नौतपा के पहले दिन आग उगली सूरज ने!

 

 

चलीं गर्म हवाएं, लोग हुए गर्मी से हलाकान

(महेश रावलानी)

सिवनी (साई)। नौतपा के पहले ही दिन ही सूरज के तेवर तल्ख होते दिखे। असहनीय धूप और तेज गति से चल रही पश्चिमी हवा के कारण शुक्रवार 25 मई की दोपहर में लोग गर्मी से बेहाल रहे। पेड़, जल स्त्रोत विहीन और कांक्रीट से निर्मित मुख्य शहर के तापमान की यदि हरियाली वाले क्षेत्रों से तुलना की जाये तो सिवनी शहर में ज्यादा तपन महसूस की गयी।

ज्ञातव्य है कि इस बार ज्योतिषाचार्यों के द्वारा भी गर्मी में सूरज के तेवर तल्ख होने की उम्मीद जतायी गयी थी। शनिवार 25 मई को दोपहर में चल रहीं गर्म हवाओं के बीच सड़कें लगभग सूनी ही नजर आयीं। इस दौरान जो लोग दोपहर को सड़कों पर निकले भी वे गर्मी से बचने के पूरी तरह इंताजाम किये हुए ही नजर आये।

पृथ्वी के निकट पहुँचा सूर्य : ज्योतिषाचार्यों के अनुसार जब सूर्य रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करते हैं तब नौतपा आरंभ होता है। 24 मई और 25 मई की दरमियानी रात 12.53 बजे नौतपा आरंभ हुआ। नौतपा में सूर्य पृथ्वी के सबसे निकट होता है। इस कारण धरती ज्यादा तपती है। अभी सूर्य वृषभ राशि में है। वृषभ राशि का स्वामी शुक्र ग्रह सूर्य का शत्रु ग्रह है। सूर्य जब भी वृषभ राशि में होता है, तब मौसम असहनीय होता है। तेज गर्मी, अंधड़ चलने की संभावना रहती है।