32 शासकीय सेवक बिना पूर्व अनुमति अनुपस्थित पाये गये

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। कलेक्टर प्रवीण सिंह द्वारा 12 जून को इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। कलेक्टर द्वारा बार-बार निरीक्षण के दौरान हिदायत देने पर भी निरीक्षण के दौरान 32 शासकीय सेवक बिना पूर्व स्वीकृति, अनुमति के कार्यालय में अनुपस्थित पाये गये।

सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार इनमें संजय तिवारी सहायक ग्रेड-2, टी.आर. चन्द्रवंशी सहायक ग्रेड -2, राकेश मोहन श्रीवास्तव फार्मासिस्ट, व्ही.एस. ठाकुर सहायक ग्रेड-3, अजय कटरे सहायक ग्रेड-3, एस.एल.भलावी सहायक ग्रेड-3, श्रीमती भावना गेडाम सहायक ग्रेड-3, श्रीमती रजनी अशोक बवरे, सहायक ग्रेड-3, हिमांशु चौकसे सहायक ग्रेड-3, प्रेम प्रताप सिंह राजपूत सहायक ग्रेड-3, रमेश कुशराम सहायक ग्रेड-3, एस.के. खरे सूचना सहायक, अरिंजय दयाल मेकेनिक रेफ्रीजरेटर, राजूलाल गुप्ता, वाहन चालक, शकील खान वाहन चालक, मस्तराम तुमराम वाहन चालक, राजेन्द्र कुमार कुशवाह वाहन चालक, श्रीमती भागवती डहेरिया भृत्य, मनोज कुमार साहू भृत्य, प्रवीण कुमार तिवारी भृत्य, संतोष कुमार यादव फर्रास, गोमरलाल परते चौकीदार, उमेश बिसेन एम.एण्ड ई., श्रीमती दीप्ति बोहरे उपयंत्री, संदीप श्रीवास डी.सी.एम. धीरजपाल डीइओ, श्रीमती शैलजा तिवारी डाटा मेनेजर टीकाकरण, राजेन्द्र कुमार साहू डी.ई.ओ., दीपक भालेकर डी.ई.ओ., अतुल बघेल सपोर्ट स्टाफ, अनुरोग दुबे डी.आई.सी. मेनेजर, श्रीमती कृष्णा साहू लेखापाल अनुपस्थित पाये गये।

इनका यह कृत्य म.प्र.सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के नियम 3 (1) (2) (3) का उल्लंघन है जो कदाचरण की श्रेणी में आता है। इन्हें 12 जून का एक दिन का वेतन अवैतनिक किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *