खुदा की इबादत में बीता आधा रमज़ान माह

 

 

31 मई को अदा होगी इस रमज़ान के अंतिम जुमे की नमाज़

(सादिक खान)

सिवनी (साई)। रहमतों व बरकतों का माह – ए – रमज़ान पूर्णता की ओर अग्रसर है। दूसरे अशरे के पाँच रोज़े पूरे हो गये हैं। इस प्रकार रमज़ान माह के 16 दिन रोज़ेदारों ने पूरे कर लिये हैं।

इबादत के साथ अब लोग ईद की खरीददारी के लिये बाजारों की ओर रूख कर रहे हैं। इस बार मुकद्दस रमज़ान माह का अंतिम जुमा शुक्रवार 31 मई को होगा। बुधवार 05 जून को रमज़ान की अंतिम नमाज़ संपन्न हो सकती है। इसके अगले दिन 06 जून को ईद की नमाज़ होने की उम्मीद है। रमज़ान माह पाँच जून को पूर्ण हो सकता है एवं 06 जून को ईदुल फितर की नमाज़ होने की उम्मीद है।

भरी गर्मी में रोज़ेदारों के द्वारा खुदा की इबादत करते हुए रोज़े रखे जा रहे हैं। इसके तहत सुबह सेहरी के उपरांत शाम को इफ्तार के समय तक कुछ भी खाना पीना वर्जित होता है। रोज़ेदारों द्वारा कठिन तपस्या करते हुए रोज़े रखे जाकर अल्लाह की इबादत में दिन गुजारे जा रहे हैं।

माहे रमज़ान चल रहा है। इस दौरान मुस्लिम समाज के लोग भीषण गर्मी के बीच रोजे रख रहे हैं। गर्मी के बाद भी रोज़ेदारों का उत्साह कम नहीं हो रहा है। रमज़ान के दौरान मस्ज़िद में जाकर लोग पाँच वक्त की नमाज़ पढ़ रहे हैं। शाम को बड़ी संख्या में लोग मस्जिद पहुँचकर रोज़े को सब लोगों के साथ मिलकर खोल रहे हैं। स्थानीय जामा मस्ज़िद में रोज़ाना सुबह की नमाज़ के बाद लोगों को मौलाना साहब रोज़े का महत्व समझा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *