००मैंने देखे पेड़००

+-+-+-+ मित्र ने कहा मुझसे विद्यालय के बरामदे में पड़े अस्त-व्यस्त फर्नीचर को देखकर देखो मित्र कैसी पड़ी है बेंचे पैर ऊपर किए मैंने

Read more