…और मयखाना बन गये खाली प्लाट

 

 

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। पीआरओ कार्यालय से डालडा फैक्ट्री मार्ग पर देशी शराब दुकान के आजू बाजू के प्लाट इन दिनों मयखाने में तब्दील हो गये हैं। मयजदे सूर्यास्त का इंतजार किये बिना ही खुले प्लाट पर घेरा बनाकर, बैठे-बैठे जाम टकराते नजर आते हैं।

उल्लेखनीय है कि पॉलीटेक्निक कॉलेज से ज्यारत जाने वाले मार्ग पर पड़ने वाली देशी शराब दुकान के आसपास काफी तादाद में खाली प्लाट पड़े हुए हैं। गर्मी के इस मौसम में मयजदों के द्वारा शराब दुकान के अहाते से बेहतर खुले में शराब पीना समझा जाता है।

बताया जाता है कि यहाँ दर्जनों की तादाद में टोलियां बैठकर सुरा का सेवन करती हैं। इन प्लाट्स पर खाली डिस्पोजेबल, बीड़ी सिगरेट के पैकेट, शराब की खाली बोतलें और पाऊच आदि यहाँ होने वाली शराबखोरी की चुगली करते दिख जाते हैं। पुलिस भी इस स्थान पर जाकर मयजदों को खुले में शराब पीने से रोकती नजर नहीं आती है।

बताया जाता है कि जब सुरूर चढ़ता है तो सुरा के शौकीनों के द्वारा आती जाती महिलाओं को देखकर फिकरे भी कसे जाते हैं। इस शराब दुकान के सामने ही भारत संचार निगम लिमिटेड की रिहायशी कॉलोनी है तो एक ओर वन विभाग के आला अधिकारियों के निवास भी हैं।