एसपी ने अपने क्षेत्र के सभी पुलिस जवानों को दो-दो केले दिये जाने का जारी किया आदेश!

नमस्कार, ये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया है। अब आप साई न्यूज की समाचार श्रंखला में सुनिये बृहस्पतिवार 26 अगस्त का प्रादेशिक ऑडियो बुलेटिन.
——–
पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने प्रदेश सरकार के अधिकारियों और कर्मचारियों को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि सरकार को दो वर्ष बचे हैं। सरकार बदलते ही सबकुछ देखा जायेगा। सेवा निवृत्त हो जाओगे तब भी फाइलें खुल सकती हैं।
काँग्रेस नेता नूरी खान की उज्जैन से आई यात्रा के समापन अवसर पर कमल नाथ ने कहा कि मोदी सरकार किसानों की हितैषी सरकार नहीं है। जितनी आत्महत्या अफ्रीका के किसानों ने नहीं की उससे अधिक किसानों ने आत्महत्या मोदी सरकार के राज में की है।
कमल नाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा प्रदेश में महिला अत्याचार के मामले में मध्यप्रदेश नंबर वन है। प्रत्येक दिन जनजातियों पर अत्याचार हो रहे हैं। स्वास्थ्य सुविधा ठप्प है। चिकित्सक नहीं, चिकित्सक हैं तो दवा नहीं। शाला है तो शिक्षक नहीं। शिक्षक भी है तो वो अनुपस्थित रहता है।
उन्होंने कहा कि शासकीय कर्मचारियों के माध्यम से ये लोग अपने अगले दो वर्ष काटना चाहते हैं। मैं कहना चाहता हूं दो वर्ष बचे हैं। अपना भविष्य सुरक्षित रखना। आप सेवा निवृत्त भी हो जाओगे तो फाइल तो खुलेगी। आप भारतीय जनता पार्टी का बिल्ला जिस जेब में रखते हैं, वो ध्यान रखना, वो हमें भी मालूम है। आप अपनी वर्दी का सम्मान करें। किसी व्यक्ति पार्टी का सम्मान भले ही न करें, लेकिन अपनी वर्दी का सम्मान अवश्य करें। मैंने कभी किसी पर दबाव नहीं बनाया कि इसे बंद कर दो गिरफ्तार कर दो। मुझे प्रदेश की सोच थी कि हम मध्यप्रदेश का नाम रौशन करें।
कमल नाथ ने कहा कि नरेन्द्र मोदी ने कहा था 20 लाख करोड़ रूपये दे रहा हूं। यदि दिये होते तो इतने लोगों की मौत न होती। इतने संकट में लोगों को जीवन नहीं गुजारना पड़ता। कमल नाथ ने शिवराज सिंह चौहान पर अभिनय करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान मुंबई जायें, अभिनय करें, वे मध्यप्रदेश का नाम रौशन करेंगे।
——–
मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में लम्बित मामलों का बोझ चार लाख से ऊपर पहुँच गया है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जून 2021 की समाप्ति तक हाई कोर्ट के समक्ष 03 लाख 97 हजार 975 मामले लम्बित थे। जुलाई-अगस्त के दौरान दायर नए मामलों को मिलाकर वर्तमान में लम्बित मामलों की संख्या चार लाख पार कर गयी है। हाई कोर्ट में कुल स्वीकृत पदों के मुकाबले वर्तमान न्यायाधीशों की संख्या आधी है। इसी वजह से न्याय-दान प्रक्रिया अपेक्षित गति नहीं पकड़ रही है।
यही कारण है कि पुराने मामले निराकृत नहीं हो पाते और नए मामले दायर हो जाते हैं। हाई कोर्ट में इतनी पेंडेंसी की प्रमुख वजह जजस की कमी को माना जा रहा है। बीते महीने ही छः नए जजस की नियुक्ति के बावजूद फिलहाल हाई कोर्ट की तीनों बेंच में स्वीकृत 53 पदों की तुलना में महज 28 जज कार्यरत हैं। दो और जज सेवा निवृत्त होने हैं। इसके बाद जजस की संख्या महज 26 बचेगी, जो स्वीकृत पदों के आधे से भी कम है।
——–
इंदौर शहर में एक पुलिस अधीक्षक जवानों की सेहत को लेकर काफी फिक्रमंद हैं। इसके लिये उन्होंने एक चिट्ठी भी जारी कर दी है, जिसमें उन्होंने पुलिस जवानों को दो केले खाने के आदेश दिये हैं। इंदौर पुलिस के एस.पी. ने अपने क्षेत्रों में आने वाले सभी थानाध्यक्षों को यह आदेश दिया है कि पुलिसकर्मियों को सुबह-शाम दो-दो केले खाने के लिये दीजिए। इस पर आने वाले खर्च का भुगतान सरकारी खजाने से करवाया जायेगा।
——–
भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पांच सितंबर को जबलपुर पहुँच रहे हैं। वे यहाँ आयोजित होने वाले विविध कार्यक्रमों में शामिल होंगे। लोकसभा के मुख्य सचेतक व सांसद राकेश सिंह ने बताया कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का जबलपुर आगमन प्रस्तावित है। वे यहाँ कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे। कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। शीघ्र ही विस्तृत कार्यक्रम जारी किया जायेगा।
केंद्रीय गृहमंत्री के नगर आगमन की सूचना मिलते ही जिला व पुलिस प्रशासन एलर्ट मोड पर आ गया है। पुलिस ने अपने स्तर पर जहाँ अंदरूनी तैयारी आरंभ कर दी है वहीं जिला प्रशासन ने भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम की दिशा में किये जा रहे कार्यों के बीच गृहमंत्री के आगमन की तैयारियां आरंभ कर दी हैं।
——–
प्रदेश में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 लागू हो गयी है। भोपाल के मिंटो हॉल में बृहस्पतिवार को राज्यपाल मंगूभाई पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई शिक्षा नीति का शुभारंभ किया। इसके साथ ही मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नेशनल रिसर्च फाउंडेशन की तर्ज पर मध्य प्रदेश में भी राज्य शोध एवं ज्ञान फाउंडेशन बनाने की घोषणा की है।
बृहस्पतिवार सुबह मिंटो हॉल में कार्यक्रम हुआ। मुख्य अतिथि राज्यपाल मंगूभाई पटेल थे, जबकि अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। विशिष्ठ अतिथि उच्चशिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव थे। राज्यपाल ने कहा कि अंग्रेजों से पहले भी तक्षशिला और नालंदा जैसी विद्यापीठ थी। पहले इन विद्यापीठों में दुनियाभर से लोग पढ़ने आते थे। ऐसे देश में नई शिक्षा नीति लागू हुई है, जो मध्य प्रदेश की शिक्षा के क्षेत्र में तरक्की की बड़ी वजह बनेगी। राज्यपाल ने कौशल, उन्नयन बढ़ाने के लिये उद्योगों के साथ साझेदारी करने, ऑनलाइन शिक्षा, तकनीकी आदि पर भी जोर दिया।
——–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य, यात्रा या समारोह आदि के लिये फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किये गये हैं, वे 95 से 99 प्रतिशत तक सही साबित हुए हैं।
——–
कौन बनेगा करोड़पति की केबीसी 13 श्रृंखला की हॉट सीट पर मध्यप्रदेश के सागर में तैनात महिला पुलिस अफसर निमिशा अहिरवार पहुँची हैं। निमिशा ने पहले दिन बुधवार को शो में खेलते हुए 1.6 लाख जीते हैं। बृहस्पतिवार को भी वे शो में खेलते हुए दिखायी देंगी। निमिशा अहिरवार ने मीडिया से कहा मैंने सोचा नहीं था कि केबीसी में कभी मेरा भी नंबर लगेगा और मैं हॉट सीट पर पहुँच पाऊंगी। माँ प्रभादेवी के कहने पर 09 मई को केबीसी के लिये रजिस्ट्रेशन किया।
पुलिस उप निरीक्षक निमिशा बताती हैं कि वर्ष 2015 में पुलिस में चयन होने के बाद प्रशिक्षण के लिय सागर गयीं। प्रशिक्षण के बाद सागर में ही पोस्टिंग हो गयी। यहीं पर विवाह संपन्न हुआ। इसके बाद ड्यूटी में व्यस्त होने के कारण पढ़ाई से दूर हुईं, लेकिन माँ हमेशा कुछ करने का बोलती रहती थी। माता-पिता हमेशा केबीसी देखते थे। उन्होंने मुझे भी केबीसी में रजिस्ट्रेशन करने के लिये कहा।
मैंने उनके कहने पर रजिस्ट्रेशन कर दिया, लेकिन मुझे कभी नहीं लगा कि मेरा भी केबीसी में सिलेक्शन हो जायेगा क्योंकि कई ऐसे लोग हैं, जो कई वर्षों से तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि साक्षात्कार के बाद मुझे केबीसी से बुलावा आ गया। अब चुनौती थी कि तैयारी कैसे की जाये। ड्यूटी और डेढ़ वर्ष के बेटे टिमटिम की देखरेख करने की जिम्मेदारी थी। फिर सोचा अब केबीसी में तो जाऊंगी। फिर क्या ड्यूटी करने के बाद घर पहुँचती। बेटे को सुलाती। बेटे के सोने के बाद जो भी समय मिलता पढ़ाई करती। लगभग एक माह तक केबीसी के लिये तैयारी की।
——–
छत्तीसगढ़ से भटक कर आये जंगली हाथियों ने मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले में आतंक मचा दिया है। अनूपपुर जिले के बेलगाँव में हाथियों ने 06 वर्ष के मासूम सहित तीन लोगों की जान ले ली है। यहाँ खेत में बनी झोपड़ी में पति-पत्नी अपने 06 वर्ष के पोते के साथ सो रहे थे। देर रात डेढ़ से 02 बजे गुस्साए हाथी झोपड़ी में पहुँचे और तीनों को पटक-पटक कर मार डाला।
बृहस्पतिवार सुबह ग्रामीणों ने घटना का पता चलते ही बिजुरी वन परिक्षेत्र के वन विभाग को सूचना दी। मध्य प्रदेश में जंगलों में घूमने वाले हाथियों द्वारा ग्रामीणों को मारने की संभवतः यह पहली घटना है। वन विभाग ने मृतकों के परिजन को 12 लाख रूपये मुआवजा देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस घटना पर दुःख जताया है।
मृतकों में बेलगाँव के 55 वर्षीय गया प्रसाद पिता नोहर शाह, 52 वर्षीया मुन्नी बाई पति गया प्रसाद और महज छः वर्ष का राजकुमार पिता पवन केवट शामिल है। सुबह प्रशासन के साथ ही वन विभाग का अमला मौके पर पहुँचा। घटना के बाद से ही परिजन और ग्रामीण गुस्से में हैं। हाथियों का उचित प्रबंधन नहीं होने के कारण उन्होंने आक्रोश जताया।
——–
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रंखला में शरद खरे से बृहस्पतिवार 26 अगस्त का प्रादेशिक ऑडियो बुलेटिन। शुक्रवार 27 अगस्त को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, जय हिन्द।
(साई फीचर्स)