सीपीआई ने भेजा नोटिस, डीईओ ने कराया तामील

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल भोमा के प्राचार्य एसआर डहेरिया के नाम लोक शिक्षण मप्र की आयुक्त जयश्री कियावत के हस्ताक्षर से कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।

विभागीय अधिकारियों एवं स्कूल प्राचार्यों को विभिन्न नियमों, विभागीय मुद्दों की जानकारी एवं नियमों और निर्देशों में समय-समय पर हो रहे परिवर्तन के बारे में 04 जुलाई से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नियमित अंतराल पर प्रशिक्षण के निर्देश शासन के आदेश पर जारी किये गये थे।

अपरिहार्य कारणों से यह प्रशिक्षण 04 जुलाई के बजाये 05 जुलाई को आयोजित किया गया था एवं प्रशिक्षण में प्राचार्यों एवं अधिकारियों की उपस्थिति अनिवार्य की गयी थी। इसके बावजूद प्राचार्य डहेरिया 05 जुलाई को हुए प्रशिक्षण में अनुपस्थित थे। इस पर प्राचार्य के कृत्य को वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अनदेखी करना, अपने उत्तरदायित्व के प्रति उदासीनता एवं गंभीर लापरवाही माना गया है। जो कि कदाचरण एवं अनुशासनहीनता की श्रेणी में आता है।

इसलिये मप्र सिविल सेवा नियम के अंतर्गत कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है। कि अनुशासनहीनता व कदाचरण के लिये क्यों न प्राचार्य की एक वेतनवृद्धि असंचयी प्रभाव से तत्काल रोकी जाये। प्राचार्य से कहा है कि अपना उत्तर सात दिवस के अंदर जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से प्रस्तुत करें। निर्धारित समय अवधि में आपका उत्तर प्राप्त न होने की स्थिति में एकतरफा कार्यवाही की चेतावनी दी गयी है।

डीइओ जीएस बघेल ने बताया कि विभागीय प्रशिक्षण से सम्बंधित बैठक में उपस्थिति अनिवार्य की गयी थी। उसमें उपस्थित ऑनलाइन दर्ज होती है। भोमा प्राचार्य की अनुपस्थिति होना पाया गया था, जिस पर भोपाल से नोटिस जारी हुआ है। पत्र सम्बंधित को भेजा गया है, जबाव अभी प्राप्त नहीं हुआ है।