विपक्ष में बैठी कांग्रेस अब भाजपा पर हुई हमलावर!

स्थानीय मामलों में कांग्रेस ने सत्तारूढ़ भाजपा को लेना आरंभ किया आड़े हाथों! तल्ख आरोप वाली विज्ञप्तियां फूंक सकती हैं कांग्रेस में जान! कांग्रेस का आरोप, सत्ता के नशे में चूर हैं सांसद विधायक!
(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। एक तरफ तो बढ़ती भीषण महंगाई में हम सबकी कमर तोड़कर रख दी है, वही दूसरी ओर मच्छरों का प्रकोप पूरे शहर में फैला हुआ है, डेंगू के मरीज निरंतर बढ़ रहें है इन सबके बाद भी नगर पालिका प्रशासन पूरी तरह निष्क्रिय है। न ही फागिंग मशीन न ही दवा का छिड़काव न ही कीटनाशक पाउडर वार्डो में डाला जा रहा है न ही ठीक ढंग से साफ-सफाई हो रही है।
उक्ताशय की बात जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजकुमार खुराना द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति कही गई है। उन्होंने कहा कि शहर में पुरानी नालियॉ गंदगी से बजबजा रही है और नई बन रही नालियों की मिट्टी बेतरतिबी से सड़क पर फैले होने के कारण दुर्घटनाअेंा को आमंत्रण दे रही है, नगर के तीनों रेल्वे क्रासिंग के आस पास की सड़के ध्वस्त हो चुकी है। महीनों से स्ट्रीट लाईन बंद पडी हुई है, शिकायत करने पर भी स्ट्रीट लाईट चालू नही हुई, सिवनी नगर की परिस्थितियों को देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि इस नगर की सुध लेने वाला कोई नहीं है। अभी कुछ दिन हुये है कोरोना संक्रमण की भयावह परिस्थितीयों से पूरी तरह उबर नही पाये है, ये गंदगी से पैदा होने वाली बीमारियों का प्रकोप शुरू हो गया है, किन्तु लगता है कि नगरपालिका प्रशासन की कुंभकर्णी नीद एक बार भी शहर को बीमारी की ओर ढ़केलकर खुलेगी। भाजपा के सांसद, विधायक सत्ता के नशे में चूर है।
श्री खुराना ने आगे कहा कि भाजपा के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को नगर की समस्याओ, लोगो के स्वास्थ्य की जरा भी चिंता नही है, सरकारी कार्यक्रमों में फोटो खिचवाने से फुर्सत मिले तब नगर की चिंता करेगें, यदि समय रहते इन सब बातो पर ध्यान नही दिया गया तो इसके गंभीर परिणाम हमें भोगने पड़ सकते है। जिला कांग्रेस कमेटी सिवनी नगर पालिका प्रशासन को आगाह करती है कि यदि इन परिस्थितीयों में बदलाव का प्रयास उनके द्वारा आरंभ नही किया गया तो हमें जनहित में आंदोलन के लिये मजबूर होना पडे़गा।

सामाजिक न्याय की सामग्री बांटकर खुद श्रेय लेना चाहती है भाजपा!

मात्र दिखावे के लिये लोगो की सेवा करना भाजपा की आदत बन गयी है एक किलो आलू और एक दर्जन दयालू की तर्ज पर जिला भाजपा ने सामाजिक न्याय विभाग की सरकारी सामाग्री भाजपा कार्यालय से बाटकर अपने आपको दिव्यांगो के बहुत बडे़ शुभचिंतक बताने का प्रयास कर रहें है।
जिला कांग्रेस आईटीसेल अध्यक्ष ऐश्वर्य सुमित मिश्रा ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि जिला भाजपा द्वारा अखबारों और सोशल मीडिया में ऐसे फोटो छपवा रहे है मानों भाजपा नेताओं ने स्वयं के खर्चे पर दिव्यांगो को यह सामाग्री बाटी हो। कभी अपने पार्टी फंड से ऐसे लोगो की कोई मद्द नही की गयी। सरकारी कार्यक्रमों में भी सरकारी खर्चे पर फ्लेक्स में फोटो और मंच में उर्पिस्थती भाजपा के नेताओं की दिखाई देती है, जिले के दिव्यांगो की क्या समस्या है भाजपा सरकार द्वारा इसकी कोई सुध नही ली जा रही है।
उन्होंने कहा कि दिव्यांगो की मांग है इलेक्ट्रानिक ट्राई सायकल और अन्य उपकरण जोकि सरकार उपलब्ध नही करा पा रही है। दिव्यांगो की पेंशन समय पर नही मिल रही है, कमल नाथ की सरकार में पेंशन को दोगुना किया गया था। हाथ से चलाने वाली ट्राई सायकल में दिव्यांगो को कितनी परेशानी होती है इसका अंदाजा कार में घूमने वाले भाजपा नेताओं को नही है। सरकारी सामाग्री बाटकर अपने आप को परोपकारी बताने वाले भाजपा के नेता फोकट का चंदन-घीस मेरे नंदन की वाली कहावत को चरितार्थ कर रहें है।
जिला कांग्रेस आईटीसेल अध्यक्ष ऐश्वर्य सुमित मिश्रा ने कहा कि सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी भाजपा के सामने नतमस्तक है दिव्यांगो को वितरित की जाने वाली सरकारी सामाग्री क्या किसी पार्टी कार्यालय से पार्टी प्रचार-प्रसार के लिये बाटी जा सकती ह,ै क्या ? विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों को इस बात का जवाब देना चाहिये। यदि भाजपा को परोपकार का इतना ही शौक है तो इस तरह का वितरण और आयोजन अपने कार्यालय में स्वयं के खर्चे से करना चाहिये।