अग्रवाल समाज का गणगौर उत्सव संपन्न

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। सिवनी में जबलपुर रोड पर स्थित अग्रोहा सेलिब्रेशन में गणगौर उत्सव पर आयोजित कार्यक्रमों में अग्रवाल समाज की बेटियों ने गत दिवस एक से बढ़कर एक धमाकेदार कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।

राजस्थानी व मारवाड़ी लिबास में सजीं नवविवाहित दुल्हनों का पांपरिक डान्स देखकर उपस्थित महिलाओं की तालियों की गड़गड़ाहट से कार्यक्रम स्थल गूंज उठा। डान्स ग्रुप ने अपनी प्रस्तुति से पुरानी यादों को ताजा कर दिया। वहीं नये व पुराने गीतों के बीच तालमेल बनाकर दी गयी परफॉर्मेन्स ने सबका मनमोह लिया। अग्रोहा सखी मंच द्वारा आयोजित अग्रवाल समाज के इस कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में अग्रोहा सखी मंच द्वारा अग्रसेन महासभा के पदाधिकारियांे को भवन परिसर में पौधारोपण को बढ़ावा देने हरे-भरे पौधे भेंट किये। कार्यक्रम में उपस्थित अग्रसेन महासभा के अध्यक्ष श्रवण अग्रवाल, उपाध्यक्ष सत्य नारायण अग्रवाल, महा सचिव नरेश अग्रवाल, सह सचिव बसंत अग्रवाल, अनिल खेमुका, प्रवक्ता संजय अग्रवाल, किशन अग्रवाल ने प्रतिभागियों का हौसला बढ़ाया। आमंत्रित अतिथियों में डॉ.श्रीमति अनामिका अग्रवाल, श्रीमति निर्मला अग्रवाल ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों में प्रस्तुति के आधार पर प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहने वाले प्रतिभागियों के नामों की घोषणा की।

गणगौर उत्सव का प्रारंभ सोलह श्रृंगार कर रेशमी लिबास में सजी दुल्हानों ने प्रजेन्स ऑफ माईंड के सवालों का जवाब देकर किया। ससुराल के तौर तरीकों से जुड़े सवालों का नव विवाहितों ने खूबसूरती से जवाब दिये। सोलह श्रृंगार में श्रीजल अग्रवाल ने प्रथम, भावना अग्रवाल ने द्वितीय, राधिका अग्रवाल ने तृतीय स्थान हासिल किया। अन्य प्रतिभागियों में शामिल शालू, मोनिका, पायल व रीना अग्रवाल को आयोजन समिति द्वारा सांत्वना पुरूस्कार दिये गये।

बेटियों के अलग – अलग ग्रुप ने प्रतियोगिता में जबरदस्त डान्स की प्रस्तुति दी। 1940 के दशक से अब तक बनी फिल्मों के गीतों को क्रम बद्ध कर दी गयी डान्स प्रस्तुति ने उपस्थित लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। प्यार हुआ है… इकरार हुआ है..। बदन पर सितारे लपेटे हुए..। सच है प्रिया सब कहते हैं मैंने…। झुमका गिरा रे…। जैसे गीतों ने कार्यक्रम में समां बाँधे रखा।

नये पुराने गीतों की थ्योरी पर आधारित डान्स परफॉर्मेन्स की सब ने जमकर तारीफ की। वहीं देशभर में उत्साह से मनाये जाने वाले गणगौर उत्सव पर प्रांतीय वेशभूषा में दी गयी बेटियों की प्रस्तुति ने सभी का मनमोह लिया। गुजराती, राजस्थानी, पंजाबी, महाराष्ट्रीय सहित प्रांतीय अंदाज मंे प्रस्तुत किये गये कार्यक्रम को जमकर सराहा गया। इस प्रस्तुति के लिये मस्तानी ग्रुप को प्रथम पुरूस्कार दिया गया। सतरंगी डान्स ग्रुप ने द्वितीय व ओल्ड एण्ड न्यू ग्रुप ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कार्यक्रम के दौरान मनोरंजक व ज्ञानवर्धन सवालों का त्वरित जवाब देने पर उपस्थितजनों को पुरूस्कृत किया गया। लकी ड्रॉ में प्रथम पुरूस्कार सरिता अग्रवाल, द्वितीय पुरूस्कार साक्षी अग्रवाल ने जीता। इसके अलावा निर्धारित समय पर कार्यक्रम स्थल पहुँचने वाले प्रतिभागियों को भी पुरूस्कार दिये गये। कार्यक्रम का मंच संचालन प्रीति अग्रवाल, मीना अग्रवाल, शारदा अग्रवाल व अग्रोहा सखी मंच के सदस्यों द्वारा किया गया। सखी मंच के सदस्यों ने कार्यक्रम के अंत में श्रीराधा – कृष्ण के गीतों पर शानदार प्रस्तुति दी।

अग्रोहा सखी मंच के सदस्यों ने जानकारी देते हुए बताया कि 08 अप्रैल को गणगौर उत्सव का समापन विसर्जन के साथ किया जायेगा। गणगौर की शोभा यात्रा शाम 04 बजे दुर्गा चौक से निकाली जायेगी, जो नेहरू रोड होते हुए दलसागर तालाब पहुँचेगी। आयोजन समिति ने अग्रवाल समाज की सभी महिलाआंे से शोभा यात्रा में अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने की अपील की है।