पतंजलि की सीएंडएफ के नाम से 50 लाख की धोखाधड़ी

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। कैंट क्षेत्र में दो भाइयों को पतंजलि की सीएंडएफ (कैरिंग एंड फारवडिंग) दिलाने का झांसा देकर उनके साथी ने 50 लाख रुपए की धोखाधड़ी की। पुलिस ने मामला कायम कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

सदर मेन रोड निवासी प्रमेश कुमार सोनी ने शिकायत दर्ज कराई की उसकी आभूषण की दुकान है। तालावाली चांदा देवास नाका मंगलेया इंदौर निवासी संदीप अरगल से उसकी दोस्ती थी। संदीप की पूर्व में सदर कैंट में शैल मेडिकोज नाम से दुकान थी। सन्‌ 2015-16 में संदीप दुकान बंद करके चला गया था। लेकिन उससे फोन पर संपर्क बना हुआ था।

पतंजलि की सीएंडएफ में पार्टनरशिप

प्रमेश ने बताया कि संदीप ने उसे फोन कर पतंजलि की सीएंडएफ के बारे में जानकारी दी। साथ ही उसे और उसके भाई रजनीश को पार्टनर बनने के लिए कहा। वहीं सीएंडएफ के लिए 50 लाख रुपए मांगे। संदीप की बातों में आकर दोनों भाइयों ने 50 लाख रुपए सन्‌ 2016 में संदीप को दे दिए। लेकिन संदीप ने उसके और उसके भाई के पक्ष में किसी भी तरह के पतंजलि से संबंधित कोई दस्तावेज में लिखा पढ़ी नहीं की। जब संदीप से पूछा तो वह टालमटोल करने लगा। शंका होने पर संदीप से 50 लाख रुपए मांगे, लेकिन वह रुपए नहीं दे रहा है।

3 thoughts on “पतंजलि की सीएंडएफ के नाम से 50 लाख की धोखाधड़ी

  1. Pingback: Regression testing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *