पुरानी ट्रेन को हरी झंडी दिखाना हास्यास्पद : अनूप सिंह बैस

सिवनी ब्रॉडगेज कार्य की धीमी गति से आक्रोश, लोकल ट्रेन का स्पेशल के नाम पर किराया किया तीन गुना, कटंगी तिरोड़ी, बालाघाट जबलपुर तथा नैनपुर मंडला के मध्य लोकल ट्रेनें चलाने के लिए आंदोलन किया जाएगा तेज
(ब्यूरो कार्यालय)


बालाघाट (साई)। बालाघाट और मण्डला संसदीय क्षेत्र में रेल सुविधाओं के अभाव और भोमा, सिवनी, कर्राबोह सेक्शन में रेलवे के धीमी गति से काम किए जाने को लेकर अब जनता में रोष और असंतोष तेजी से पनपता दिख रहा है। उक्ताशय की बात ब्राडगेज संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप सिंह बैस द्वारा जारी विज्ञप्ति में कही गई है।


ब्रॉडगेज रेल संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप सिंह बैंस ने बालाघाट, गोंदिया, कटंगी तथा तिरोड़ी, तुमसर के मध्य मेमू के बजाए डेमू स्पेशल ट्रेन प्रारंभ होने पर क्षणिक संतोष जाहिर करते हुए कहा कि हम पुरानी ट्रेन के तीन गुना बढ़े हुए किराए पर खुशी तो नही व्यक्त कर सकते न ही इसे उपलब्धि कह सकते हां भारतीय जनता पार्टी के कुछ लोगों ने इस पुरानी ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर जरूर निर्लज्जता का परिचय दिया है क्योंकि यह पुरानी ट्रेन थी, इस रेलगाड़ी को इस तरह हरी झंडी दिखाई गई मानो उनके प्रयासों से बालाघाट में नई रेल सुविधा आरंभ कराई हो।


इसके साथ ही अनूप सिंह बैस ने कहा कि जहां एक ओर बालाघाट से कन्हर गांव का बस किराया दस रूपए है वहीं रेल विभाग ने इसे तीस रूपए कर ट्रेन प्रारंभ होने को गरीब आदमी के लिए औचित्य हीन बना दिया है। इस तरह उन्होंने पचास किलो मीटर का न्यूनतम किराया तीस रूपए कर एक साथ कई सवाल खड़े कर दिए हैं, जबकि पूर्व में बालाघाट से गोंदिया का रेल किराया दस रूपए था जिसे बढ़ाकर तीस रूपए कर दिया है।
अनूप सिंह बैस ने आगे कहा कि भाजपा आपदा में अवसर ढूंढकर अत्याचार कर रही है एवं जिस ट्रेन को गोंदिया से बालाघाट, वारासिवनी, कटंगी, तिरोड़ी, तुमसर, भंडारा, नागपुर के मध्य चलाना था उसे कटंगी से वापस करना बेहद आपत्ति जनक है जबकि कटंगी, तिरोड़ी तथा बालाघाट, जबलपुर, मंडला का ब्रॉडगेज कार्य पूर्ण हो चुका है।
ब्राडगेज संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप सिंह बैस ने आगे कहा कि इस तरह गरीब आदमी को राहत देने के बजाए इस अत्याचार के चलते ब्रॉडगेज रेल संघर्ष समिति ने कोई उत्सव नही मनाया। श्री बैस ने सांसद ढाल सिंह बिसेन को चेतावनी देते कहा है कि हरी झंडी दिखाकर श्रेय लेने की झूठी नौटंकी को बंद करें तथा वे सिवनी ब्रॉडगेज कार्य में तीव्रता लाने प्रयास करें। रेल विभाग बढ़ा हुआ रेल किराया वापस ले तथा नए ब्रॉडगेज ट्रेक पर सामान्य लोकल ट्रेनें प्रारंभ करे। यह सभी मांगे पूर्ण न होने पर ब्रॉडगेज रेल संघर्ष समिति सम्पूर्ण महाकौशल क्षेत्र में सघन जन आंदोलन आगामी दो अक्टूबर से करने जा रही है।