आज से बदलेगा कुछ लोगों का समय!

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शनिवार और रविवार की दरमियानी रात आकाश में बड़ा परिवर्तन होने जा रहा है। इसके बाद अब कई लोगों में इसका असर साफ दिखायी देगा। दरअसल ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति को आकाश के ग्रह लगातार प्रभावित करते रहते हैं।

इसी सब के चलते कुण्डली का मानव जीवन में खास प्रभाव माना गया है। वहीं ग्रहों की निरंतर गति व्यक्ति के समय में भी परिवर्तन लाने का काम करती है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार ज्योतिष में मुख्य रूप से 09 ग्रहों को मान्यता है। ये सभी किसी न किसी रुप में हर किसी को प्रभावित करते हैं। एक ओर जहाँ चंद्र मन का कारक माना जाता है, वहीं सूर्य आत्मा का…

दरअसल शनिवार – रविवार की मध्यरात्रि यानि 0102 जून की रात सुबह 12 बजकर 19 मिनिट पर एक बड़ा परिवर्तन आकाश में होने जा रहा है। इसके चलते कुछ राशि वालों को खास लाभ तो कुछ को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस दौरान बुध मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे और 20 जून को रात 02 बजकर 30 मिनिट तक यहीं पर रहेंगे। यानि लगभग 20 दिनों के तक बुध मिथुन राशि में ही रहेंगे, जो कई मामलों में उठापटक की स्थिति भी उत्पन्न कर सकते हैं।

वहीं सबसे शानदार असर 15 जून के बाद तब होगा जब सूर्य भी इसी राशि में पहुँच जायेंगे। इसके चलते मिथुन राशि में बुधादित्य योग का निर्माण होगा।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार वैदिक ज्योतिष में बुध ग्रह को प्राकृतिक रूप से शुभ ग्रह माना गया है। हालांकि बुध ग्रह शुभ ग्रह के संपर्क में आने पर शुभ प्रभाव व अशुभ ग्रह के संपर्क में आने पर बुरे प्रभाव भी देने लगता है। बुध ग्रह को बुद्धि, वाणी, तर्क शक्ति, गणित, व्यापार आदि का कारक माना गया है।

वहीं बुध ग्रह को मिथुन और कन्या राशि का स्वामित्व प्राप्त है। वहीं बुध अश्लेषा, ज्येष्ठा और रेवती नक्षत्र के स्वामी होते हैं। बुध के शुभ प्रभाव वाले जातक आमतौर पर एक अच्छे वक्ता, तर्क शक्ति और गणितीय कार्यों में निपुण होते हैं।

बुध का असर : मान्यता है कि बुध हमारी प्रज्ञा के देवता हैं। इसी लिये यदि बुध अगर कुण्डली में शुभ ग्रहों के साथ विराजमान है तो जातक को जीवन में समृद्धि मिलती है।

वहीं आपकी कुण्डली में बुध अगर अनुकूल अवस्था में न हो तो आपको बुध से जुड़े उपाय करने चाहिये। ऐसा करने से जीवन में आ रही कई परेशानियां दूर हो जाती हैं।