समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के लिंक हो रहे संबंधितों को ट्वीट

पीएमओ, रेल मंत्री, रेल्वे बोर्ड के अध्यक्ष, रेल मंत्रालय, जे.पी. नड्डा आदि को बड़ी तादाद में लोग भेज रहे लिंक
(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। 2015 से लगातार अमान परिवर्तन का काम सिवनी जिले में चल रहा है। इसके बाद भी सिवनी जिले के जिला मुख्यालय में छः सालों में ब्राडगेज की सीटी सुनाई नहीं दे पाई है। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा इस संबंध में ठेकेदार और रेल्वे के अधिकारियों की कलई लगातार ही खोली जा रही है।
समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के दिल्ली ब्यूरो से वाय.के. पाण्डेय ने पीएमओ, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के कार्यालयीन सूत्रों के हवाले से बताया कि रोजाना ही दर्जनों की तादाद में समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के लिंक जिनमें बालाघाट संसदीय क्षेत्र के सिवनी जिले के हिस्से में अमान परिवर्तन के काम को रेल्वे के अधिकारियों और संबंधित ठेकेदारों के द्वारा विलंबित किया जा रहा है की खबरों का प्रसारण प्रमुखता से किया जा रहा है, उनके लिंक ट्विीट किए जा रहे हैं।
पीएमओ के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि मंगलवार 31 अगस्त को दोपहर तक बालाघाट संसदीय क्षेत्र के सिवनी जिले के हिस्से में अमान परिवर्तन के काम में अनावश्यक विलंब से संबंधित लगभग 320 विभिन्न ट्वीट मिल चुके थे। अभी इन सभी ट्वीट्स को प्रधानमंत्री के कम्युनिकेशन सेक्रेटरी के पास भेजा गया है। उनके द्वारा इन ट्वीट्स की समरी को देखने के उपरांत इन्हें आगे वरिष्ठ अधिकारियों तक अगर उचित प्रतीत हुआ तो भेजा जा सकता है।
इधर, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के निवास के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि बालाघाट संसदीय क्षेत्र के सिवनी जिले के हिस्से में काम को बहुत ही धीमी गति से कराए जाने से संबंधित अखबारों की कतरने, वेब साईट्स के लिंक, वीडियोज आदि लगातार ही मिल रहे हैं। फिलहाल रेलमंत्री का स्टाफ एक प्रोजेक्ट के तहत व्यस्त होने के कारण इन्हें संकलित कर रखा जा रहा है। एकाध सप्ताह में जैसे ही रेलमंत्री के स्टॉफ के कर्मचारियों को समय मिलेगा वे इसका परीक्षण अवश्य करेंगे। कमोबेश यही आलम रेल्वे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा के कार्यालय की स्थिति है।
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के बहुत करीबी एक कर्मचारी ने पहचान उजागर न करने की शर्त पर समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कहा कि वे जेपी नड्डा के साथ सालों से हैं, पर यह पहला मौका है जब भाजपा के किसी पदाधिकारी को सांसद के बजाए अधिकारियों की शिकायत सीधे मिल रही है। उनका कहना था कि संचार क्रांति के युग में बातों को छिपाना बहुत ही दुष्कर होता है। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा बालाघाट संसदीय क्षेत्र के सिवनी जिले के हिस्से में रेल्वे के अमान परिवर्तन के काम के संबंध में मिले ट्वीट पर एक ब्रीफ नोट बना लिया गया है, जो जे.पी. नड्डा की व्यस्तताओं के बीच समय मिलते ही उन्हें दिखा दिया जाएगा, क्योंकि अधिकारियों की इस तरह की लेटलतीफी (जैसा कि खबरों, कतरनों और वीडियो के जरिए स्पष्ट हो जाता है) से बालाघाट संसदीय क्षेत्र के अलावा आस पास के गोंदिया, नागपुर, मण्डला, छिंदवाड़ा, जबलपुर आदि संसदीय क्षेत्रों पर इसका प्रभाव भी नकारात्मक पड़ने की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता है।

आप भी भेज सकते हैं खबरों, फोटो, लिंक के ट्वीट

अगर आपको लगता है कि बालाघाट संसदीय क्षेत्र के सिवनी जिले के हिस्से में भोमा से सिवनी होकर चौरई तक के काम को रेल्वे के अधिकारियों या ठेकेदार के द्वारा अनावश्यक रूप से विलंबित किया जा रहा है तो आप भी खबरों, कतरनों, फोटो, लिंक आदि को रेल मंत्री, पीएमओ, रेल्वे बोर्ड के अध्यक्ष या भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को ट्वीट कर भेज सकते हैं।
इसके लिए अपको अपने ट्वििटर एकाऊॅट में सर्च बटन पर जाकर अंग्रेजी में PMO अथवा Ministry of Railways अथवा rail minister अथवा Office of JP Nadda अथवा AshwiniVaishnaw  आदि लिखना होगा। इसके बाद आप प्लस के बटन को दबाकर उन्हें ट्वीट कर सकते हैं।