राबडी ने की तेज को मानने की कोशिश

 

 

 

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)

पटना (साई)। लोकसभा चुनाव में सियासी सरर्मी के बीच बिहार में लालू प्रसाद यादव के परिवार और उनकी पार्टी आरजेडी में घमासान मचा हुआ है। यह घमासान बाहरी लोगों के कारण नहीं बल्कि घर के भीतर दोनों भाइयों तेज प्रताप और तेजस्वी यादव के बीच मतभेद को लेकर है।

हालांकि लालू यादव की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने तेज और तेजस्वी में किसी भी तरह के विवाद से साफ इनकार किया है। साथ ही राबड़ी ने दावा किया है कि उनका बड़ा बेटा तेज प्रताप जल्द ही घर लौट आएगा।

अपने बेटों तेजस्वी और तेज प्रताप में किसी प्रकार के विवाद से इनकार करते हुए राबड़ी ने कहा, ‘आरजेडी और मेरा घर टूटने वाला नहीं है।तेज प्रताप और तेजस्वी में अनबन के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘ऐसी कोई बात नहीं है। दोनों के बीच बात होती है। फिलहाल तेज सरकारी आवास में रह रहे हैं। पर, जल्द ही वह घर वापस आ जाएंगे।एक टीवी इंटरव्यू में राबड़ी ने कहा, ‘मैं अपने बेटे को जानती हूं। वह सीधा है। विरोधी लोग उसे भड़का रहे हैं। बहुत हुआ बेटा…अब वापस आ जाओ।

कण-कण में लालू हैं

लालू प्रसाद के जेल में रहने के विषय में चर्चा करते हुए राबड़ी ने कहा कि बिहार के लोगों को उनकी कमी खलती है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही राबड़ी देवी ने एक कविता लिखकर लालू को याद किया था। भावुक राबड़ी ने कविता में लिखा था, ….जन जन में लालू है, कण कण में लालू है, हर मन में लालू है।

तेज ने महाभारतसे तेजस्वी को दिया था सख्त संकेत

उधर, दो सीटों पर अपने करीबियों के लिए टिकट मांग रहे तेज प्रताप ने पिछले दिनों भाई तेजस्‍वी यादव को महाभारत के युद्ध की याद दिलाकर संकेत देने की कोशिश की कि वह अपनी मांगों के समर्थन में किसी भी हद तक जा सकते हैं। ट्वीट पर तेज ने लिखा था, ‘महाभारत का युद्ध कौरवों और पांडवों के बीच हुआ था, जिसमें दोनों तरफ से करोड़ों योद्धा मारे गए थे। ये संसार का सबसे भीषण युद्ध था। उससे पहले न तो कभी ऐसा युद्ध हुआ था और न ही भविष्य में कभी ऐसा युद्ध होने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *