गुटबाजी में उलझी भाजपा, प्रदेश चुनाव समिति की बैठक विफल

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की हालत काँग्रेस से भी ज्यादा खराब दिख रही है। स्वयं से ज्यादा संगठन और संगठन से ज्यादा राष्ट्रहित की बात करने वाली भाजपा अब गुटबाजी के कैंसर का शिकार हो चुकी है।

हालात यह हैं कि प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से एक भी सीट पर नाम फाईनल नहीं हो पाया। अब फैसला हाईकमान पर छोड़ दिया गया है, ठीक वैसे ही जैसे काँग्रेस में होता रहा है।

बैठक के बाद प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ने बताया कि, प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में सभी 29 सीटों पर दावेदारों के नामों को लेकर चर्चा हुई। इसी आधार पर एक सूची बनायी गयी है, जिसे प्रदेश अध्य़क्ष दिल्ली लेकर जायेंगे। वहाँ केंद्रीय चुनाव समिति ये तय करेगी कि कौन सा उम्मीदवार किस सीट से मैदान में उतरेगा। निर्णय जल्द हो जायेगा।

बैठक में शामिल होने के लिये प्रदेश प्रभारी डॉ.विनय सहस्त्रबुद्धे, डॉ.अनिल जैन और केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत भोपाल पहुँचे थे। वहीं प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा प्रदेश भाजपा और संगठन से जुड़े कई आला नेता बैठक में उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *