दशक बीता, नहीं बन पाया बस स्टैण्ड!

 

(टूप सिंह पटले)

अरी (साई)। अरी के समीप गंगेरूआ में लगभग दस सालों में भी बस स्टैण्ड के निर्माण का कार्य पूरा नहीं हो सका है। बस स्टैण्ड का निर्माण दस सालों पहले आरंभ हुआ था, जो आज भी जैसा का तैसा ही पड़ा हुआ है। बस स्टैण्ड के निर्माण के लिये एक ट्रस्ट का गठन भी किया गया था, किन्तु इसके बाद भी बस स्टैण्ड का निर्माण नहीं कराया जा सका है।

ग्राम वासियों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि श्रीराम चन्द्र मंदिर ट्रस्ट धपारा (गंगेरुआ) के द्वारा लगभग 10 साल पहले बस स्टैण्ड निर्माण की प्रकिया चालू की गयी थी लेकिन अभी तक बस स्टैण्ड का निर्माण कार्य अपूर्ण पड़ा हुआ है। ट्रस्ट समिति द्वारा सन् 2008 में बस स्टैण्ड व कॉम्प्लेक्स निर्माण की योजना बनायी गयी।

ग्रामीणों की मानें तो इसके तहत यहाँ सौ दुकान बनाये जाने की योजना के चलते व्यापारियों से 20-20 हजार रुपये अमानत राशि भी ले ली गयी और 15 फीट लंबाई व 10 फीट चौड़ाई के हिसाब से खाली प्लाट आवंटित कर दिये गये। इसमें 100 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से अतिरिक्त किराया भी ले लिया गया था।

इसके साथ ही ग्राम वासियों ने बताया कि यहाँ विधायक निधि से यात्री प्रतिक्षालय का निर्माण भी कराया जा चुका है। यात्री प्रतिक्षालय का उपयोग भी यात्री नहीं कर पा रहे हैं। इसका कारण यह है कि यहाँ फिलहाल कबाड़ भरा है और मवेशियों को बाँधा जा रहा है। ट्रस्ट की जमीन पर अतिक्रमण व कचरा के अलावा, और कुछ नज़र नहीं आता है।

ग्राम वासियों ने बताया कि बस स्टैण्ड निर्माण की प्रक्रिया भी कई बार विवादों के घेरे में है। इसके चलते ट्रस्ट समिति के सदस्यों के द्वारा उक्त निर्माण कार्य को ठण्डे बस्ते में डाल दिया गया है। वहीं जिन लोगों ने कर्ज लेकर प्लाट की राशि दी, ऐसे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इन परिस्थितियों के चलते प्लाट धारियों में खासा रोष और असंतोष व्याप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *