श्रावण में धर्मनगरी में हो रहे आयोजन

 

(ब्यूरो कार्यालय)

छपारा (साई)। जिले में धर्म नगरी के नाम से एक अलग पहचान रखने वाले छपारा का एक अपना ऐतिहासिक महत्व है, सावन मास लगते ही नगर में विभिन्न धार्मिक आयोजनों की शुरूआत हो गयी है।

सर्वधर्म, सदभावी धर्म नगरी के जैन समाज को लगातार तीसरी बार पावन चातुर्मास का आशीर्वाद परम पूज्य तपोनिष्ठ महासंत आचार्य श्री विद्यासागर से प्राप्त हो चुका है। यहाँ वर्तमान में विराजमान आर्यिका रत्न वंदनीय दृढ़मति माता का ससंघ पावन चातुर्मास कलश स्थापना गुरुवार को भव्य समारोह के साथ संपन्न हुई।

इस माँगलिक कार्यक्रम को अपने कुशल निर्देशन में संपन्न कराने बह्मचारी प्रदीप कुमार अशोक नगर से यहाँ पहुँचे। सर्वप्रथम पूजन के पश्चात यह मंगल कलश यात्रा पूरे भव्यता के साथ जैन मंदिर से निकलकर नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए बस स्टैण्ड पहुँची और वापस यथा स्थान पहुँचकर उन्होंने इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाया।

यहाँ उल्लेखनीय है कि माताजी के ससंघ चातुर्मास से नगर और समाज में उत्साह देखते ही बन रहा था। तीसरी बार आर्यिका दृढ़मति माताजी का चातुर्मास नगर में हो रहा यह परम सौभाग्य माना जा रहा है। 2001 में पहला चातुर्मास, 2014 में दूसरा और वर्तमान में यह तीसरा चातुर्मास यहाँ पर संपन्न होगा।

श्रीराम कथा का आयोजन 18 से 24 तक : वही धर्मनगरी छपारा में सावन मास के पावन अवसर पर 18 जुलाई से लेकर 24 जुलाई तक श्रीराम कथा का आयोजन किया जा रहा है जिसको लेकर आयोजक समिति विगत कई दिनों से तैयारियों में जुटी थी।

18 जुलाई को नगर के बस स्टैण्ड स्थित शिवगौरी मंदिर से एक विशाल शोभायात्रा राम मंदिर के लिये निकाली गयी जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल रहे। आयोजक समिति ने बताया कि यह आयोजन राम मंदिर में किया जा रहा है जिसमें राम कथा का वाचन दिव्यांशु महाराज करेंगे। इस आयोजन में सभी को बड़ी संख्या में पहुँचने के लिये आयोजक समिति के द्वारा अपील की गयी है।