दुर्गंध से बजबजा रहीं शहर की नालियां

असहनीय दुर्गंध कर रही नागरिकों को परेशान

(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। स्वच्छता अभियान की अलख जगाने के लिये नगर पालिका के द्वारा गाना बजाया जाकर घरों घर से कचरा संग्रहित किया जा रहा है किन्तु शहर के अनेक मोहल्लों में नालियां दुर्गंध से बजबजा रही हैं।

नगर में सुबह – शाम पालिका के वाहन भले ही कचरा गाड़ी, कचरा गाड़ी आ गयी की धुन बजाते हुए कचरा संग्रहित कर रहे हों, लेकिन शहर को स्वच्छ बनाने की दिशा में न तो पालिका गंभीर दिखती है और न ही नगर के लोग। शहर का शायद ही कोई क्षेत्र हो जहाँ की नालियों की सफाई नियमित रूप से की जा रही हो।

लोगों का कहना है कि इसके परिणाम स्वरूप नालियों में भरी गंदगी दुर्गंध फैलाने के साथ ही मच्छरों के प्रकोप को बढ़ा रही है जो लोगों के स्वास्थ्य पर विपरीत असर डालने वाला साबित हो रहा है। बार – बार शिकायत करने के बाद भी नालियों की नियमित सफाई न होना लोगों की परेशानी का कारण बना हुआ है।

सुभाष पुतला क्षेत्र हो या टिग्गा मोहल्ला स्थित पानी की टंकी के पास का क्षेत्र अथवा बारापत्थर का क्षेत्र हर स्थान पर कचरे का ढेर भी लोगों की परेशानी का कारण बना हुआ है। शहर के रहवासी अपने घरों का कचरा ले जाकर यहाँ फेंक देते हैं। कचरे में कई ऐसी चीजें भी डाली जातीं हैं, जिन्हें आवारा जानवर खाते हैं और इस दौरान वे ढेर को बगराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

स्वच्छता अभियान के दौरान जब सर्वेक्षण दल के सिवनी आने की बात सामने आयी थी तब अवश्य कचरा गाड़ी के साथ एक कर्मचारी चलता था और घरों से कचरा लेकर गाड़ी में डालता था, पर सर्वेक्षण दल के जाने के बाद कचरा गाड़ी से कर्मचारी ही गायब हो गया है।

कई मोहल्लों में कचरा गाड़ी नियमित नहीं जाने से यहाँ के लोग सड़कों के आसपास ही कचरा डाल देते हैं। इसके  परिणाम स्वरूप ढेर का कचरा फैलकर और हवा में उड़कर पुनः लोगों के घरों और आँगनों तक पहुँचता है। लोग फिर इसे समेटकर उसी ढेर में लाकर डाल देते हैं। इस ढेर की नियमित सफाई न होने से भी गंदगी बढ़ी हुई है।

वहीं, तिलक वार्ड के नागरिकों के द्वारा इस वार्ड की नालियों के कई दिनों से साफ न होने की शिकायतें की जा रहीं हैं किन्तु इसके बाद भी पालिका इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। परिणाम स्वरूप लोग कई तरह की परेशानियों का सामना कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि वार्ड में नलों की पाईप लाईन के समीप से गुजरने वाली नालियों के कारण नलों से उन्हें अशुद्ध पानी प्राप्त हो रहा है। नागरिकों द्वारा पालिका प्रशासन से शीघ्र ही इस वार्ड की नालियों को साफ कर लोगों को राहत दिलाने की अपेक्षा व्यक्त की गयी है।

इसके अलावा बस स्टैण्ड से भैरोगंज जाने वाले मार्ग पर लैया रेग्जीन वर्कस के सामने की नालियों में इस कदर गंदगी व्याप्त है कि वहाँ बैठना ही दूभर हो रहा है। प्रतिष्ठान संचालक लैया नामदेव ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि शाम ढलते ही मच्छरों की फौज से निपटना मुश्किल हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *