मेडिकल लीव पर घर नहीं गये अभिनंदन

 

 

 

 

टीम के साथ काम करने का फैसला

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। पाकिस्तान के एफ16 फाइटर जेट को मिग-21 बाइसन से गिराकर चर्चा में आये भारतीय वायु सेना के फाइटर पायलट अभिनंदन वर्धमान अपने काम को लेकर कितने गंभीर हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अपने चार सप्ताह की मेडिकल लीव घर पर बिताने की जगह उन्होंने श्रीनगर स्थित अपनी टीम को ज्वॉईन करना बेहतर समझा।

दिल्ली स्थित आरआर हॉस्पिटल में हुई डीब्रीफिंग के कुछ दिन बाद विंग कमांडर अभिनंदन को चार सप्ताह तक मेडिकल लीव पर रहने का सुझाव डॉक्टरों ने दिया था। वायु सेना के सूत्रों ने बताया, सिक लीव के दौरान उनके पास चेन्नै स्थित घर जाने का विकल्प था जहाँ उनके माता – पिता रहते हैं, लेकिन उन्होंने श्रीनगर जाने का फैसला किया जहाँ उनका स्क्वॉड्रन ऑपरेशन के लिये तैनात है।

सूत्रों ने बताया, इस वक्त, उन्होंने श्रीनगर स्थित अपनी टीम एवं मशीन के साथ रहने का फैसला किया और उन्हें मेडिकल बोर्ड की रिव्यू के लिये दिल्ली आना होगा, जहाँ उन्हें बताया जायेगा कि वे विमान उड़ाने के लिये फिट हैं या नहीं। सूत्रों ने बताया कि वे अपना मेडिकल लीव कहाँ बिताना चाहते हैं, यह तय करने का विकल्प उनके पास है।

उल्लेखनीय है कि 27 फरवरी को भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास कर रहे एफ-16 विमान को खदेड़ते हुए अभिनंदन पाक अधिकृत कश्मीर में घुस गये थे जहाँ उन्हें पकड़ लिया गया था। उन्होंने इससे पहले एफ-16 विमान को गिरा दिया था। वह सुरक्षित अपने पैराशूट से उतरे थे लेकिन वहाँ मौजूद लोगों ने उन्हें पकड़कर उनके साथ मारपीट की थी। हालांकि, दो दिन बाद उन्हें रिहा कर दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *