भाजपा की नाकामियों को गिनाया काँग्रेस ने

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। चुनावी बेला में अंतिम समय पर काँग्रेस के द्वारा भाजपा की नाकामियों को गिनाने का प्रयास किया गया है।

काँग्रेस के प्रवक्ता राजिक अकील द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार लगातार 20 वर्षांे से सिवनी में भारतीय जनता पार्टी के सांसद लोकसभा में चुनकर जा रहे है। सिवनी के मतदाताओं ने भरपूर वोट दिया, उसके बाद भी सिवनी अन्य जिलों की तुलना में निरंतर पिछड़ता गया।

विज्ञप्ति के अनुसार सिवनी से भाजपा के प्रहलाद पटेल, स्व.रामनरेश त्रिपाठी, श्रीमति नीता पटेरिया, के.डी. देशमुख, बोध सिंह भगत सांसद रहे। इनके सांसद रहते सिवनी से लोक सभा खत्म कर दी गयी। फोरलेन का काम रोक दिया गया। सिवनी के युवाओं को रोजगार देने वाली डालडा फैक्ट्री, लोहा फैक्ट्री बंद कर दी गयी।

विज्ञप्ति के अनुसार सिवनी, संभाग का मुख्यालय नही बन सका, मेडिकल कॉलेज नही बन सका, कृषि विद्यालय, इंजिनिरिंग कॉलेज की घोषणा, नवोदय विद्यालय की घोषणा, केन्द्रीय विद्यालय की घोषणा, आकाशवाणी केन्द्र की घोषणा, पासपोर्ट कार्यालय की घोषणाएं आज तक सिर्फ घोषणा बन कर रह गयीं हैं।

विज्ञप्ति के अनुसार बड़ी रेल लाईन का काम 2018 तक पूरा हो जाना था, बजट के आभाव में वह आज तक अधूरी पडी है। सिवनी में युवाओं के लिये रोजगार नहीं हैं। इतना बड़ा जिला चिकित्सालय होने के बाद भी समुचित स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं हैं। उच्च शिक्षा के लिये कोई शैक्षणिक संस्थाएं नहीं हैं।

राजिक अकील ने आगे कहा कि नगर में व्यवस्थित बाजार नहीं, चौड़ी सड़कें नहीं हैं। बच्चों के लिये खेल के ग्राउंड नहीं हैं, बड़े आयोजनों के लिये कम्यूनिटी हाल नहीं है। शहर में व्यवस्थित गार्डन नहीं है, पानी के लिये नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में हाहाकार मचा हुआ है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सांसदों के बीते 20 साल के कार्यकाल में जो सिवनी ने खोया है उसे वापस पाने के लिये सिवनी की जनता को सिवनी के हित, सिवनी के विकास के लिये, सिवनी के मान सम्मान के लिये, इस लोकसभा चुनाव में बदलाव करना होगा।

राजिक अकील ने कहा कि भाजपा प्रत्याशी को एक नहीं अनेक अवसर इस क्षेत्र की जनता ने दिये हैं। बड़े-बडे़ पदों में वे रहे हैं लेकिन विकास के नाम पर उनके पास बताने के लिये कुछ भी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *