55 फीसदी ही रहा एकलव्य विद्यालय का परिणाम!

 

 

आये दिन होने वाले विवादों का असर पड़ रहा पढ़ाई पर!

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिले के इकलौते एकलव्य आवासीय विद्यालय को भले ही आईएसओ प्रमाणिक कर दिया गया हो पर इस साल का बाहरवीं कक्षा का परीक्षा परिणाम देखते हुए, इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहाँ किस तरह के माहौल में विद्यार्थी पढ़ाई रहे होंगे।

ज्ञातव्य है कि एकलव्य विद्यालय लंबे समय से विवादों में रहा है। बताया जाता है कि हाल ही में जिला कलेक्टर के द्वारा भी यहाँ के परीक्षा परिणामों को लेकर प्रबंधन को जमकर फटकार लगायी गयी थी। अनेक विवादों के बाद भी यहाँ के प्राचार्य के द्वारा विद्यालय में विद्यार्थियों के अध्ययन पर ज्यादा ध्यान केंद्रित नहीं किया गया।

बताया जाता है कि एकलव्य आवासीय विद्यालय में बारहवीं कक्षा में 45 विद्यार्थी अध्यनरत थे जिनमें से महज 25 विद्यार्थी ही उत्तीर्ण हुए हैं। दस विद्यार्थियों को पूरक की पात्रता आयी है और 09 विद्यार्थी असफल रहे हैं। एकलव्य विद्यालय का इतिहास बहुत ही गौरवशाली रहा है। इस बार यहाँ का परीक्षा परिणाम इतना निराशा जनक रहने से लोगों में मायूसी दिख रही है।

लोगों का कहना है कि एकलव्य आवासीय विद्यालय पिछले कुछ समय से वर्चस्व की जंग का अखाड़ा बनकर रह गया है। इस विद्यालय में आये दिन होने वाले विवादों का गलत असर विद्यार्थियों पर पड़ रहा है, इसके अलावा परीक्षा परिणाम के इस तरह निराशा जनक आने का दूसरा कोई कारण शायद ही हो। क्षेत्रीय लोगों ने जिला प्रशासन के ध्यानकर्षण की जनापेक्षा व्यक्त की है।

7 thoughts on “55 फीसदी ही रहा एकलव्य विद्यालय का परिणाम!

  1. Pingback: Buy Weed Online
  2. Pingback: powdered wig
  3. Pingback: best cbd reddit
  4. Pingback: CI CD

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *