नेताजी से जुडे दस्‍तावेज नहीं रूस के पास

 

 

 

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)

नई दिल्‍ली (साई)। रूस के पास नेताजी सुभाष चंद्र के वहां रहने से संबंधित कोई दस्तावेज मौजूद नहीं है। केंद्र सरकार ने बुधवार को लोकसभा में यह जानकारी दी।

विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने कहा कि सत्ता में आने के बाद एनडीए सरकार ने नेताजी से जुड़ी जानकारी के लिए रूस से कई बार संपर्क किया है, लेकिन मॉस्को सरकार ने बताया कि उसके पास नेताजी से जुड़े कोई भी दस्तावेज उपलब्ध नहीं है।

विदेश राज्य मंत्री वी.मुरलीधरन ने बुधवार को बताया कि रूस का कहना है कि उन्हें अपने आर्काइव में नेताजी के संबंध में कोई दस्तावेज नहीं मिले हैं। मुरलीधरन ने कहा कि भारत ने रूस से अनुरोध किया था कि क्या नेताजी 1945 से पहले या बाद में रूस में थे या वह अगस्त 1945 में या उसके बाद रूस से चले गए थे, जैसा कि कुछ शोधकर्ताओं ने दावा किया है।

विदेश राज्य मंत्री ने कहा, ‘अपने जवाब में रूसी सरकार ने कहा कि उन्हें अपने आर्काइव में नेताजी से जु़ड़े दस्तावेज नहीं मिले हैं। उनका कहना है कि भारत की तरफ से मिले अनुरोध के बाद अतिरिक्त जांच कराए जाने के बाद भी उन्हें कुछ नहीं मिला, उन्हें इस संबंध में और जानकारी देने के लिए कोई दस्तावेज नहीं मिले हैं।

जापानी सेना की मदद से ब्रिटेन के खिलाफ लड़ने के लिए बोस ने 1942 में आजाद हिंद फौजकी स्थापना की थी। ऐसा माना जाता है कि 18 अगस्त 1945 को ताइवान में एक हवाई दुर्घटना में उनकी मौत हो गई थी।