प्रज्ञा ने जेल की परिक्रमा की है, दिग्विजय ने नर्मदा की

जनता तय करे कौन सही: कम्प्यूटर बाबा

(ब्‍यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के बाद शिवराज सिंह सरकार में दर्जा मंत्री रहे कम्प्यूटर बाबा ने भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (SADHVI PRAGYA SINGH THAKUR) पर हमला बोला है।

कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि प्रज्ञा सिंह ने जेल की परिक्रमा की है, दिग्विजय सिंह ने नर्मदा परिक्रमा की है। जनता खुद तय करे कि कौन सही है कौन नहीं। बता दें कि कम्प्यूटर बाबा कांग्रेस के स्टार प्रचारक हैं। वो कटनी में पत्रकारों से बात कर रहे थे।

यदि रावण साधु के भेष में आ जाए तो उसे साधु नहीं माना जाता

कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल कंप्यूटर बाबा ने कहा कि यदि साधु के वेश में रावण आ जाए तो उसे साधु नहीं माना जा सकता। यही हाल प्रज्ञा ठाकुर का है। साधु-संत जो हैं वह घर्म की तरफ रहते हैं, सदाचार की तरफ रहते हैं। वे साध्वी कैसे हो सकती हैं जबकि उनके ऊपर हत्या, आतंकवाद और बम ब्लॉस्ट जैसे मामलों में केस चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि भोपाल से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के साथ पूरे प्रदेश का संत समाज है।

प्रज्ञा सिंह ने जेल की परिक्रमा की है

उन्होंने कहा कि एक तरफ साध्वी प्रज्ञा ठाकुर हैं और एक तरफ धर्म है। उन्होंने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर जेल की परिक्रमा कर के आईं हैं। वहीं, दिग्विजय सिंह ने मां नर्मदा की परिक्रमा की है। इसलिए जनता खुद सोचे वह वोट किसे दें।

शंकराचार्य ने कहा था: प्रज्ञा सिंह साधु नहीं है

शनिवार को भोपाल में शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने भी कहा था कि प्रज्ञा ठाकुर साध्वी नहीं हैं। उन्होंने कहा था कि अगर वो साध्वी हैं तो अपने नाम के पीछे ठाकुर क्यों लिखती हैं। साधू वो होता है जिसके जीवन की सामाजित मौत हो चुकी हो, लेकिन उनके साथ ऐसा कुछ नहीं हैं।

प्रज्ञा सिंह यदि संत हैं तो संत होने का प्रमाण दें: जीतू पटवारी

मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री जीतू पटवारी ने साध्वी प्रज्ञा भारती से साध्वी होने के सबूत देने कहा है। जीतू पटवारी ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर के आचरण, बोलचाल की भाषा से ऐसा प्रतीत नहीं होता की वे साध्वी हैं। उन्हें अपने साध्वी होने का प्रमाण शब्दों से देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *