गेहूँ खरीदी के नाम पर लुट रहे किसान!

 

 

काँग्रेसी विधायकों की निष्क्रियता से प्रशासन हो रहा हावी!

(आगा खान)

कान्हीवाड़ा (साई)। स्थानीय गेहूँ खरीदी केंद्र कान्हीवाड़ा में मार्केटिंग सोसायटी बरघाट द्वारा किसानों से उनकी उपज खरीदी जा रही है। गेहूँ खरीदी के स्थान पर किसानों से ज्यादा तवज्जो व्यापारियों को दी जा रही है जिससे आम किसान ठगा सा महसूस कर रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गेहूँ खरीद केंद्र के प्रभारियों के द्वारा किसानों के गेहूँ को पहले खरीदने की बजाय व्यापारियों के द्वारा लाये जाने वाले माल को पहले तुलवाया जा रहा है। किसानों ने यह आरोप भी लगाया कि उनके द्वारा लाये गये गेहूँ पर कमीशन की माँग भी की जा रही है।

किसानों के अनुसार उनके द्वारा प्रभारियों की अनुचित माँग को पूरा नहीं किये जाने पर उनकी फसल को खराब बताकर या परिवहन में आने वाली समस्या के नाम पर उन्हें परेशान किया जा रहा है। इसके चलते किसानों को अपनी उपज को मजूबूरी में व्यापारियों को औने पौने दामों पर बेचने के लिये मजबूर होना पड़ रहा है।

किसानों ने यह आरोप भी लगाया कि खरीद केंद्र प्रभारियों के द्वारा व्यापारियों से सांठगांठ कर किसानों से 100 रूपये प्रति क्विंटल की राशि की माँग भी की जा रही है। व्यापारियों से गेहूँ तो खरीदा जा रहा है पर इस गेहूँ को किसानों से खरीदा जाना दर्शाया जा रहा है।

किसानों ने यह आरोप भी लगाया कि खरीद केंद्र में व्यापारियों के द्वारा किसानों से खरीदे गये गेहूँ में पिछले साल का खराब गेहूँ भी मिलाकर बेचा जा रहा है।

किसानों की मानें तो भीषण गर्मी के इस दौर में खरीद केंद्र में किसानों के लिये पीने के पानी तक का इंतजाम नहीं किया गया है। किसानों का आरोप है कि काँग्रेस सरकार के द्वारा किसानों के हित चिंतक होने का दावा किया गया था, किन्तु जिले के लखनादौन के काँग्रेसी विधायक योगेंद्र सिंह और बरघाट के काँग्रेसी विधायक अर्जुन सिंह काकोड़िया की निष्क्रियता के चलते प्रशासनिक अधिकारी हावी होते दिख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *