आग से खेलना करें बंद : सु्प्रीम कोर्ट

 

 

 

 

 

CJI के खिलाफ साजिश: नाराज SC बोला- आग से खेलना बंद करें, रिटायर्ड जस्टिस की अध्यक्षता में टीम गठित

(ब्‍यूरो कार्यालय)

नई दिल्‍ली (साई)। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने न्यायपालिका पर सोच समझकरकिए जा रहे हमले पर गुरुवार को नाराजगी जताई और कहा कि अब इस देश के अमीर एवं ताकतवर लोगों को यह बताने का समय आ गया है कि वे आगसे खेल रहे हैं और यह रुक जाना चाहिए। वहीं, रिटायर्ड जस्टिस एके पटनायक की अध्यक्षता में जांच टीम बनाई गई है। इसमें उनकी मदद CBI, IB और दिल्ली पुलिस करेंगे।

शीर्ष अदालत एक अधिवक्ता उत्सव सिंह बैंस के उन दावों पर सुनवाई कर रही थी जिसमे प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई को यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसाने के लिए एक बड़ा षड्यंत्र रचे जाने की बात कही गयी है। न्यायालय ने वकील के दावों की सुनवाई करते कहा कि वह अपराह्न दो बजे आदेश देगा।

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति आर एफ नरिमन और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा कि पिछले तीन-चार साल से न्यायपालिका से जिस प्रकार पेश आया जा रहा है, वह उससे बेहद नाराज है। पीठ ने कहा कि वह अपराह्न दो बजे इस मामले में अपना आदेश सुनायेगी।

पीठ ने कहा, ‘पिछले कुछ वर्षों से जिस तरीके से इस संस्था से पेश आया जा रहा है, उसे देखकर हमें कहना पड़ेगा कि यदि ऐसा होगा तो हम काम नहीं कर पाएंगे।न्यायालय ने कहा, ‘इस संस्था को बदनाम करने के लिए एक सोच समझ कर हमला किया जा रहा है और सोच समझ कर यह खेल खेला जा रहा है।न्यायालय ने कहा कि मनमाफिक पीठ के समक्ष सुनवाई कराने के आरोप बहुत ही गंभीर है और उनकी जांच की जानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *