लता बाई के घर पकड़ाया बड़ा सट्टा!

 

 

कोतवाली की बजाय डूण्डा सिवनी थाना ने की कार्यवाही!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। सट्टा क्वीन के नाम से मशहूर लता बाई कुल्हाड़े के सिवनी में भगत सिंह वार्ड स्थित निवास पर डूण्डा सिवनी पुलिस के द्वारा दबिश दी जाकर बड़ा सट्टा पकड़ा गया है। इस कार्यवाही में लता बाई सहित दस आरोपियों को भी पुलिस ने अपना मेहमान बनाया है।

पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक को सूचना मिल रही थी कि कोतवाली थाना क्षेत्र में लता बाई के निवास पर सट्टे का बड़ा कारोबार चल रहा है। कोतवाली पुलिस के द्वारा इस पर किसी तरह का एक्शन न लिये जाने पर इस मामले में पुलिस अधीक्षक के द्वारा डूण्डा सिवनी थाना प्रभारी को कार्यवाही के निर्देश दिये गये।

सूत्रों ने बताया कि डूण्डा सिवनी थाना प्रभारी जितेंद्र गढ़वाल के नेत्तृत्व में लगभग एक दर्जन महिला और पुरूष पुलिस कर्मियों के द्वारा लता बाई के घर छापा मारा गया। इस छापे की कार्यवाही में पुलिस को मोबाईल, केल्कुलेटर, सट्टे की पर्चियां और 19 हजार 100 रूपये मिले। मौके से लगभग आधा दर्जन से ज्यादा लोग फरार हो गये।

सूत्रों ने बताया कि मौके पर दबिश देने गया पुलिस बल सिविल ड्रेस में था। पहले महिला पुलिस कर्मियों के द्वारा लता बाई के निवास के सामने एक कंप्यूटर दुकान पर जाकर कंप्यूटर के बारे में पतासाजी करते हुए लता बाई के घर का बाहर से मुआयना किया गया।

सूत्रों ने आगे बताया कि इसके बाद सही समय पर पुलिस के द्वारा लता बाई के घर पर छापा मारा गया। इस छापे में लगभग आधा दर्जन से ज्यादा लोग मौके से भागने में भी सफल हो गये बताये जा रहे है। लता बाई लंबे समय से सट्टे के कारोबार में लिप्त बतायी जा रही हैं। डूण्डा सिवनी पुलिस के द्वारा इस मामले की कायमी शून्य में की जाकर मामला कोतवाली पुलिस को सौंप दिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि लता बाई उस समय चर्चाओं में आयी थी जब लता बाई और तत्कालीन नगर निरीक्षक आर.के. दुबे के बीच कथित तौर पर हुए वार्तालाप की ऑडियो क्लिप उजागर हुई थी। इस क्लिप में नहा धोकर आना वाला जुमला उस समय जमकर चर्चित भी हुआ था।