लिद्दर नदी से पर्यटक गाइड ने बचाई 5 लोगों की जान

 

 

 

 

नहीं बचा सके खुद को

(ब्‍यूरो कार्यालय)

श्रीनगर (साई)। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के प्रसिद्ध पहलगाम रिसोर्ट में लिद्दर नदी से दो विदेशियों सहित पांच पर्यटकों को बचाने के बाद एक पर्यटक गाइड की जान चली गई। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणी कश्मीर जिले के मावुरा पहलगाम में राफ्टिंग पॉइंट पर शुक्रवार को अचानक तेज हवाओं के झोंके के चलते नौका पर सवार सभी यात्री लिद्दर नदी में गिर गए।

दो विदेशियों समेत पांच को बचाया

उन्होंने बताया कि पर्यटक गाइड रऊफ अहमद डार अपनी सुरक्षा की परवाह किए बिना सभी पर्यटकों को नदी के तेज बहाव वाले पानी से बचाने में जुट गए। डार ने सभी को तो बचा लिया लेकिन इस कोशिश में उनकी जान चली गई। अधिकारियों ने बताया, ‘डार ने बिना देर किए तुरंत बचाव कार्य शुरू कर दिया और दो विदेशियों सहित पांच पर्यटकों को सफलतापूर्वक बचा लिया। पर, खुद तेज बहाव में बह गए। जानकारी मिलते ही राज्य आपदा मोचन बल, पुलिस और स्थानीय लोगों की टीमों ने बचाव अभियान शुरू कर दिया।

शव परिजनों को सौंपा

अधिकारियों ने कहा कि बहादुर पर्यटक गाइड का शव शनिवार की सुबह में भवानी पुल के पास नदी से निकाला गया। अधिकारियों के मुताबिक सभी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद गाइड का शव उनके परिजनों को सौंप दिया गया।

बहादुरी पुरस्कार की सिफारिश

उन्होंने बताया कि अनंतनाग के उपायुक्त ने डार के लिए बहादुरी पुरस्कार की सिफारिश की है। मुख्य सचिव ने भी उनकी बहादुरी की प्रशंसा की और जिला प्रशासन को डार के परिवार का समर्थन करने का निर्देश दिया है।