रहा है। अक्टूबर के उपरांत अचानक ही सिवनी जिले मेें एक के बाद एक भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।
सोशल मीडिया पर जमकर चीख पुकार होने के बाद केंद्रीय प्रथ्वी विज्ञान मंत्रालय का एक दल सिवनी आया और उसके द्वारा जिले के तीन स्थानों पर सिस्मोमीटर की स्थापना की गई। इन मीटर्स की स्थापना के बाद शनिवार एवं रविवार की दरमियानी रात में अचानक ही धरती डोली, एक के बाद एक झटके महसूस किए जाने से लोगों में दहशत व्याप्त हो गई। यहां तक कि प्रशासन की ओर से इस बारे में जानकारी दोपहर को ही साझा की गई।
सिस्मोमीटर लगाए जाने और केंद्रीय दल के सिवनी आने के बाद भी इस तरह के झटकों के आने का कारण लोगों के समक्ष स्पष्ट न किए जाने से लोगों में रोष, असंतोष और भय का वातावरण बना हुआ है। रात में आप गहरी नींद में सो रहे हों और अचानक धरती और आसपास की चीजें कांपने लगें तो कैसा लगेगा ? और ऐसा एक नहीं लगभग 15 से 20 दिनों में हर बार हो तो सोचने वाली बात है। ऐसा ही कुछ हो रहा है मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में।
मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में 22 नवंबर की रात 1 बजकर 44 मिनट पर तेज भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 4.7 दर्ज की गई। हुकम इतना छोटा सा कि रात को सोये हुए सिवनी के लोग समझ ही नहीं पाए कि क्या हो रहा है और सब कुछ क्यों हिल रहा है। हालांकि पिछले 4 महीने में सिवनी में भूकंप के और भी झटके महसूस किये जा चुके हैं लेकिन वे भूकंप इतनी ज्यादा तीव्रता के नहीं थे।
शनिवार रात आये इस भकम्प की तीव्रता भयंकर थी। सिवनी के लोग अपनी जान बचाने के लिए नींद से उठकर घरों से बाहर की तरफ दौड़ पड़े। भूकंप की हलचल को सीसीटीवी में भी देखा जा सकता है। भूकंप के डर से लोग पूरी रात नहीं सो पाये। स्थानीय प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार 15 सेकंड तक भूकम्प से धरती कांपती रही। इससे पहले सिवनी में 27 अक्टूबर, 31 अक्टूबर और 09 नवम्बर को भी भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। फिलहाल भूकंप से कोई जनहानी होने की कोई सूचना नहीं प्राप्त हुई है।
—–
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की रफ्तार यूं तो बेहद कम हुई है लेकिन अभी भी प्रतिदिन 5 से 6 हजार मरीज आ रहे हैं।
शनिवार को भी राज्य में कोरोना के लगभग 06 हजार नए मामले सामने आए थे। इस बीच आशंका जताई जा रही है कि महाराष्ट्र सरकार कोरोना पर पूरी तरह नियंत्रण के लिए दोबारा कुछ दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा कर सकती है। हालांकि राज्य के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने अभी ऐसी किसी संभावना से इन्कार किया है। अजित पवार ने कहा, कि अभी कुछ दिन हम हालात की समीक्षा करेंगे और उसके बाद लॉकडाउन लगाने को लेकर कोई फैसला लिया जाएगा। राज्य में इस वक्त लगभग 80 हजार मरीजों का उपचार चल रहा है।
—–
हाथरस मामले की जांच कर रही सीबीआई अब चारों आरोपियों का पॉलीग्राफ टेस्ट कराएगी। सीबीआई की टीम रविवार को अलीगढ़ जेल में बंद चारों आरोपियों को अपने साथ ले गई है। सीबीआई इन सभी का पॉलीग्राफ टेस्ट और ब्रेन मैपिंग कराएगी।
अलीगढ़ के जेल अधीक्षक ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि सीबीआई चारों आरोपियों को कल अपने साथ अलीगढ़ से गुजरात जेल ले गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने कुछ दिन पहले ही मामले की सुनवाई के दौरान कहा था कि पूरी जांच प्रक्रिया की निगरानी इलाहाबाद हाई कोर्ट करेगा।
—–
देश की दिग्गज टेलिकॉम कंपनी एयरटेल के मुखिया सुनील मित्तल का कहना है कि मौजूदा रेट पर बने रहना मुश्किल है।
उन्होंने कहा कि हमें बाजार की स्थितियों को देखते हुए टैरिफ हाइक की ओर बढ़ना चाहिए। यह पूछे जाने पर कि 5जी नेटवर्क में चीनी कंपनियों को एंट्री दी जानी चाहिए य़ा नहीं, सुनील मित्तल ने कहा कि यह बड़ा फैसला है और देश में इस पर जो भी फैसला लेगा, उसे सभी की ओर से स्वीकार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जहां तक टैरिफ की बात है तो एयरटेल का काफी पहले से यह स्टैंड रहा है कि अब कीमतों में बढ़ौत्तरी का वक्त है।
—–
आयुर्वेद में पोस्ट ग्रेजुएट डॉक्टर्स अब 58 तरह के सर्जिकल प्रोसीजर में ट्रेनिंग पाने के साथ प्रैक्टिस भी कर सकते हैं।
बताया गया है कि केंद्र सरकार के निर्देशों के तहत ये डॉक्टर मोतियाबिंद के साथ नासिका, उदर और ट्यूमर के ऑपरेशन भी कर सकते हैं। हालांकि, इस पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने आपत्ति दर्ज कराई है और आयुर्वेद डॉक्टर्स की सर्जरी को मॉडर्न सर्जरी से अलग रखने की सलाह दी है।
दरअसल, पारंपरिक दवाओं की सर्वाेच्च नियामक संस्था सेंट्रल काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन ने अपने नोटिफिकेशन में कहा है कि आयुर्वेद के डॉक्टर स्वतंत्र तौर पर 39 तरह के सर्जरी प्रोसीजर और कान, नाक, गले, आंख से जुड़े 19 तरह के प्रोसीजर्स की ट्रेनिंग हासिल कर सकते हैं। यह पहली बार है जब आयुर्वेद के डॉक्टर्स को 58 तरह के प्रोसीजर्स की मंजूरी के लिए गजट नोटिफिकेशन जारी किया गया।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य, यात्रा या समारोह आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
जम्मू और कश्मीर में पाकिस्तान की नापाक हरकतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अमन बरकरार रखने की तमाम कोशिशों के बाद भी पाकिस्तान घाटी में अशांति फैलाने का कोई न कोई तरीका निकाल ही लेता है।
इसी से जुड़ी एक खबर के मुताबिक अंतर्राष्ट्रीय सीमा के समीप भारतीय सेना को एक सुरंग मिली है। यह सुरंग लगभग 30 से 40 मीटर लंबी है। इसके मुहाने पर सीढ़ियां भी हैं। इसे रेत की बोरियों और लकड़ियों से छुपाया गया था। ऐसा माना जा रहा है कि नगरोटा में मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों ने इसी के माध्यम से घुसपैठ की होगी।
जम्मू में बीएसएफ के आईजी एन.एस. जामवल ने कहा, कि ऐसा लगता है कि नगरोटा एनकाउंटर के आतंकियों ने इसी 30 से 40 मीटर लंबी सुरंग का इस्तेमाल किया होगा क्योंकि यह ताजी बनी लग रही है। उन्होंने कहा कि हमें ऐसा लगता है कि जम्मू हाईवे तक पहुंचने में किसी गाइड ने उनकी मदद की होगी।
—–
मध्य प्रदेश के भिंड जिले में लोगों के बैंक खातों से ऑनलाइन पैसे चोरी करने वालों का गिरोह सक्रिय है।
यह गिरोह ग्रामीण अंचल के मजदूर, किसान, पेंशन धारकों को मुफ्त में एलईडी बल्ब देकर उनके आधार नंबर ले रहा है, बल्कि अंगूठे का निशान भी ले रहा है। फिर उसके अंगूठे के निशान का रबर स्टांप बनवाया जा रहा है। बैंक खाते से आधार कार्ड लिंक होने के कारण उससे खाते की डिटेल निकालते हैं और उपभोक्ता के अंगूठे के थंब इंप्रेशन के ऑप्शन पर रबर स्टांप का इस्तेमाल कर उनके खातों से पैसा उड़ा रहा है।
पिछले दो महीने में इस इस प्रकार की 100 से ज्यादा शिकायतें पुलिस के पहुंची हैं। वहीं 46 लोगों के खातों से 11 लाख रुपए से अधिक ठगी करने वाले अज्ञात आरोपियों के खिलाफ लहार और ऊमरी थाना में रिपोर्ट भी दर्ज कर ली गई है। इस प्रकार की शिकायतों को देखते हुए पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने इस मामले को गंभीरता से लिया। साथ ही उन्होंने कियोस्क सेंटर संचालकों की एक बैठक बुलाई।
—-
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज में शरद खरे से रविवार 22 नवंबर का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन। सोमवार 23 नवंबर को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें, सब्सक्राईब कैसे करना है यह प्रत्येक वीडियो के अंत में हम आपको बताते ही हैं। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)