पैसे तो नहीं आग उगल रहे एटीएम

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। सिवनी में इन दिनों बैंकिंग प्रबंधन अत्यंत लचर साबित हो रहा है। बैंकों के द्वारा अपने ग्राहकों के साथ मिनिमम बैलेंस की शर्तें तो कठोरता के साथ लागू की गयीं हैं लेकिन लोगों का कहना है कि इन बैंकों के द्वारा स्वयं ही अपने एटीएम को खाली रखा जा रहा है।

उक्त संबंध में एक नागरिक ने बताया कि एटीएम से अपने खाते से रूपये निकालने की जुगत में उसे कई बैंकों के एटीएम के चक्कर लगाने पड़ते हैं तब कहीं जाकर किसी एक एटीएम से उन्हें रकम मिल पायी। यह दुःखड़ा एक अकेला नागरिक नहीं बल्कि शहर के और भी वाशिंदे व्यक्त कर रहे हैं।

गौरतलब होगा कि इन दिनों विवाह जैसे प्रमुख समारोहों का समय चल रहा है और ऐसे समारोहों में लोगों को रकम की सख्त आवश्यकता होती है लेकिन एटीएम जाने पर अधिकांश लोगों के हाथ निराशा ही आती दिख रही है। उधर, सरकारें दावा कर रहीं हैं कि एटीएम में रूपये डाल दिये गये हैं लेकिन सिवनी में लोग अभी भी परेशान ही दिखायी दे रहे हैं।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एक उपभोक्ता ने बताया कि सिवनी में जो एटीएम हैं, उनमें एसी काम ही नहीं कर रहा है अथवा उसे बंद करके ही रखा गया है। इसके चलते कोई उपभोक्ता जब ऐसे एटीएम में प्रवेश करता है तो वह तेज गर्मी के बीच एटीएम चैंबर के अंदर उमस भरी गर्मी से बेतहाशा परेशान हो जाता है। इन दिनों जबकि सिवनी में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास ही घूम रहा है, ऐसे में अपने खाते से रकम निकालने के लिये एटीएम पहुँचने वाले लोगों की हालत अत्यंत दयनीय नजर आती है।

एटीएम से पैसे निकालने की लंबी प्रक्रिया के चलते जो कि कई मर्तबा एक ही बार में पूरी नहीं होती है, एटीएम चैंबर के अंदर गुजारने वाले दो से तीन मिनिट भी लोगों के लिये भारी पड़ते दिखते हैं। इस बीच अच्छा खासा तरोताजा इंसान भी, अंदर व्याप्त भीषण गर्मी के कारण पसीने से तरबतर नजर आने लगता है।

बैंक प्रबंधनों से अपेक्षा की जा रही है कि वे अपने ग्राहकों के प्रति जिम्मेदारी समझते हुए एटीएम में लगे एसी को सुचारू रूप से आरंभ करवायें ताकि वहाँ पहुँचने वाले बैंक के ग्राहकों को किसी प्रकार की अतिरिक्त परेशानी का सामना न करना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *