फर्जी पुलिसिया महिला धराई

 

 

 

 

पुलिसकर्मी पत्नी की वर्दी प्रेमिका को पहनाकर की अवैध वसूली, पत्नी ने पहुंचाया हवालात

(ब्‍यूरो कार्यालय)

इंदौर (साई)। महिला प्रधान आरक्षक के पति ने प्रेमिका को पत्नी की वर्दी और फर्जी आईडी कार्ड दे दिए। इसके बाद दोनों मिलकर अवैध वसूली करने लगे। महिला प्रधान आरक्षक को जब इसकी भनक लगी तो पहले उसने दोनों के खिलाफ सबूत जुटाए और बाद में क्राइम ब्रांच को शिकायत कर गिरफ्तार करवा दिया। पुलिस ने उनके पास से वर्दी, फर्जी आईडी कार्ड बरामद किए हैं।

मामला आजादनगर थाने का है। पुलिस ट्रेनिंग स्कूल (पीटीएस) में पदस्थ प्रधान आरक्षक लीना राय की शिकायत पर शुक्रवार रात उसके पति जितेंद्र राय (36) और उसकी प्रेमिका संगीता निवासी मूसाखेड़ी को गिरफ्तार किया गया। संगीता खुद को पुलिसकर्मी लीना राय बताती थी। वह जितेंद्र के साथ लीना की वर्दी पहनकर घूमने जाती थी। दोनों लोगों पर रौब झाड़कर वसूली भी करते थे।

कुछ दिनों पहले लीना को शिकायत मिली कि कोई उसके नाम से वसूली कर रहा है। उसने छानबीन की तो पति और उसकी प्रेमिका की करतूत पता चली। इस पर वह क्राइम ब्रांच अफसरों से मिली और दोनों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा दी।

टीआई संजय शर्मा के मुताबिक जितेंद्र ट्रेवल एजेंट है। संगीता केटरिंग का काम करती है। 5 वर्ष पूर्व एक कार्यक्रम में दोस्ती हुई थी। दोनों एक दूसरे से प्रेम करने लगे। जितेंद्र ने मूसाखेड़ी में भी घर ले लिया और संगीता के साथ रहने लगा। संगीता भी शादीशुदा है, लेकिन वह जितेंद्र के साथ रहने लगी। कुछ दिनों पूर्व छानबीन के दौरान लीना ने जितेंद्र के मोबाइल में दोनों के फोटो देख लिए।

जानकारी जुटाई तो पता चला संगीता खुद को प्रधान आरक्षक लीना राय बता कर जितेंद्र के साथ घूमती है। उसके आईडी कार्ड पर खुद का फोटो लगा रखा है। लीना ने उसके फोटो, आईकार्ड आदि निकाले और एएसपी अमरेंद्र सिंह को शिकायत कर दी। दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।