अस्पताल के कॉरीडोर में घूम रहे आवारा मवेशी!

 

 

अस्पताल प्रबंधन की मश्कें नहीं कस पा रहे जिलाधिकारी!

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। प्रियदर्शनी जिला अस्पताल की व्यवस्थाएं पटरी पर लाने के लिये जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के द्वारा मई माह से अब तक लगभग दो दर्जन बार अस्पताल का निरीक्षण किया जा चुका है पर अस्पताल की व्यवस्थाएं सुधरने का नाम नहीं ले रही हैं। लोगों का कहना है कि अस्पताल में रंग रोगन, नये निर्माण करवाने की बजाय जो है उसे ही कम से कम सुधार दिया जाये।

ज्ञातव्य है कि जिला अस्पताल परिसर के अंदर आवारा श्वानों, गधों, मवेशियों का जमावड़ा लगना आम बात हो गयी है। बीते दिवस अस्पताल कॉरीडोर के अंदर आवारा श्वानों के स्वच्छंद विचरण करने से संबंधित फोटोज को समाचार एजेंसी अॅफ इंडिया और दैनिक हिन्द गजट के द्वारा प्रमुखता से प्रकाशित और प्रसारित किया गया था।

अस्पताल के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि सोमवार को जिला अस्पताल के वार्ड के सामने वाले कॉरीडोर में आवारा मवेशियों को घूमते देखा गया। इन आवारा मवेशियों के द्वारा कॉरीडोर में गंदगी भी फैलायी गयी। बाद में मरीज़ों के परिजनों ने ही इन्हें हकालकर बाहर किया।

सूत्रों का कहना है कि 28 जुलाई को जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के द्वारा जिला अस्पताल का निरीक्षण किया गया था। इसके अगले ही दिन इस तरह दिन में आवारा मवेशियों के विचरण को आखिर क्या माना जाये! अस्पताल के कॉरीडोर में अगर जानवर घूम रहे हैं तो सुरक्षा में तैनात कर्मचारी आखिर कर क्या रहे हैं!

सूत्रों ने कहा कि अस्पताल में प्रवेश के लिये दो ही द्वार हैं। एक पुरानी इमरजेंसी में स्थापित है तो दूसरा ओपीडी के कॉरीडोर में है। इसके अलावा प्राईवेट वार्ड की ओर का द्वार लगभग बंद ही रहता है। इसमा मतलब यही हुआ कि अस्पताल में अगर मवेशी या श्वान आदि प्रवेश कर रहे हैं तो इन्हीं दोनों द्वारों के जरिये ही वे अंदर घुस रहे हैं। इन्हें रोका नहीं जा रहा है इसका मतलब साफ है कि द्वार पर सुरक्षाकर्मी तैनात ही नहीं हैं।

सूत्रों का कहना है कि जिलाधिकारी के निरीक्षण के दौरान सुरक्षाकर्मी चाक चौबंद दिखायी देते हैं पर उसके बाद कहाँ गायब हो जाते हैं, यह बात शायद ही कोई जानता हो। सूत्रों ने इस बात के संकेत भी दिये हैं कि सुरक्षा के काम में लगी एक्समेन सिक्योरिटी सर्विस को ही अस्पताल की सफाई का ठेका देने का ताना बाना भी बुना जा रहा है।

3 thoughts on “अस्पताल के कॉरीडोर में घूम रहे आवारा मवेशी!

  1. Pingback: devops consultants

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *