09 से चल सकती है बालाघाट होकर रीवा चंदाफोर्ट रेलगाड़ी!

(ब्यूरो कार्यालय)
रीवा (साई)। जबलपुर-गोंदिया होकर शुरू हुई रीवा-इतवारी-रीवा (01754/53) स्पेशल ट्रेन एक पखवाड़े के अंदर ही फुल होकर दौड़ाने लगी है। इस ट्रेन से नागपुर (इतवारी) की यात्रा के लिए स्लीपर द्वितीय श्रेणी में प्रतीक्षा सूची बनने लगी है। जबलपुर-नैनपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज परियोजना पूरी होने के साथ ही इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य होने के बाद इस नए ट्रैक पर अभी दो साप्ताहिक ट्रेन ही चल रही हैं। यात्रियों की मांग को देखते हुए रेलवे ने प्रस्तावित जबलपुर-चांदाफोर्ट स्पेशल को दौड़ाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

दक्षिण का रास्ता सुलभ बनाएगी नई ट्रेन

जबलपुर-चांदाफोर्ट स्पेशल ट्रेन के शुरू होने से शहर से दक्षिण भारत की यात्रा सुलभ होगी। चांदाफोर्ट स्टेशन से बल्लारशाह स्टेशन सिर्फ दस किलोमीटर दूर है। बल्लारशाह से हैदराबाद, बैंगलुरु और चेन्नई की ओर जाने के लिए ट्रेन के कई विकल्प हैं।

जबलपुर स्टेशन से दिखाई जाएगी हरी झंडी
रेलवे की ओर से जबलपुर-चांदाफोर्ट को मुख्य स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर पहली यात्रा में भेजने में तैयारी हो रही है। बताया जा रहा है कि जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज परियोजना को पूरा करने के लिए सांसद राकेश सिंह लगातार प्रयास करते रहे हैं। अब मुख्य स्टेशन में ट्रेन का उद्घाटन समारोह करने की तैयारी है। इसमें सांसद राकेश सिंह एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रह सकते हैं। सांसद की उपस्थिति में रेलमंत्री पीयूष गोयल वर्चुअली कनेक्ट होकर ट्रेन का शुभारंभ कर सकते हैं।

12 कोच की होगी ट्रेन –
ट्रेन 02273 जबलपुर से सुबह 5.15 बजे रवाना होगी। नैनपुर-गोंदिया होते हुए दोपहर 1.50 बजे चांदाफोर्ट पहुंचेगी। वापसी में ट्रेन 02274 चांदाफोर्ट से दोपहर 2.50 बजे रवाना होकर उसी दिन रात 11.25 बजे जबलपुर पहुंचेगी। इसका मदनमहल, नैनपुर, बालाघाट, गोंदिया स्टेशन पर ठहराव रहेगा। इसमें दो एसएलआर सहित कुल 12 डिब्बे होंगे।

एक बार टल चुका है उद्घाटन का प्रस्ताव
रेलवे ने 21 फरवरी को रीवा-इतवारी के साथ ही जबलपुर-चांदाफोर्ट-जबलपुर(02274/73) स्पेशल को प्रारंभ करने की योजना बनाई थी। आखिरी समय पर जबलपुर-चांदाफोर्ट स्पेशल का उद्घाटन टल गया था। अब 9 मार्च से ट्रेन का संचालन शुरू करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इसे पश्चिम मध्य रेल ने स्वीकृति के लिए रेलवे बोर्ड को भेजा है। यदि रेलवे बोर्ड से सहमति प्राप्त होती है, तो यह ट्रेन 9 मार्च से पटरियों पर दौडऩा शुरू कर देगी।