धान उत्पादक क्षेत्र में शीघ्र मिलेगी 10 घण्टे बिजली

 

 

किसानों की समस्या पर सांसद ने लिया संज्ञान

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। बालाघाट सांसद डॉ.ढाल सिंह बिसेन ने अपने बालाघाट एवं सिवनी प्रवास के दौरान धान उत्पादक किसानों को बिजली की हो रही परेशानी पर स्वतः संज्ञान लेते हुए पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के सीएमडी व्ही.किरण गोपाल से चर्चा कर धान उत्पादक क्षेत्र में लगातार 10 घण्टे बिजली की आपूर्ति की माँग रखी।

धान उत्पादक किसानों की समस्याओं के मद्देनज़र विद्युत कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध संचालक (सीएमडी) व्ही.किरण गोपाल द्वारा आश्वासन दिया गया कि एक दो दिन के अंदर लगातार 10 घण्टे बिजली देने की व्यवस्था कर दी जायेगी।

ज्ञातव्य है कि बालाघाट एवं सिवनी जिले का बहुत बड़ा रकबा धान उत्पादक है। धान की रोपाई करने एवं रोपा बचाने के लिये किसान को लगभग 10 घण्टे लगातार बिजली की जरूरत पड़ती है। वर्तमान में विद्युत कंपनी द्वारा किश्त में 06 और 04 घण्टे बिजली की सप्लाई की जा रही है, जिससे धान का रोपा प्रभावित हो रहा है।

इसके साथ साथ ही जहाँ रोपाई कार्य चल रहा है, वहाँ भी दिक्कतंे आ रही हैं। अपने दौरे के दौरान धान के खेतों का अवलोकन करने पर डॉ.ढाल सिंह बिसेन के संज्ञान में यह बात स्वतः आयी और उन्होंने किसानों से कारण पूछा तो पता चला कि उन्हें लगातार बिजली नहीं मिल रही है।

इसके बाद उन्होंने पूर्व विद्युत वितरण कंपनी के सीएमडी व्ही.किरण गोपाल से चर्चा कर उन्हें समस्या से अवगत कराया। सीएमडी द्वारा आश्वासन दिया गया कि एक दो दिन में समस्या का समाधान हो जायेगा और किसानों को 10 घण्टे लगातार बिजली मिलने लगेगी।

बालाघाट प्रवास के दौरान लांजी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत लामटा, समनापुर सहित आस पास के अन्य गाँवों के किसानों के प्रतिनिधि मण्डल ने डॉ.बिसेन को विद्युत सप्लाई की समस्या से अवगत कराया। डॉ.बिसेन द्वारा मौके पर ही विद्युत वितरण कंपनी बालाघाट वृत्त के अधीक्षण अंभियंता, कार्यपालन यंत्री से चर्चा की गयी।

अधिकारियों द्वारा बताया गया कि सब स्टेशन नहीं होने के कारण विद्युत आपूर्ति बार – बार बाधित हो रही है। डॉ.बिसेन ने विद्युत कंपनी के सीएमडी से इस संबंध में चर्चा कर लामटा समनापुर में सब स्टेशन खोले जाने की आवश्यकता बतायी। सीएमडी द्वारा शीघ्र ही प्रक्रिया पूरी कर सब स्टेशन खोलने पर सहमति व्यक्त की गयी।

सांसद के निज सहायक सतीश ठाकरे ने बताया कि इसी तरह खैरलांजी विकास खण्ड अंतर्गत रामपायली गाँव के लोगों के द्वारा समस्या रखी गयी कि उन्हें दाह संस्कार हेतु लकड़ी नहीं मिल रही है। वन विभाग के अधिकारी केवल आश्वासन ही दे रहे है, जिससे दाह संस्कार हेतु काफी महंगी और मुश्किल में लकड़ी का इंतजाम हो पा रहा है।

सांसद डॉ.बिसेन द्वारा तुरंत ही वनमण्डल अधिकारी श्री अंसारी से चर्चा कर समस्या के तुरंत निदान की बात कही गयी। डीएफओ श्री अंसारी द्वारा तुरंत 200 चट्टे रामपायली पहुँचाने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये गये, जिससे शाम तक लकड़ी रामपायली पहुँच गयी।