बिजली के खंबों की ऊँचाई बढ़ाये जाने की आवश्यकता!

बिजली के खंबों की ऊँचाई बढ़ाये जाने की आवश्यकता!

विद्युत विभाग से मैं इस स्तंभ के माध्यम से अपील करना चाहता हूँ कि उसके द्वारा सिवनी की अंदरूनी सड़कों पर वर्षों से स्थापित किये गये खंबों की ऊँचाई को बढ़ाये जाने की दिशा में तुरंत कदम उठाये जायें।

नियम विरूद्ध तरीके से पिछले कुछ वर्षाें में सिवनी की सड़कों का निर्माण किये जाने के कारण, इन सड़कों की ऊँचाई काफी ज्यादा उठ चुकी है। इसके कारण इन सड़कों के किनारे लगे बिजली के खंबे अब बहुत छोटे नजर आने लगे हैं। सड़कों की ऊँचाई बढ़ जाने के कारण इन खंबों पर लगे तार स्वमेव काफी नीचे आ गये हैं।

सिवनी शहर के अंदर निम्नतम ऊँचाई पर बिजली के तार होने के कारण ये कभी भी किसी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकते हैं। आश्चर्य जनक बात तो यह है कि सिवनी की सड़कों की ऊँचाई लगातार बढ़ती गयी और वर्तमान में भी बढ़ती ही जा रही है लेकिन विद्युत विभाग का ध्यान इस ओर नहीं जा रहा है कि सड़कों के किनारे लगे खंबे पहले की अपेक्षा काफी छोटे हो चुके हैं।

इन खंबों पर झूलते तार किसी बड़ी दुर्घटना को आमंत्रण देते प्रतीत होते हैं। देखने वाली बात यह भी है कि सिवनी शहर के अंदर भारी वाहनों के प्रवेश के लिये नो एंट्री का समय तो निर्धारित है लेकिन ये भारी वाहन जब इच्छा होती है तब सिवनी शहर में प्रवेश कर जाते हैं। माल वाहक वाहन जब माल भरकर शहर की अंदरूनी सड़कों से होकर गुजरते हैं तब इन वाहनों में अक्सर ही एक कारिंदा ऐसा दिखायी दे जाता है जो बाँस के सहारे बिजली के झूलते तारों को वाहन में भरे सामान से स्पर्श होने से बचाता रहता है।

इस तरह के प्रयास खतरनाक साबित हो सकते हैं लेकिन अत्यंत कम ऊँचाई पर झूलते तारों के बीच से वाहन गुजारने के लिये और कोई विकल्प इनके पास रह भी नहीं जाता है। कम ऊँचाई पर बिजली के तार होने के कारण बिजली चोरी की संभावनाएं भी कई गुना बढ़ जाती हैं। एक तरफ तो बिजली विभाग बिजली चोरी को रोकने के लिये तरह-तरह के जतन करता है वहीं उसके द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जाता है कि बिजली चोरी के लिये अनुकूल परिस्थितियां, बिजली विभाग की लापरवाही के कारण लगातार बनी हुई हैं।

बिजली के खंबे काफी नीचे आ जाने के कारण इन पर फैला तारों का जाल, सड़क पर ही बिछा हुआ नज़र आता है इसके कारण शहर की सुंदरता भी कई गुना प्रभावित होती है। हाल ही में कटंगी नाका क्षेत्र में जिस तरह से बिजली के खंबों को बदला गया है, उसी तरह आवश्यकता है कि शहर के अन्य हिस्सों में भी बिजली के खंबे बदल दिये जायें। बिजली विभाग के आला अधिकारियों से अपेक्षा ही की जा सकती है कि उनके द्वारा पर्याप्त ऊँचाई लिये हुए खंबों के महत्व को ध्यान में रखा जायेगा और शहर की सड़कों पर इन्हें शीघ्र अतिशीघ्र अवश्य ही स्थापित किया जायेगा।

मनोज गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *