कलेक्टर चौधरी के खिलाफ हिंदू संगठन भड़के

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एवं ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी के खिलाफ हिंदू संगठन लामबंद हो गए हैं। आरोप है कि अनुराग चौधरी आईएएस ने हिंदू देवी-देवताओं का अपमान किया है। उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग की गई है। बता दें कि अनुराग चौधरी को हाल ही में ग्वालियर कलेक्टर बनाकर भेजा गया है। अनुराग चौधरी आईएएस ने ऐसे किसी भी आदेश का खंडन किया है।

विदिशा में विभिन्न हिंदू संगठनों ने मंगलवार को ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर सिविल लाइन थाने में शिकायती आवेदन दिया। आवेदन में बताया है कि ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने एक बैठक के दौरान अधिकारियों को शासकीय कार्यालयों में लगे देवी-देवताओं के पोस्टर, चित्र, कैलेंडर और मूर्तियां हटाने के मौखिक निर्देश दिए हैं, जो कि ग्वालियर कलेक्टर का तानाशाह रवैया दर्शाता है।

हिंदू एकता मंच के सदस्य सुरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि अधिकारियों व कर्मचारियों पर दबाव डालकर डालकर हिंदू देवी देवताओं के चित्र, कैलेंडर आदि हटवाने और धार्मिक स्वतंत्रता का हनन करने के मामले में ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के लिए एक शिकायती आवेदन सिविल लाइन थाना प्रभारी राजेश सिन्हा को दिया गया है।

कलेक्टर ने खबर का खंडन किया

कलेक्टर चौधरी ने इस खबर का खंडन किया है। अपने बयान में उन्होंने कहा कि मेरा एक प्रश्न सभी नागरिकों से, क्या कोई व्यक्ति जो बात आपने कभी बोला ही ना हो। उसको ऐसे प्रस्तुत करे कि यह आपने बोला है। उसको आपका नाम लेकर किसी जगह प्रकाशित करे? वो बात बहुत सनसनीखेज हो और बहुत लोगों को दुख पहुंचाती हो? क्या सनसनी फैलाने के लिए झूठ को तोड़ मरोड़ कर प्रस्तुत करना अच्छी बात है? Disclaimer: मैं निजी जीवन में धार्मिक व्यक्ति हूँ। मैं सभी धर्मों का आदर करता हूं। आप कुछ नया कुछ अच्छा करने की शुरुआत करते हैं तभी कोई ऐसा कर देता है।