भूखे भटकते रहे चालक-परिचालक

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला प्रशासन ने दावा किया था कि मतदान दलों के लिये भोजन, रहने के इंतजाम किये गये हैं लेकिन जिला मुख्यालय में ही कई मतदान केंद्रों के बाहर खड़े मतदान दलों के वाहनों के कर्मचारियों ने शिकायत करते हुए बताया कि उन्हें वाहन अधिग्रहण के दिन से भोजन नहीं दिया गया।

चालक परिचालकों का कहना था कि मतदान दलों को भोजन दिया गया लेकिन चालक परिचालकों को पूछा तक नहीं गया। इसके पहले मतदान दल के रवाना होने के पूर्व पॉलीटेक्निक कॉलेज मैदान में भी चालक परिचालक पानी, चाय, नाश्ते और भोजन के लिये तरसे थे। इतना ही नहीं भीषण गर्मी में उनके बैठने के लिये छायादार स्थान तक मौजूद नहीं था।

कई जगह खराब हुई ईवीएम : विधान सभा चुनाव की तरह जिले में कई स्थानों पर आम चुनाव में भी ईवीएम खराब होने की खबरें सामने आयीं। हालांकि इन्हें शीघ्र सुधार लिया गया। जिले के बारी, रणधीर नगर, करेली गाँव आदि स्थानों पर ईवीएम मशीनों के खराब होने की सूचना मिली थी, जिन्हें शीघ्र बदल दिया गया।

दूसरे दस्तावेज महज औपचारिकता : प्रशासन पिछले कई दिनों से विज्ञप्तियां जारी कर मतदान पर्ची के साथ दूसरे दस्तावेज लाने के लिये कह रहा था लेकिन सोमवार 29 अप्रैल को मतदान दिवस के दिन दूसरे दस्तावेज की जरूरत महज औपचारिकता ही साबित हुई। किसी भी स्थान पर लोगों से दूसरे दस्तावेजों की माँग नहीं की गयी। वहीं जिले में शराब की दुकानें शाम छः बजे मतदान खत्म होने के बाद खोली जानी थीं लेकिन जिला मुख्यालय में ही दुकाने शाम साढ़े चार बजे ही खुलना आरंभ हो गयीं थीं।