शरीर की कमी नहीं बनी बाधक

 

 

 

 

इस महिला का नाम एमी रिवेरा है। एमी लिम्फेडेमा नामक एक दुर्लभ बीमारी से पीड़ित हैं जिसके चलते उनके एक पैर में भारी सूजन आ गई है। उनका एक पैर दूसरे पैर की तुलना में काफी ज्यादा फूला हुआ है। इसके चलते एमी को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ा।

बचपन में स्कूल में उनके साथी उन्हें हाथी पांव कहकर बुलाया करते थे। इन सारी बातों को दरकिनार कर एमी ने मिस जूनियर अमरीका में भाग लिया और काबिलियत के दम पर उन्होंने जीत भी हासिल की। 38 साल की उम्र में एमी अभी भी ट्रीटमेंट करा रही हैं और आखिरकार उन्हें एक ऐसा डॉक्टर मिल ही गया जिनकी देखभाल के चलते उनका पैर धीरे-धीरे सामान्य स्थिति में आ रहा है।

अपने पैरों को एमी हमेशा बांधकर रखती हैं, लेकिन इसका असर कभी उनके काम पर नहीं पड़ा वह हर रोज खुद को सुधारने के लिए कड़ी मेहनत करती हैं। आप खुद ही देख लें।

(साई फीचर्स)

5 thoughts on “शरीर की कमी नहीं बनी बाधक

  1. Pingback: Earn Fast Cash Now
  2. Pingback: Devops
  3. Pingback: 토토사이트

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *