04 कमरों का स्कूल, 10 कक्षाएं संचालित!

 

शिक्षा विभाग के नियमों की उड़ायी जा रहीं धज्जियां

(जाहिद शेख)

कुरई (साई)। शिक्षा विभाग में रोज नये नियम बनते है और रोज इन नियमों की धज्जियां उड़ायी जाती है जहाँ एक ओर शासकीय भवनों का अभाव है वहीं दूसरी ओर पंचायत भवन में खैरात में निजि शाला संचालित की जा रही है। यह शाला एक-दो वर्षाें से नहीं बल्कि लगभग 20 वर्षाें से संचालित की जा रही है।

इस ओर न तो विकास खण्ड कुरई के बीआरसीसी का ध्यान गया और न ही जनपद पंचायत के सीईओ ने सुध लेना उचित समझा। प्राप्त जानकारी के अनुसार कुरई विकास खण्ड की ग्राम पंचायत बेलपेठ में स्थित बाजार में पंचायत के पुराने भवन में लंबे समय से विवेकानंद माध्यमिक शाला का संचालन किया जा रहा है।

गौर करने वाली बात यह है कि इस शाला की अनुमति किसी शासकीय कर्मचारी ने नही बल्कि गाँव के रसूखदार लोगों ने दी है। शाला संचालक द्वारा इसके एवज़ में अपने स्वार्थ के लिये भवन की थोड़ी सी मरम्मत करवा दी जाती है। इससे पंचायत को अतिरिक्त किसी प्रकार की आय नहीं है।

उल्लेखनीय है कि कक्षा पहली से आठवीं तक लगभग 10 कक्षाएं यहाँ पर लगती हैं लेकिन इस पंचायत भवन में मात्र 04 कमरे है और एक बरामदा है जबकि शाला में मान्यता के दौरान यह उल्लेख करना अनिवार्य होता है कि शाला में स्टॉफ रूम एवं प्राचार्य कक्ष अतिरिक्त हों। यहाँ पर नियमों को ताक पर रखकर कैसे मान्यता प्रदान कर दी गयी यह लोगों की समझ से परे ही बना हुआ है।

इसी तरह इस शाला के बारे में सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है कि आसपास के अनेक स्कूलों में नवमीं एवं दसवीं की मान्यता न होने के बाद भी शाला संचालित की जाती है। उन शालाओं की टीसी, बेलपेठ के विवेकानंद माध्यमिक शाला से प्रदान की जाती है। हाल ही में कुछ दिन पूर्व ग्राम सापापार निवासी एक दिव्यांग छात्र को इसी शाला से टीसी दे दी गयी, जिसको लेकर अभिभावक ने विरोध किया था। इस मामले को लेकर आज तक कार्यवाही प्रतीक्षित ही है।

सूत्रों का कहना है कि बादलपार में संचालित सेफायर पब्लिक स्कूल में कोचिंग के नाम पर 9वीं, 10वीं का अध्यापन कार्य स्कूल समय पर कराया जाता है और बाद में उन्हें इसी शाला से परीक्षा के उपरांत टीसी, विवेकानंद स्कूल बेलपेठ से दिलवायी जाती है जो सरासर शिक्षा विभाग की नियमों की धज्जियां उड़ाने जैसा मामला है। इसको लेकर बीआरसीसी एवं जनपद पंचायत कुरई की कार्यप्रणाली पर सवाल उठते दिख रहे हैं।

बादलपार में संचालित सेफायर स्कूल के निरीक्षण के दौरान 9वीं, 10वीं की कक्षा स्कूल समय पर लगने को लेकर हिदायद दी गयी थी और आगे जो मामले मेरे संज्ञान में आये है उसकी जाँच की जायेगी.

चित्तौड़ सिंह कुशराम

बीआरसीसी, कुरई.

मेरे संज्ञान में पंचायत भवन में संचालित प्राईवेट स्कूल की बात आपके द्वारा लायी गयी है. मैं स्वयं इस मामले में जाकर देखूंगा और किन शर्ताें पर इस शाला का संचालन किया जा रहा है, इस संबंध में सरपंच, सचिव से बात करूंगा.

अजय गौतम,

जनपद सीईओ, कुरई.

3 thoughts on “04 कमरों का स्कूल, 10 कक्षाएं संचालित!

  1. Pingback: 안전공원
  2. Pingback: togel online

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *