मतगणना की प्रत्येक टेबल पर रहेगा एक माईक्रो ऑब्जर्वर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। मतगणना की समूची प्रक्रिया पर निगरानी के लिये भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुसार प्रत्येक गणना मेज पर एक माईक्रो ऑब्जर्वर को भी तैनात किया जायेगा। ये माईक्रो ऑब्जर्वर गणना सहायक और गणना सुपरवाईजर के अलावा होंगे। माईक्रो ऑब्जर्वर केन्द्र सरकार या केन्द्र सरकार के सार्वजनिक उपक्रमों का अधिकारी या कर्मचारी ही होगा। माईक्रो ऑब्जर्वर उस मेज की मतों की गणना की परिशुद्धता के लिये जिम्मेदार होगा जिस मेज पर उसे तैनात किया जायेगा।

निर्वाचन आयोग के मुताबिक माईक्रो ऑब्जर्वर के रूप में तैनात कर्मचारी ईव्हीएम द्वारा प्रदर्शित प्रत्येक दौर के गणना किये जा रहे मतों का ब्यौरा उन्हें दिये गये मुद्रित उस प्रारूप में दर्ज करेंगे जिसमें कंट्रोल यूनिट नंबर, चक्र नंबर, मेज नंबर, मतगणना केन्द्र नंबर तथा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के नामों का उल्लेख होगा। माईक्रो ऑब्जर्वर को इस बारे में बकायदा प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

निर्वाचन आयोग ने गणना मेजों के अलावा प्रत्येक गणना हॉल में दो अतिरिक्त माईक्रो ऑब्जर्वर को तैनात करने के निर्देश भी दिये हैं। इनमें से एक प्रत्येक अभ्यर्थी के लिये दर्ज मतों के चक्रवार संकलन के लिये मतगणना हॉल में रखे गये कम्प्यूटर में डाटा एंट्री पर निगरानी रखेगा तथा यह सुनिश्चित करेगा कि सभी प्रविष्टियां डाटा एंट्री आपरेटर द्वारा सही ढंग से डाली गयी हैं। जबकि दूसरा माईक्रो ऑब्जर्वर निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक को सहायता प्रदान करेगा तथा गणना के चक्रवार दर्ज आंकड़ों के कम्प्यूटर से लिये गये प्रिंट आउट से यह जाँच करेगा कि दर्ज किये गये सभी आँकड़े सही और पूर्ण हैं।

निर्वाचन आयोग के मुताबिक ऐसी प्रत्येक मेज पर भी एक माईक्रो ऑब्जर्वर को नियुक्त किया जाना होगा जिस मेज का इस्तेमाल डाकमत पत्रों की गणना के लिये किया जायेगा। चूंकि माईक्रो ऑब्जर्वर निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षकों के नियंत्रण में रहेंगे इसलिये ये अपनी रिपोर्ट सीधे आयोग के प्रेक्षकों को ही देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *