कोविन ऐप पर नहीं होगा वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन!

जानिए कैसे और कौन लगवा सकेंगे सीनियर सिटीजन्‍स कोटे से वैक्सीन . . .

(ब्‍यूरो कार्यालय)

नई दिल्‍ली (साई)। देश में कोरोना वैक्सीनेशन का नया फेज शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई VVIPs ने सोमवार को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगवाया। कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन में आ रही दिक्कतों के बाद हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा है कि Co-WIN ऐप के बजाय वेबसाइट पर ही वैक्सीनेशन के लिए अपॉइंटमेंट लें।

मंत्रालय ने कहा कि कोविन ऐप सिर्फ कोविड-19 वैक्सीन के प्रशासन से जुड़े मामलों के लिए है। रजिस्ट्रेशन और अपॉइंटमेंट के लिए नहीं। हेल्थ मंत्रालय ने एक ट्वीट कर कहा कि अगर आपको वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराना है और अपॉइंटमेंट लेना है तो उसके लिए http://cowin.gov.in पर जाएं।

यहां क्लिक कर कराएं सीनियर सिटीजन अपना पंजीयन

http://cowin.gov.in

प्रधानमंत्री मोदी ने कोवैक्सिन लगवाई तो भारत बायोटेक के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. श्रीकृष्ण एल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री ने खुद हमारी वैक्सीन लगवाई और हम इस बात को लेकर बेहद खुश हैं। उन्होंने देश के सामने मिसाल पेश की है। जो लोग वैक्सीन लगवाने से डर रहे थे, अब वे आगे आएंगे और उनके बीच भरोसा बनाने में मदद मिलेगी। वहीं, हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन ने कहा कि विपक्ष के नेताओं को भी आगे आकर वैक्सीन लगवानी चाहिए।

आप भी जानिए कोरोना वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन के बारे में सबकुछ…

दूसरे चरण में कौन वैक्सीन लगवा सकता है?

  • भारत में रहने वाले वह सभी नागरिक जो 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के हैं या 1 जनवरी 2022 को 60 साल के हो जाएंगे।
  • जिनकी उम्र 1 जनवरी 2022 की स्थिति में 45 से 59 वर्ष है और उन्हें लिस्ट में दी गई 20 गंभीर बीमारियों से कोई है।

इस समय कहां हो रहा है कोविड-19 वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन?

  • नागरिक कोविन 2.0 पोर्टल या आरोग्य सेतु जैसे आईटी ऐप्लिकेशन के जरिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं और वैक्सीनेशन के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।
  • वॉक-इन का प्रावधान भी है। अगर किसी अस्पताल या स्वास्थ्य केंद्र में वैक्सीन लगवाने के लिए निर्धारित संख्या में लोग नहीं पहुंचते हैं तो सीधे वहां पहुंचने वाले लोगों को वैक्सीन लगाई जा सकेगी।
  • पात्र बेनेफिशियरी अपनी पसंद के सेंटर का चुनाव कर सकते हैं। उपलब्ध स्लॉट्स के आधार पर अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। सोमवार दोपहर 1 बजे तक दस लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवा लिया है।

कोविन वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कैसे करवा सकते हैं?

  • भारत के नागरिक कोविन पोर्टल (http://cowin.gov.in) पर अपने मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। उन्हें एक OTP भेजा जाएगा, ताकि मोबाइल नंबर वैरिफाई हो सके।
  • रजिस्ट्रेशन के बाद कोविन पर अकाउंट बन जाएगा, जहां उस व्यक्ति का पूरा रिकॉर्ड रखा जाएगा। अकाउंट तक पहुंचने के लिए रजिस्ट्रेशन के समय दिए गए मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करें।
  • एक फोन नंबर से अधिकतम चार अकाउंट बनेंगे। वैक्सीन लगने तक अकाउंट में रिकॉर्ड एडिट या डिलीट कर सकते हैं। वैक्सीन लगने के बाद न तो अकाउंट डिलीट होगा और न ही एडिट हो सकेगा।
  • अकाउंट पर रजिस्ट्रेशन के दौरान ID कार्ड चुनना होगा और उसका नंबर उपलब्ध कराना होगा। वैक्सीनेशन के समय यह ID कार्ड प्रस्तुत करना होगा। आधार कार्ड/लेटर, मतदाता परिचय पत्र, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एनपीआर स्मार्ट कार्ड या पेंशन डॉक्युमेंट पेश कर सकते हैं।
  • आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरी होने पर उसकी स्लिप/टोकन बेनेफिशियरी को उसके मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा।

वह 20 बीमारियां कौन-सी हैं, जो होने पर वैक्सीन लगेगी?

  • अगर बेनेफिशियरी की उम्र 45 से 59 वर्ष है तो उसे इस बात की पुष्टि करनी होगी कि वह सूचीबद्ध 20 में से कोई गंभीर बीमारी से जूझ रहा है। इसके लिए रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर का सर्टिफिकेट पेश करना होगा।
  • इनमें डायबिटीज (शुगर), हाइपरटेंशन, किडनी, लिवर, ल्यूकेमिया, HIV ग्रसित, बोन मेरो फेल्योर और हार्ट फेल्योर समेत 20 गंभीर बीमारियों को शामिल किया गया है। इसके लिए एक फॉर्म भी जारी किया गया है, जिसे डॉक्टर से सर्टिफाई कराना होगा।