मेरे पिता जी ने भी इसमें मुझे मदद दी है . . .

शिक्षक ने क्लास में लडके की कॉपी जांचते हुए उससे कहा- मुझे आश्चर्य होता है कि तुम अकेले इतनी सारी गल्तियां करते हों?

लडके ने खडे होकर कहा – यह सब गल्तियां मैंने अकेले नहीं की हैं, मेरे पिता जी ने भी इसमें मुझे मदद दी है।

(साई फीचर्स)