महिला स्पीकर पर आजम खान की टिप्पणी से हंगामा

 

 

 

 

अखिलेश ने किया बचाव

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान लोकसभा में तीन तलाक बिल को लेकर लोकसभा में बोलने खड़े हुए तो एक नए विवाद में घिर गए। उन्होंने उस समय सदन की अध्यक्षता कर रहीं रमा देवी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी, जिस पर हंगामा हो गया। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद समेत तमाम नेताओं ने आजम खान से माफी की मांग की। आजम की टिप्पणी से चेयर पर मौजूद रमा देवी भी असहज हो गईं और इसके बाद लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला ने खुद चेयर संभाल ली।

आजम जब अपनी बात रखने के लिए खड़े हुए तो उन्होंने कहा कि मुख्तार अब्बास नकवी कहां हैं, इस पर स्पीकर रमा देवी ने कहा कि आप इधर-उधर की बात न करें बल्कि चेयर की ओर देखकर अपना विषय रखें। इस पर आजम खान ने स्पीकर को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी, जिससे हंगामा हो गया और बीजेपी समात कई दलों के सांसद उनसे माफी की मांग करने लगे।

रविशंकर प्रसाद ने आजम से की माफी की मांग

इसके बाद उन्होंने नसीहत देते हुए कहा, ‘सदन की गरिमा बनाए रखना आपका काम है। कुछ भी आपत्तिजनक होगा तो मैं कहूंगा।रविशंकर प्रसाद ने आजम खान का विरोध करते हुए कहा कि यह बेहद आपत्तिजनक है, लोकसभा स्पीकर के लिए आज तक किसी ने इस तरह की टिप्पणी नहीं की होगी। वह भी महिला स्पीकर के लिए। उन्हें बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए।

फिर खुद ही लोकसभा से निकल गए आजम खान

अपनी टिप्पणी पर बरपे हंगामे के बाद आजम खान सफाई के लिए बोलने उठे तो बीजेपी के सांसदों ने उनसे माफी की मांग की। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘मेरी मंशा गलत नहीं थी। मैं महिला स्पीकर को अपनी बहन मानता हूं। इस दौरान बीजेपी सदस्य कुछ बोलने लगे तो आजम खान ने फिर से बिफरते हुए कहा कि जलालत के बीच कुछ भी बोलना ठीक नहीं। यह कहते हुए वह लोकसभा से ही बाहर निकल गए।

अखिलेश, कहा- भावना नहीं थी गलत

लोकसभा में हंगामे के बाद खुद समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव आजम खान के बचाव में उतरे। उन्होंने कहा, ‘आजम खान जब शेर की दो लाइनें कह रहे थे तो पीठ की ओर से कहा गया कि चेयर देखकर कहा जाए, लेकिन उन्होंने जो कहा उसकी भावना में कोई कमी नहीं थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *